Chhattisgarh

कमर्शियल माइनिंग के विरोध में श्रमिक संगठन के नेता उतरे सड़कों पर, पुलिस व्यवस्था बनाने में जुटी

कोरबा | शहर में कमर्शियल माइनिंग के खिलाफ श्रमिक संगठन विरोध प्रदर्शन कर हैं। देशभर में 72 घंटे की हड़ताल की जा रही है। इसका असर कोरबा शहर पर भी गुरूवार की सुबह सड़कों पर देखने को मिला। लाल झंडे लेकर श्रमिक संगठन के सदस्य और नेता सड़क पर नजर आए। काम पर जाने निकले लोगों को वापस भेजने की कोशिश करने लगे।

यह विरोध सयुंक्त श्रमिक संगठन कर रहे हैं। कमर्शियल मायनिंग और उसकी नीतियों को लेकर पहले भी श्रमिक संगठन विरोध करते रहे हैं। कोल इंडिया की कंपनी कोरबा में एस ई सी एल के 17 हजार कर्मचारियों में से अधिकांश हड़ताल में शामिल है। हड़ताल को सफल करने का प्रयास कर रहे कुसमुंडा में श्रमिक संगठन सीटू के राष्ट्रीय महासचिव वी एम मनोहर और सी आई एस एफ के अधिकारी व जवानों के बीच विवाद हो गया।

श्रमिक नेता सी आई एस एफ जवानों से कहते दिखे कि आप अपना काम करिए हम अपना काम कर रहे हैं। वही गेवरा खदान के पास भी आंदोलन करने वाले जब काम पर जा रहे  मजदूरों को रोकने  लगे तो  विवाद हुआ। हालांकि कुछ देर बाद माहौल शांत हो गया।

Leave a Reply