Chhattisgarh India

कोंडागांव में 53 हजार को व्यक्तिगत और 3409 लोगों को मिल चुका है सामुदायिक वन अधिकार पट्टा

एक साल के भीतर ही कोंडागांव जिले में किसानों ने 950 ट्रेक्टर खरीदे हैं। ये आंकड़े देखकर और सुनकर खुद छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भी हैरान हैं। कोंडागांव के माकड़ी ब्लाक में आयोजित भेंट मुलाकात कार्यक्रम के दौरान एक किसान ने जब बताया कि धान बेचकर राजीव गांधी न्याय योजना के अंतर्गत मिलने वाले पैसे से उसने ट्रेक्टर खरीदा है तो मुख्यमंत्री ने खुद ये आंकड़े बताए और ये भी कहा कि इससे किसानों की खुशहाल झलकती है। न्याय योजना से मिलने वाली राशि को अधिकतर किसान अपनी कृषि को उन्नत करने में खर्च कर रहे हैं ताकि वो पहले से भी बेहतर फसल ले सकें। इसके लिए किसान सिंचाई पंपों के लिए लगातार विदुत कनेक्शन की भी मांग कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने बताया कि अकेले कोंडागांव जिले से ही सिंचाई पंप के विद्युत कनेक्शन के लिए 5 हजार आवेदन आए हुए हैं, इनमें से 1466 आवेदन तो अकेले माकड़ी ब्लाक के ही हैं। माकड़ी में ही उपस्थित किसानों को हितैषी मुख्यमंत्री श्री बघेल ने तत्काल 1466 किसानों के सिंचाई पंप के लिए विद्युत कनेक्शन के आवेदन को स्वीकृत कर दिया ताकि सिंचाई के अभाव में किसान परेशान ना हों। इतना ही नहीं किसानों के हित में ही कोंडागांव में 53 हजार व्यक्तिगत वन अधिकार पट्टा तथा 3 हजार 409 सामुदायिक वन अधिकार पट्टों का वितरण किया गया है। इसके अतिरिक्त 107 सामुदायिक वन संसाधन के अधिकार भी किसानों को दिए गए हैं। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने किसानों के हितों के साथ खिलवाड़ करने वालों के लिए कहा कि समाज में ऐसे लोगों की कोई जगह नहीं है और किसानों के साथ धोखा करने वालों को जेल के भीतर रहना होगा।