jaisingh-agarwal-korba-inguration-18-march-2021
Chhattisgarh

रायपुर : राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने कोरबा में रखी विद्यालय के नवीन भवन की आधारशिला

कोरबा पुराना शहर स्थित सबसे पुराना और पहला शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय (आदिवासी विकास विभाग) छत्तीसगढ़ प्रदेश में नम्बर-1 शासकीय विद्यालय होगा। इस विद्यालय को सर्वसुविधायुक्त बनाया जाएगा जिसके निर्माण पर 06 करोड़ 61 लाख रूपये की लागत का अनुमान है। इस विद्यालय भवन को विद्याार्थियों की आवश्यकताओं के अनुरूप और अधिक सर्वसुविधायुक्त बनाने के लिए आगे जो भी संभव होगा किया जाएगा तथा आवश्यकता पड़ने पर अतिरिक्त राशि की स्वीकृत भी की जाएगी। कोरबा में शिक्षा, स्वास्थ्य, चिकित्सा, सड़क, पानी, बिजली पर व्यापक रूप से कार्य किए गए हैं।

उक्त बातें राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने आज शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कोरबा के नवीन भवन के शिलान्यास अवसर पर कही। इस अवसर पर महापौर राजकिशोर प्रसाद तथा सभापति श्यामसुंदर सोनी भी उपस्थित थे। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राजस्व मंत्री श्री अग्रवाल ने अपने उद्बोधन में कहा कि मुझे आज इस बात की अत्यंत प्रसन्नता हो रही है कि मैंने जिस विद्यालय में जमीन पर बैठ कर शिक्षा ग्रहण की है, अब उसी विद्यालय के भव्य एवं सर्वसुविधायुक्त भवन की आधारशिला मेरे हाथों रखी जा रही है।

मैं आश्वस्त करता हूॅं कि यह विद्यालय प्रदेश के शासकीय विद्यालयों में नम्बर-1 का विद्यालय होगा। इसे नम्बर-1 बनाने में जो भी संभव हो सकेगा, वह अवश्य किया जाएगा। राजस्व मंत्री श्री अग्रवाल ने आगे कहा कि मेरा प्रमुख उद्देश्य है कि ऊर्जानगरी कोरबा को शिक्षा, स्वास्थ्य, चिकित्सा, सड़क, पानी, बिजली व खेल आदि सुविधाओं से पूर्ण रूप से सम्पन्न बना सकॅूं, इस दिशा में तेजी से काम हो रहा है। उन्होने आगे कहा कि कोरबा में मेडिकल कालेज की स्थापना की गई, जिसका शुभारंभ प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल जी के द्वारा किया जा चुका है।

इसी प्रकार स्पोर्ट्स अकादमी की स्थापना, कोरबा शहर के आसपास व सम्पूर्ण जिले में फोरलेन, टू-लेन सड़कों का जाल, डायलिसिस मशीनों की स्थापना के साथ-साथ चिकित्सा सुविधाओं में वृद्धि, शासकीय इंग्लिश मीडियम स्कूल की स्थापना करने के साथ-साथ सभी विद्यालयों के भवनों का नवीनीकरण व पुनर्निर्माण, आंगनबाड़ी भवनों का पुनर्निर्माण व जीर्णोद्धार, नया ट्रांसपोर्ट नगर का निर्माण, अशोक वाटिका का जीर्णोद्धार, उद्यानों, मुक्तिधामों, ग्रेवियार्ड, कब्रिस्तान आदि का निर्माण, तालाबों का जीर्णोद्धार व सौदंर्यीकरण, शहर की सड़कों का नवीनीकरण, कोरबा पुराने शहर से सीधे सर्वमंगला मंदिर जाने के लिए 11 करोड़ से रपटा ब्रिज का निर्माण सहित अन्य अधोसंरचनात्मक विकास की कार्ययोजनाओं पर क्रमशः कार्य किया जा रहा है। उन्होने कहा कि कोरबा के विकास के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल जी द्वारा खुले दिल से सहयोग व आशीर्वाद दिया जा रहा है, जिसके लिए मैं उनके प्रति आभार प्रकट करता हूॅं।

राजस्व मंत्री श्री अग्रवाल ने आगे कहा कि विद्यालय की स्वीकृति विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत जी के द्वारा दिलाई गई थी, इस योजना के क्रियान्यवन से वार्ड क्र. 01 से लेकर वार्ड क्र. 42 तक के वार्डो में पेयजल की पुरानी समस्या से मुक्ति मिली, वहीं कोरबा पश्चिम क्षेत्र के वार्ड क्र. 43 से 67 तक के वार्डों के लिए पेयजल आवर्धन योजना भाग-2 पर काम किया गया, इस तरह से कोरबा नगर निगम क्षेत्र की सबसे बड़ी समस्या पेयजल समस्या का सम्पूर्ण निदान किया जा चुका है, वहीं ऊर्जाधानी कोरबा क्षेत्र की बरसों से अंधेरे में डूबी बस्तियों में बिजली जैसी महत्वपूर्ण सुविधा पहुंचाई गई, गली-गली में स्ट्रीट लाईट लगी, सड़क, नाली, सामुदायिक भवन सहित अन्य विकास कार्य व्यापक रूप से हुए, लोगों की बरसों पुरानी समस्याएं दूर हुई।

उन्होने आगे कहा कि कोरबा की उन्नति में, यहां के सर्वागीण विकास में, कोई कमी नहीं आने दी जाएगी। उन्होने आगे कहा कि मेरे द्वारा पूर्व में स्वसहायता समूहों के माध्यम से 20 हजार महिलाओं को जोड़ा गया था, इन सभी महिलाओं को स्व.शांतिदेवी मेमोरियल सोसायटी के माध्यम से रोजगार उपलब्ध कराने की योजना पर कार्य किया जाएगा। मैं नागरिक बंधुओं को यह आश्वस्त करता हॅॅूूं कि मैं हर सुख-दुख में आपके साथ खड़ा हॅूं तथा आगे भी खड़ा रहूॅंगा, आप विकास के लिए सुझाव दें, उन सुझावों पर अमल किया जाएगा।

इस अवसर पर पूर्व विधायक श्री दाऊराम रत्नाकर, निगम के अपर आयुक्त श्री अशोक शर्मा, जिला शिक्षा अधिकारी श्री सतीश पाण्डेय, विद्यालय विकास समिति के अध्यक्ष श्री नारायण प्रसाद अग्रवाल, मेयर इन कांउसिल सदस्य श्री संतोष राठौर, सुश्री सपना चौहान, श्री सुखसागर निर्मलकर, श्री कृपाराम साहू, श्री फूलचंद सोनवानी, अग्रवाल सभा के अध्यक्ष श्रीकांत बुधिया सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं नागरिक उपस्थित थे।

Leave a Reply