दिनांक : 05-Dec-2022 10:10 AM   रायपुर, छत्तीसगढ़ से प्रकाशन   संस्थापक : पूज्य श्री स्व. भरत दुदानी जी
Follow us : Youtube | Facebook | Twitter English English Hindi Hindi
Shadow

India

Read news articles about national news update, business news updates.

रायपुर : मुख्यमंत्री ने ’राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना’ के प्रतीक चिन्ह (लोगो) का लोकार्पण

Chhattisgarh, India
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज यहां अपने निवास कार्यालय में ’राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना’ के प्रतीक चिन्ह (लोगो) का लोकार्पण किया। इस योजना के तहत प्रदेश के लगभग 10 लाख मजदूर परिवारों को 6 हजार रूपए सालाना अनुदान सहायता दी जाएगी। इस योजना के लिए पंजीयन का कार्य 1 सितम्बर से प्रारंभ हो चुका है। पंजीयन 30 नवम्बर तक किया जाएगा। इस अवसर पर गृह मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू, स्वास्थ्य मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव, कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम, महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती अनिला भेंड़िया, श्रम मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया, खाद्य मंत्री श्री अमरजीत भगत, उद्योग मंत्री श्री कवासी लखमा, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री श्री गुरू रूद्रकुमार, राजस्व मंत्री श्री जयसिंह अग्रवाल, उच्च ...
‘अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस‘ राज्य स्तरीय वेबीनार : अक्षर खोलते है भविष्य के अनंत रास्ते : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

‘अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस‘ राज्य स्तरीय वेबीनार : अक्षर खोलते है भविष्य के अनंत रास्ते : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

Career, Chhattisgarh, India
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज ‘अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस‘ आयोजित राज्य स्तरीय वेबीनार में कहा कि वास्तव में अक्षर ज्ञान वह पहला द्वार है, जहां से भविष्य के अनंत रास्ते खुलते हैं। साक्षरता से शिक्षा और शिक्षा से विकास का सीधा संबंध है। अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस प्रदेश में साक्षरता के वर्तमान सोपान पर गर्व करने का है तो लगभग एक चौथाई आबादी को साक्षर बनाने के बारे में चिंतन और प्रण करने का भी है। इसके लिए व्यक्तिगत रूचि और सामूहिक प्रयासों की बड़ी आवश्यकता है। व्यापक जनभागीदारी से यह लक्ष्य हासिल किया जा सकता है। राज्य स्तरीय वेबीनार के माध्यम से प्रदेश के जिलों में उत्कृष्ट स्वयंसेवी शिक्षकों का आखर सम्मान किया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य में पढ़ना-लिखना अभियान को सफलता के साथ अमल में लाया गया है, जिसके तहत् पढ़ने और पढ़ाने वाले दोनों की फोटो बहेबीववसण्पद पोर्टल में अप...

रायपुर : मुख्यमंत्री की ऋण माफी की घोषणा ने महिलाओं का बढ़ाया हौसला

Chhattisgarh, India, Tribal Area News and Welfare
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा महिला समूहों के ऋण माफ किये जाने की घोषणा से  महिलाओं में खुशी की लहर है । बलौदाबाजार भाटापारा जिले में 43 लाख रूपये से ज्यादा का ऋण माफ किया जायेगा। इससे 146 महिला समूहों से जुड़ी लगभग डेढ़ हजार महिलाओं को फायदा मिलेगा। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने पिछले दिनों महिलाओं के सम्मान के लिए आयोजित तीज महोत्सव में ऋण माफी की घोषणा की है। उन्होंने इसके साथ ही महिला कोष से दिये जाने  वाले ऋण की अधिकतम सीमा भी 1 लाख रूपये से बढ़ाकर 2 लाख रूपये कर दी है। ऋण माफ की खबर पाकर महिलाओं में खुशी की लहर दौड़ गई है और महिलाओं ने उन्हें धन्यवाद दिया है। उल्लेखनीय है कि महिलाओं को छोटे-छोटे काम धंधे के लिए मात्र 3 प्रतिशत वार्षिक ब्याज दर पर ऋण उपलब्ध कराया जाता है। यह ऋण उन्हें महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा छत्तीसगढ़ महिला कोष से स्वीकृत किया जाता है। बलौदाबाजार जिले में 20 हज...
नंद कुमार बघेल को आगरा से रायपुर लाई पुलिस, ब्राह्मणों पर विवादित टिप्पणी करने पर कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा

नंद कुमार बघेल को आगरा से रायपुर लाई पुलिस, ब्राह्मणों पर विवादित टिप्पणी करने पर कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा

Chhattisgarh, India, Politics
छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नंद कुमार बघेल को पुलिस ने आगरा से गिरफ्तार कर लिया है। उन्हें मंगलवार को रायपुर डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में पेश किया गया है। कोर्ट ने उन्हें 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। बताया जा रहा है कि नंद कुमार बघेल ने जमानत लेने और वकील रखने से मना कर दिया है। उन पर ब्राह्मणों को लेकर विवादित बयान देने का आरोप है। रायपुर के डीडी नगर थाने में FIR दर्ज कराई गई थी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नंद कुमार बघेल के खिलाफ रायपुर के डीडी नगर थाने में केस दर्ज किया गया है। सर्व ब्राह्मण समाज की शिकायत पर ये केस दर्ज किया गया। नंद कुमार पर सामाजिक द्वेष पैदा करने का आरोप है। उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 505- समुदायों के बीच शत्रुता, घृणा या वैमनस्य की भावनाएं पैदा करने और धारा 153 ए के तहत सामाजिक तनाव बढ़ाने वाला बयान देने का आरोप है।...
रायपुर : मंत्रियों ने अस्पताल पहुंचकर बस दुर्घटना में घायल एसईसीएल कर्मचारियों के स्वास्थ्य की ली जानकारी

रायपुर : मंत्रियों ने अस्पताल पहुंचकर बस दुर्घटना में घायल एसईसीएल कर्मचारियों के स्वास्थ्य की ली जानकारी

Chhattisgarh, India
नगरीय प्रशासन मंत्री और सरगुजा जिले के प्रभारी मंत्री डॉ शिवकुमार डहरिया, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम और खाद्य मंत्री श्री अमरजीत भगत सोमवार को अम्बिकापुर अस्पताल पहुंचकर बस दुर्घटना में घायल हुए मरीजों और उनके परिजनों से मुलाकात कर हाल-चाल जाना। मंत्रियों ने अस्पताल प्रबंधन को दुर्घटना में घायल मरीजों का बेहतर इलाज करने तथा जरूरी स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने को कहा। उल्लेखनीय है कि विगत दिनों सूरजपुर जिले में एसईसीएल के कर्मचारियों से भरी बस एसईसीएल कंपनी के भटगांव मुख्यालय से महान कोल माइन्स जा रही थी। जब बस सुखदेवपुर गांव के पास एक पुल पर पहुंची तो ड्राइवर ने नियंत्रण खो दिया और बस पुल की रेलिंग को तोड़ते हुए नदी में जा गिरी। इसमे कर्मचारियों के घायल होने की सूचना मिली जिनमे से 18 लोगों को इलाज के लिए अम्बिकापुर के जीवन ज्योति नर्सिंग होम भेजा गया था। निरीक्षण के दौरा...
विशेष लेख : श्रमिकों और कामगार परिवारों के लिए राहत भरा पैगाम लाती हैं, मोबाइल मेडिकल यूनिट

विशेष लेख : श्रमिकों और कामगार परिवारों के लिए राहत भरा पैगाम लाती हैं, मोबाइल मेडिकल यूनिट

Chhattisgarh, India, Tribal Area News and Welfare
एक तरफ जहां श्रमिक और कामगार परिवारों के लिए निजी अस्पतालों में जाकर इलाज कराना आर्थिक बोझ था तो दूसरी ओर अपने काम-काज को छोड़कर सरकारी अस्पताल में उपचार के लिए जाना भी एक बड़ी समस्या थी। ऐसे में कई बार बीमार रहते हुए भी काम पर जाना उनकी मजबूरी थी। इससे कई बार उन्हें गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं से जूझना पड़ता था। राज्य सरकार ने इन गरीब श्रमिकों और कामगार परिवारों की दिक्कतों को समझते हुए उन्हें घर के पास ही चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध कराने का निर्णय लिया और उनके लिए मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना शुरू की है। श्रमिक और कामगार परिवारों का मानना है कि मोबाइल मेडिकल यूनिट उनके परिवारों के लिए राहत  भरा पैगाम लेकर आती हैं। इस योजना के शुरू होने पर उन्हंे इलाज के लिए अस्पताल नहीं जाना पड़ता। कई प्रकार की बीमारियों के लिए टेस्ट के साथ ही दवाईयां भी निःशुल्क मिल जाती हैं। श्रमिक और कामगार लोग इस सुविधा...
पोषण माह-2021 : एनीमिया-कुपोषण के प्रति जागरूकता के लिए राजधानी में विशाल साइकिल रैली 11 सितम्बर को

पोषण माह-2021 : एनीमिया-कुपोषण के प्रति जागरूकता के लिए राजधानी में विशाल साइकिल रैली 11 सितम्बर को

Chhattisgarh, India, Tribal Area News and Welfare
पोषण माह के अवसर पर छत्तीसगढ़ को कुपोषण-एनीमिया से मुक्त बनाने और लोगों में सुपोषण के प्रति जागरूकता लाने के उद्देश्य से महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा राजधानी रायपुर के तेलीबांधा स्थित मरीन ड्राइव में 11 सितम्बर को सुबह 07 विशाल साइकिल रैली का आयोजन किया जाएगा। इस रैली में गढ़बो नवा सुपोषित छत्तीसगढ़ का संदेश लेकर जनप्रतिनिधि और आमजन शामिल होंगे। ‘पोषण मेरी भी जिम्मेदारी‘ के ध्येय वाक्य को लेकर रैली में कई कदम कुपोषण मुक्त छत्तीसगढ़ बनाने की ओर आगे बढ़ेंगे। महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती भेंड़िया ने कहा है कि कुपोषण देश की एक बड़ी समस्या है, जिसका प्रभाव महिलाओं और बच्चों में अधिक देखा गया है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल सहित हम सबने छत्तीसगढ़़ को कुपोषण मुक्त बनाने का सपना देखा है। राज्य सरकार ने इसके लिए 2 अक्टूबर 2019 से मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान शुरू किया है। इसके सकारात्मक परिणाम स...
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पूर्व राष्ट्रपति, महान शिक्षाविद, भारतरत्न डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयंती पर श्रद्धांजलि दी

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पूर्व राष्ट्रपति, महान शिक्षाविद, भारतरत्न डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयंती पर श्रद्धांजलि दी

Chhattisgarh, India
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज यहां अपने निवास कार्यालय में पूर्व राष्ट्रपति, महान शिक्षाविद, भारतरत्न डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयंती, शिक्षक दिवस के अवसर पर उनके चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : सरकार में कोई भी कानून से ऊपर नहीं फिर चाहे वो मेरे 86 साल के पिता ही क्यों न हो, कार्यवाही होगी

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : सरकार में कोई भी कानून से ऊपर नहीं फिर चाहे वो मेरे 86 साल के पिता ही क्यों न हो, कार्यवाही होगी

Chhattisgarh, India
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि विगत दिनों उनके पिता श्री नंदकुमार बघेल द्वारा एक वर्ग विशेष के विरूद्ध की गई टिप्पणी उनके संज्ञान में आयी है। उनकी इस टिप्पणी से समाज के एक वर्ग की भावनाओं और सामाजिक सद्भाव को ठेस लगी है उनके इस बयान से उन्हें भी दुःख हुआ है। छत्तीसगढ़ सरकार हर जाति, हर धर्म, हर वर्ग, हर समुदाय के लोगों के सम्मान और उनकी भावनाओं की कद्र करती है मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि मुझे सोशल मीडिया एवं अन्य माध्यमों से यह ज्ञात हुआ है कि ये बात कही जा रही है कि श्री नंदकुमार बघेल पर इसलिये कार्यवाही नहीं होगी क्योंकि वे मुख्यमंत्री के पिता हैं। श्री भूपेश बघेल ने यह स्पष्ट कहा है कि उनकी सरकार सभी को एक ही दृष्टि से देखती है। उनके पिता श्री नंदकुमार बघेल से उनके वैचारिक मतभेद शुरू से हैं ये बात सभी को पता है। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा है कि हमारे राजनीतिक वि...
रायपुर : मुख्यमंत्री शिक्षक दिवस पर 5 सितम्बर को शामिल होंगे ‘शिक्षा मड़ई‘ में, आर.डी. तिवारी स्कूल का लोकार्पण करेंगे

रायपुर : मुख्यमंत्री शिक्षक दिवस पर 5 सितम्बर को शामिल होंगे ‘शिक्षा मड़ई‘ में, आर.डी. तिवारी स्कूल का लोकार्पण करेंगे

Career, Chhattisgarh, India
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के मुख्य आतिथ्य में शिक्षक दिवस के अवसर पर 5 सितम्बर को नवाचारी शिक्षकों के कार्यों पर आधारित प्रदर्शनी ‘शिक्षा मड़ई‘ का आयोजन किया जाएगा। यह आयोजन दोपहर 01 बजे आर.डी. तिवारी स्वामी आत्मानंद शासकीय उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूल आमापारा रायपुर में होगा। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल इस अवसर पर स्कूल का लोकार्पण करेंगे। कार्यक्रम में नवाचारी शिक्षकों का सम्मान, महतारी दुलार योजना के बच्चों को छात्रवृत्ति का वितरण भी किया जाएगा। श्री भूपेश बघेल करेंगे आर.डी. तिवारी स्कूल का लोकार्पण, नवाचारी शिक्षकों का सम्मान और महतारी दुलार योजना के बच्चों को छात्रवृत्ति का वितरण कार्यक्रम की अध्यक्षता स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम करेंगे। कार्यक्रम में कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे, नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, संसदीय सचिव श्री विकास उपाध्याय और म...