Gondwana Special

रायपुर: जोरा में अच्छी मेडिकल फैसिलिटी नहीं मिली तो साईं नगर के लोगों ने खोला अपना अस्पताल, इलाज निशुल्क और दवा में 20% छूट

शहर में एक अस्पताल ऐसा भी है जिसका संचालन सरकार या संस्था नहीं, बल्कि वहां के लोग करते हैं। जोरा के साईं नगर में खुला संभवत: यह शहर का पहला अस्पताल है जिसे आवासीय समिति संचालित कर रही है। इसकी शुरुआत इसलिए हुई थी ताकि सोसाइटी के लोगों को इलाज के लिए भटकना न पड़े। 4 माह में इसका इतना प्रचार हुआ है कि अब 10-12 किलाेमीटर दूर से भी लोग यहां इलाज के लिए आ रहे हैं।

निशुल्क इलाज के साथ यहां लोगों को दवाओं में 20% छूट भी दी जा रही है। इस नेक कार्य की शुरुआत डॉ. देवेंद्र सूर्यवंशी ने की थी। उनका कहना है कि आसपास के इलाकों में इलाज की अच्छी सुविधा नहीं है। यह बात उन्हें कई दिनों से खटक रही थी। उन्होंने जब इस संबंध में साईं नगर आवासीय समिति के अध्यक्ष चंद्रशेखर राव से चर्चा की तो खुद का अस्पताल खोलने पर सहमति बनी। शहर के कुछ डॉक्टरों भी हफ्ते में एक दिन 3 घंटे निशुल्क सेवा देने के लिए राजी हो गए। इस तरह इसी साल अगस्त में अस्पताल की शुरुआत हुई। अब तक सैकड़ों लोग यहां आकर निशुल्क जांच का लाभ उठा चुके हैं।

एंबुलेंस नहीं इसलिए कार से मरीजों को लाते-ले जाते हैं, सरकार से मांग करेंगे
आवासीय समिति के पास एंबुलेंस की सुविधा नहीं है। ऐसे में किसी मरीज को अस्पताल तक लाने की जरूरत पड़े तो डॉ. सूर्यवंशी अपनी कार और ड्राइवर को संबंधित व्यक्ति के घर भेज देते हैं। ये सेवा वे न सिर्फ जोरा के आसपास बल्कि अन्य इलाकों में भी कर रहेे हैं। बीते दिनों खमतराई के एक बुजुर्ग को अस्पताल लाया गया था। इलाज के बाद उन्हें घर भी पहुंचाया गया। समिति की मांग है कि सरकार उन्हें एंबुलेंस उपलब्ध कराए। इसके लिए समिति मुख्यमंत्री से मिलने की तैयारी में है।

किसी ने पैम्फलेट छापने तो किसी ने बांटने में की मदद
निशुल्क इलाज वाले अस्पताल का प्रचार करने समिति के सदस्य पैम्फलेट बनवाने के लिए एक प्रिंटिंग प्रेस में गए। वहां के संचालक को जब इस नेक कार्य के बारे में पता चला ताे उन्होंने न केवल मुफ्त में पैम्फलेट छापने की पेशकश की, बल्कि समिति के सदस्य जितने पैम्फलेट चाह रहे थे उससे आठ गुना ज्यादा करीब 1600 प्रिंट उन्हें उपलब्ध कराए। इसी तरह अखबार वितरकों ने भी समिति के सेवा भाव को देखते हुए पैम्फलेट बांटने के पैसे नहीं लिए।

Leave a Reply