Chhattisgarh

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की जानकारी के लिए कॉल सेन्टर और महिलाओं की सहायतार्थ प्रदेश के 370 थानों में महिला हेल्प डेस्क बनाया गया

रायपुर | प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत किसानों को उनके आवेदन के पंजीयन और प्राप्त होने वाली राशि के संबंध में जानकारी देने के लिए कॉल सेन्टर शुरू किया गया। गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा है कि महिलाओं की सुरक्षा के लिए राज्य शासन प्रतिबद्ध है। महिलाओं से संबंधित अपराधों की रोकथाम के लिए 6 जिलों रायपुर, बिलासपुर, दुर्ग, राजनांदगांव, जांजगीर-चांपा और रायगढ़ में महिलाओं के विरूद्ध अपराधों की विवेचना के लिए विशेष इकाई संचालित की जा रही है।

किसान पंजीयन और राशि की ले सकेंगे जानकारी

लाभार्थी किसान अपने पंजीकृत 10 अंकों के मोबाईल नंबर या 12 अंकों के आधार नंबर से टोल फ्री नंबर 1800-11-5526 और 155261 पर फोन कर यह जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत (आई.वी.आर.एस.) सूचना के आदान-प्रदान के लिए स्वचालित टेलीफोन के आधार पर कॉल सेन्टर की सुविधा शुरू की गई है।

कॉल सेन्टर शुरू होने के संबंध में किसानों को जानकारी उपलब्ध कराने के संबंध में संचालक भू-अभिलेख छत्तीसगढ़ नवा रायपुर द्वारा प्रदेश के सभी कलेक्टरों को पत्र भेजा गया है।

महिलाओं से संबंधित अपराधों की रोकथाम के लिए 6 जिलों में अपराध विवेचना इकाई संचालित

गृह मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने कहा है कि महिलाओं की सुरक्षा के लिए राज्य शासन प्रतिबद्ध है। महिलाओं से संबंधित अपराधों की रोकथाम के लिए 6 जिलों रायपुर, बिलासपुर, दुर्ग, राजनांदगांव, जांजगीर-चांपा और रायगढ़ में महिलाओं के विरूद्ध अपराधों की विवेचना के लिए विशेष इकाई संचालित की जा रही है।

प्रदेश के 370 थानों में महिला हेल्प डेस्क बनाया गया है। इसके अलावा सभी जिलों में महिलाओं के पारिवारिक विवाद के निराकरण के लिए परिवार परामर्श केन्द्र संचालित किए जा रहे हैं। गृह मंत्री ने बताया कि प्रदेश में महिला पुलिस वालेंटियर योजना के तहत दुर्ग और कोरिया जिलों में 4568 महिला पुलिस वालेंटियर बनाए गए हैं। पीड़ित क्षतिपूर्ति योजना के तहत पीड़ित महिलाओं को आर्थिक सहायता भी दी जा रही है।

Leave a Reply