Chhattisgarh

पारंपरिक फाल्गुन मड़ई की बढ़ने लगी रौनक, मड़ई मेले के सांस्कृतिक कार्यक्रम बस्तरिया नाट का उत्साहपूर्वक लुफ्त उठा रहे ग्रामीण

दंतेवाड़ा | छत्तीसगढ़ के पारंपरिक मेले फाल्गुन मड़ई में लगातार रौनक बढ़ने लगी है। इस फाल्गुन मड़ई में हजारों की भीड़ देखी जाती है, जिसमें सांस्कृतिक कार्यक्रमों का लुफ्त उठाने छत्तीसगढ़ के साथ-साथ देश-विदेश से लोग आते हैं। जिला मुख्यालय दंतेवाड़ा के मड़ई में ग्रामीण उत्साहपूर्वक सहभागिता निभाते हैं। यह छत्तीसगढ़ राज्य में होने वाला प्रमुख मेला है, जिसमें ग्रामीणजन मेंडका डोबरा मैदान में हर दिन सांस्कृतिक कार्यक्रमों के तहत बस्तरिया नाट प्रस्तृति का लुफ्त उठा रहे हैं।

इस मौके पर जनसम्पर्क विभाग द्वारा फोटो प्रदर्शनी लगाकर प्रदेश के राज्यपाल अनुसुईया उइके तथा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के दंतेवाड़ा प्रवास सहित विकास कार्याें को रेखांकित किया गया है। वहीं मेले स्थल पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा स्वास्थ्य शिविर आयोजित कर ग्रामीणों का स्वास्थ्य परीक्षण कराने के साथ-साथ निःशुल्क दवाई वितरण किया जा रहा है।

जनसम्पर्क विभाग ने अपने छायाचित्र प्रदर्शनी में राज्यपाल उइके के दंतेवाड़ा के सक्षम परिसर के बच्चों से भेट, चित्तालंका आंगनबाड़ी केन्द्र के बच्चों से रूबरू होने सहित दंतेश्वरी महिला फाइटर्स के कमांडों से भेट करने इत्यादि के साथ ही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के दंतेवाड़ा प्रवास पर मलेरिया उन्मुलन अभियान, फरसपाल में स्कूली बच्चों और ग्रामीणों से भेंट, हितग्राहियों को राशनकार्ड वितरण, दो नई एम्बुलेंस का लोकार्पण, सहित सुपोषण अभियान की शुरूआत आदि को समाहित किया गया है।

इसके साथ-साथ चिकपाल एवं पोटाली में पुलिस कैंप स्थापना के साथ विकास कार्याें को बढ़ावा सहित अंदरूनी इलाकों में सड़क निर्माण, पेयजल आपूर्ति हेतु सोलर ड्यूल पम्प स्थापना इत्यादि को फोटो प्रदर्शनी में समाहित किया गया है। वहीं इस दौरान ग्रामीणों को ब्रोसर-पम्पलेट आदि प्रचार सामग्री और युवाओं को जनमन पत्रिका वितरित किया जा रहा है।

Leave a Reply