कॉलेज प्रबंधन के विवाद के चलते डागा गर्ल्स कॉलेज को किया गया सील - गोंडवाना एक्सप्रेस
gondwana express logo

कॉलेज प्रबंधन के विवाद के चलते डागा गर्ल्स कॉलेज को किया गया सील

रायपुर (एजेंसी) |  राजधानी रायपुर में कचहरी के पास स्थित डागा गर्ल्स कॉलेज प्रबंधन के विवाद के चलते छात्र-छात्राओं की पढ़ाई पूरी तरह से ठप हो चुकी है। आनन् फानन में आज सोमवार को कॉलेज सील कर दिया गया। गौरतलब है कि यह छात्र-छात्राएं खुद पढ़ना चाहते हैं, लेकिन उनकी सुनवाई ही नहीं हो रही है।

समिति और शिक्षकों के विवाद

दरअसल, डागा गर्ल्स कॉलेज में लंबे समय से समिति और शिक्षकों के बीच विवाद चल रहा है। इसके चलते महीनों से कक्षाएं नहीं लगी हैं। सोमवार सुबह जब छात्राएं कॉलेज पहुंची तो कक्षाओं में ताले लटके हुए थे और मेन गेट सील था। उन्हें बताया गया कि कॉलेज एक सप्ताह के लिए बंद कर दिया गया। इस पर छात्राएं भड़क गईं और पढ़ाई की मांग को लेकर प्रदर्शन करने लगीं। अब छात्र संगठन राज्यपाल,  मुख्यमंत्री और कॉलेज प्रबंधन को ज्ञापन देने की तैयारी कर रहे हैं।




प्रभारी प्रिंसिपल डीके दूबे की जगह संगीता घई को चार्ज सौंपने पर शुरू हुआ बवाल 

पीजी डागा गर्ल्स कॉलेज में प्रभारी प्रिंसिपल डीके दूबे की जगह संगीता घई को चार्ज सौंपने पर बवाल शुरू हुआ। संगीता घई को प्रभार दिलाने प्रशासनिक अधिकारी पहुंचे थे। कॉलेज में एसडीएम के साथ बहस हुई और उसके बाद पुलिस बुलानी पड़ी। विवाद बढ़ने के बाद पुलिस ने प्रभारी प्रिंसिपल और उनके साथ 9 अन्य को गिरफ्तार कर लिया, बाद में उन्हें जमानत दी गई।

वही, प्रभारी प्रिंसिपल का कहना था कि पूरा मामला हाईकोर्ट में सुनवाई के अधीन है। ऐसे में किसी अन्य को प्राध्यापक को प्राचार्य कैसे बनाया जा सकता है। कॉलेज में प्राचार्य के पद को लेकर पिछले दो साल से विवाद चल रहा है। प्राध्यापक दूबे को कॉलेज प्रबंधन ने 15 अप्रैल 2017 को निलंबित कर दिया था। इसके बाद वे प्रबंधन के फैसले के खिलाफ हाईकोर्ट चले गए। कोर्ट में मामला है और कॉलेज में विवाद चल रहा है।

दुबे को प्रबंधन के आदेशों की लगातार अवहेलना करने के आरोप में निलंबित किया गया था

महाविद्यालय की पूर्व प्राध्यापिका कमला वर्मा ने सहायक प्राध्यापक डॉ डी.के दुबे को प्राध्यापक का पदभार सौंपा था। उन्हें 25 मई को शासकीय निकाय और महाविद्यालय प्रबंधन के आदेशों की लगातार अवहेलना, कॉलेज के ऑफिस, कक्षा, स्टाफ रूम में ताला बंद कर कॉलेज के शिक्षण कार्य और संचालन को अवरुद्ध करने के आरोप में निलंबित किया गया था। इसके खिलाफ दुबे ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की है।



Leave a Reply