Chhattisgarh

गड़बड़ी:अमृत मिशन के काम में घटिया पाइप जोड़ते कर्मचारी को पार्षद ने रंगे हाथ पकड़ा

बिलासपुर | 301 करोड़ के अमृत मिशन योजना के कार्य में निरंतर लापरवाही और गुणवत्ताहीन कार्य की शिकायतें मिल रही हैं। पाइप लाइन बिछाने के लिए सड़कों की खुदाई के बाद रेत की जगह मिट्टी पाटने के बाद शुक्रवार को घटिया पाइप को रबर से जोड़ने का मामला सामने आया। पार्षद विजय ताम्रकार ने अमृत मिशन के कर्मचारियों को घटिया पाइप जोड़ते हुए पकड़ा और ईई अुपम तिवारी को बुलाकर सारी करतूत दिखाई।

पार्षद ने चेताया कि कि इसी तरह का घटिया काम अगर उनके वार्ड में होगा तो वह काम बंद करा देंगे। पार्षद के बुलाने पर पहुंचे नगर निगम के इंजीनियर और अमृत मिशन के प्रभारी तथा सब इंजीनियर ठेकेदार नीलेश सब ठेकेदार लालबाबू और पेटी कांट्रेक्टर ने भी टूटे-फूटे और क्षतिग्रस्त पाइप को पाइप लाइन में जोड़ने की हरकत देखी। गड़बड़ी देखकर अमृत मिशन के प्रभारी अनुपम तिवारी ने काम रुकवा दिया।

वहीं उन्होंने अमृत मिशन के काम के दौरान वार्ड की नालियों में हुई टूट-फूट की मरम्मत पहले करने के निर्देश ठेकेदार को दिए। पार्षद ने कहा कि अमृत मिशन के काम की निगरानी रखनी चाहिए। अन्यथा सड़े-गले पाइप के टुकड़ों को पाइप लाइन से जोड़ने पर आने वाले दिनों में सप्लाई शुरू होने पर वार्डों में, शुद्ध पेयजल की आपूर्ति में कई तरह की दिक्कतें हो सकती हैं।

सरजू बगीचा में सीवेज का पाइप डाला, जांच की मांग

वार्ड क्रमांक 34 के पूर्व पार्षद राजेश मिश्रा ने सरजू बगीचा में अमृत मिशन के अंतर्गत खुदाई के दौरान सीवेज की पाइप लाइन आ जाने के कारण सीवेज पाइप को तोड़ कर उसे चुपचाप पाटने की शिकायत नगर निगम कमिश्नर को की थी। उन्होंने इस मामले की जांच कराई तो शिकायत सही पाई गई। इसके बाद सीवेज का पाइप डाला गया। उन्होंने आरोप लगाया कि ठेकेदार के द्वारा शहर में काम चलाऊ कार्य किया जा रहा है, इसकी गुणवत्ता की जांच होनी चाहिए।

Leave a Reply