Chhattisgarh India

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को 28 नवम्बर को पुणे में ’महात्मा फुले समता पुरस्कार’ से किया जाएगा सम्मानित

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल को 28 नवम्बर को महात्मा फुले की 131वीं पुण्यतिथि समता दिवस के अवसर पर पुणे में सवेरे 10 बजे ’महात्मा फुले समता पुरस्कार’ से सम्मानित किया जाएगा। पुणे के महात्मा फुले स्मारक ’समता भूमि’ में अखिल भारतीय महात्मा फुले समता परिषद् द्वारा आयोजित समारोह में परिषद् के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री छगन भुजबल छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री बघेल को फुले पगड़ी, मानद शाल और स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मानित करेंगे।

गौरतलब है कि समता दिवस के अवसर पर अखिल भारतीय महात्मा फुले समता परिषद् द्वारा सामाजिक, राजनीतिक, साहित्य, पत्रकारिता जैसे विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय योगदान देने वाली हस्तियों को महात्मा फुले समता पुरस्कार से सम्मानित किया जाता है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल को अपने कार्यकाल के दौरान समाज के वंचित वर्गों को न्याय दिलाने की दिशा में किए गए असाधारण महत्वपूर्ण कार्यों के लिए इस वर्ष के पुरस्कार के लिए चुना गया है। मुख्यमंत्री श्री बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ में किसानों को फसल का उचित मूल्य दिलाने के लिए राजीव गांधी किसान न्याय योजना, पशुपालकों और भूमिहीनों को आय और रोजगार से जोड़ने के लिए गोधन न्याय योजना और भूमिहीन कृषि मजदूरों को सालाना 6 हजार रूपए की सहायता राशि उपलब्ध कराने के उद्देश्य से राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना प्रारंभ की गई है। इसके साथ ही साथ आदिवासियों, वनवासियों और समाज के कमजोर वर्ग के लोगों के कल्याण के लिए अनेक योजनाएं प्रारंभ की गई हैं, जिससे उनका जीवन स्तर ऊपर उठा है। सुराजी गांव योजना के अंतर्गत गांवों में निर्मित किए गए गौठानों में बड़ी संख्या में ग्रामीण महिलाओं को आय मूलक गतिविधियों से जोड़ा गया है।