cm-bhupesh-maharani-hospital-21-july-2020
Chhattisgarh

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : महारानी अस्पताल जगदलपुर के प्रति बस्तर के लोगों की भावनात्मक लगाव

जगदलपुर. मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा कि महारानी अस्पताल के प्रति बस्तर के लोगों की भावनात्मक लगाव के कारण ही अस्पताल को उसी जगह में रखते हुए तीन चरणों में उसका जीर्णोद्धार किया गया। उन्होंने कहा कि नदी तट वृक्षारोपण में ग्रामीणों को आर्थिक लाभ देने वाले फलदार पौधों का वृक्षारोपण करने से आबो-हवा के साथ-साथ पर्यावरण के लिए भी लाभ दायक होगा। बस्तर में कॉफी और हल्दी के उत्पादन से आदिवासी भाई-बहनों के अर्थव्यवस्था में सुधार से जनजाति बंधु शिक्षा, स्वास्थ्य में आगे बढ़ते हुए क्षेत्र के विकास में सहभागी बनेंगे। मुख्यमंत्री मंगलवार 21 जुलाई को महारानी अस्पताल परिसर में आयोजित 244 करोड़ 25 लाख के विकास कार्यो के लोकार्पण एवं भूमिपूजन कार्यक्रम को वीडियों कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से संबोधित कर रहे थे।

वृक्षारोपण में ग्रामीणों को आर्थिक लाभ देने वाले फलदार पौधों को प्राथमिकता देने के निर्देश

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने महारानी अस्पताल को देष के सर्वश्रेष्ठ जिला अस्पताल के रूप में सुविधाओं से युक्त किया गया है। अब अन्य राज्य के लोग भी इस अस्पताल में इलाज के लिए आने लगे हैं। जिला प्रषासन को निर्देषित करते हुए उन्होंने कहा कि अस्पतालों में डॉक्टर की कमी न हो, विभिन्न मदों से विषेषज्ञ चिकित्सकों की भर्ती किया जाए। उन्होंने मलेरिया मुक्त बस्तर, कुपोषण मुक्ति अभियान एवं उल्टी-दस्त के रोकथाम हेतु किए गए कार्यों की सराहना की और मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लिनिक को सुचारू रूप से संचालन करने को कहा।

मुख्यमंत्री ने किया नदीतट वृक्षारोपण अभियान, काजू प्रसंस्करण सहित अन्य कार्यों की सराहना

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने बस्तर जिला प्रशासन द्वारा आमचो इंद्रावती-कठा लगाऊ बुटा नदीतट वृक्षारोपण अभियान, युवोदय-वॉलेटियर के कार्यो, मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान, बकावण्ड में काजू प्रसंस्करण केंद्र, दरभा-डिलमिली क्षेत्र में कॉफी और जिले में हल्दी उत्पादन के कार्यो की सराहना किए। साथ ही बस्तर क्षेत्र के अंतर्गत किए जा रहे स्वास्थ्य केंद्रों और अन्य स्थानों पर पुल-पुलिया के निर्माण की प्रषंनता व्यक्त किए। श्री बघेल ने निर्माण कार्य में गुणवत्ता पर ध्यान रखने के लिए निर्देष देते हुए अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों को भी निर्माण के दौरान निरीक्षण करने कहा।

244 करोड़ 25 लाख के विकास कार्यो का किया लोकार्पण एवं भूमिपूजन

इस कार्यक्रम को वीडियों कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से स्वास्थ्य मंत्री श्री टीएस सिंहदेव, वन मंत्री मोहम्मद अकबर, उद्योग मंत्री श्री कवासी लखमा ने भी संबोधित कर शुभकामनाएं दी। वीडियों कॉन्फ्रेसिंग में स्कूल षिक्षा एवं जिले के प्रभारी मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम एवं वरिष्ट अधिकारी जुड़े थे। कार्यक्रम स्थल पर सांसद श्री दीपक बैज, संसदीय सचिव नगरीय निकाय श्री रेखचंद जैन, हस्तषिल्प विकास बोर्ड के अध्यक्ष श्री चंदन कष्यप, अक्षय ऊर्जा विकास निगम के अध्यक्ष श्री मिथलेष स्वर्णकार, चित्रकोट विधायक श्री राजमन बेंजाम, महापौर श्रीमती सफीरा साहू, संभाग आयुक्त श्री अमृत खलखो, आईजी श्री पी. सुन्दरराज, कलेक्टर श्री रजत बंसल, पुलिस अधीक्षक श्री दीपक झा, सीईओ जिपं श्री इंद्रजीत चंद्रवाल सहित जनप्रतिनिधि एवं प्रषासन व स्वास्थ्य विभाग अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

कार्यक्रम में उपस्थित अतिथियों द्वारा स्वास्थ्य विभाग के मातृ-शिशु वार्ड कादम्बरी का लोकार्पण और विकासकार्यो के लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया गया। जिला प्रषासन द्वारा अस्पताल के कंडम वाहन को रिमोडीफाई कर नक्सल पीड़ित परिवार को आमचो बस्तर कैंटिन संचालन करने के लिए मोबाईल कैंटिन का भी जनप्रतिनिधियों ने फीता काटकर लोकार्पण किया। कार्यक्रम में नदीतट वृक्षारोपण कार्यक्रम के तहत् तिरथा ग्राम पंचायत में युवोदय के वॉलिंटियर द्वारा मुख्यमंत्री श्री बघेल के नाम पर 50 हजारवां वृक्षारोपण किया गया। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने वीडियों कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से युवोदय के वॉलिंटियरों एवं बकावण्ड काजू प्रसंस्करण केंद्र के महिलाओं से उनके कार्यो के संबंध में चर्चा की। कार्यक्रम की शुरूआत हल्बी भाषा में तैयार की गई राजकीय गीत के माध्यम से किया गया।

Leave a Reply