छत्तीसगढ़ में सीबीआई को लेकर टकरार, रमन बोले- सीबीआई से डरकर सीएम ने लगाई रोक; भूपेश का जवाब- जिसे मौत का भय नहीं, वो सीबीआई से क्या डरेगा

रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ में सीबीआई पर राज्य सरकार की रोक को लेकर पू्र्व मुख्यमंत्री रमन सिंह और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के बीच वार-पलटवार शुरू हो गया है। डा. सिंह ने दिल्ली से जारी बयान में कहा है कि सीबीआई पर बैन का फैसला मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सोच को प्रकट करता है।

इस फैसले से जाहिर होता है कि मुख्यमंत्री सीबीआई से कितना डरे हुए हैं। उनके भीतर सीबीआई की कार्रवाई का खौफ अब प्रदर्शित हो रहा है। रात हो या दिन में उन्हें सीबीआई का ही ख्याल आता है।




डा. सिंह के बयान पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी करारा पलटवार करते हुए कहा कि उन्हें मौत से भी डर नहीं लगता। इसलिए जिसे मौत का भय नहीं, वो सीबीआई से क्या डरेगा? बघेल ने कहा है कि आज भाजपा भले ही सीबीआई को रोकने के फैसले को लेकर सवाल उठा रही है, लेकिन हकीकत ये है कि खुद भाजपा सरकार ने ही अपने कार्यकाल में इसका विरोध किया था।

मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि 2001 में एसीएस एके. विजयवर्गीय ने सीबीआई को सामान्य रजामंदी की अनुमति दी थी, लेकिन भाजपा शासनकाल में 2012 में ओएसडी अशोक जुनेजा ने अपनी असहमति जताते हुए छत्तीसगढ़ में गजट का नोटिफिकेशन कराया था, लेकिन भारत सरकार में गजट का नोटिफिकेशन नहीं हो पाया है। हमारी सरकार विधिवत तौर पर भारत सरकार में गजट नोटिफिकेशन की कार्रवाई कर रही है। अब भाजपा वालों का एतराज समझ से परे हैं।



Leave a Reply