Chhattisgarh

मुख्यमंत्री ने स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और लोकप्रिय जन नेता स्वर्गीय श्री बिसाहू दास महंत जी की प्रतिमा का किया अनावरण, दी 226 करोड़ रुपए के विकास कार्यों की सौगात

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज जांजगीर-चाँपा जिले की सक्ती नगरपालिका परिसर में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और लोकप्रिय जन नेता स्वर्गीय श्री बिसाहू दास महंत की प्रतिमा का अनावरण किया। स्वर्गीय श्री बिसाहू दास महंत की 98 वीं जयंती के अवसर पर प्रतिमा का अनावरण करते हुए श्री भूपेश बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ के अस्मिता के प्रतीक स्वर्गीय श्री बिसाहू दास महंत जी जनप्रिय नेता थे। वे चार बार मध्यप्रदेश के कैबिनेट मंत्री तथा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष भी रहे। उनके ऐतिहासिक कार्य निर्वहन क्षमता को प्रदेश की जनता हमेशा याद रखेगी। कृषक परिवार से होने के कारण स्वर्गीय श्री बिसाहू दास महंत ने क्षेत्र में खेती-किसानी, सिंचाई और सड़कों के विकास के लिए लिए काम किया। उन्होंने सिंचाई और सड़क के महत्व को न केवल समझा बल्कि उसे मूर्तरूप देने का दूरदर्शी निर्णय भी लिया। स्वर्गीय श्री बिसाहू दास महंत ने हसदेव नदी के अथाह जल को संचित करने बांगो बांध का सपना देखा, जो आगे साकार भी हुआ। वे पृथक छत्तीसगढ़ राज्य के भी स्वप्नदृष्टा थे। सरल और सहज व्यक्तित्व के धनी स्वर्गीय बिसाहू दास जी सादा जीवन और उच्च विचार में विश्वास रखते थे। उनकी अद्भुत नेतृत्व क्षमता संगठन के लिए आदर्श है।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज जांजगीर-चांपा जिले के विकासखण्ड मुख्यालय सक्ती में क्षेत्रवासियों को 226 करोड़ 26 लाख 90 हजार रुपए के 30 विभिन्न कार्यों की सौगात दी। इनमें 13 करोड़ 67 लाख 80 हजार रुपए 11 विभिन्न कार्यों का लोकार्पण और 212 करोड़ 59 लाख रुपए की लागत के 19 कार्य का भूमि पूजन एवं शिलान्यास के कार्य शामिल हैं। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष डॉ.चरणदास महंत, राजस्व मंत्री श्री जयसिंह अग्रवाल, सांसद श्रीमती ज्योत्सना महंत, गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष महंत रामसुंदर दास, रायपुर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री सुभाष धुप्पड़, विधायक श्री रामकुमार यादव एवं जनप्रतिनिधिगण उपस्थित थे।
मुख्यमंत्री ने सक्ती में जिन कार्यों का लोकार्पण किया, उनमें 10.79 करोड़ की लागत से निर्मित 4 सड़कों, 2.53 करोड़ रुपए की लागत से मरकामगोढी से खुशउडेरा अमलीडीह पहुंच मार्ग, 2.22 करोड़ रूपए की लगात से ग्राम बघौदा से सुखरीकला तक मार्ग, 2.50 करोड रुपए की लागत से ग्राम कड़ारी से गत्वा मार्ग और 3.54 लाख रूपए की लागत से संजयग्राम से बस्ती बाराद्वार मार्ग शामिल हैं। इसके अलावा 20 लाख रूपए की लागत से शासकीय चिकित्सालय भवन सक्ती में ऑक्सीजन प्लांट के लिए शेड निर्माण, ग्राम गड़गोड़ी में 30 लाख रूपए की लागत से 2 यूनिट वर्क शेड स्ट्रांग रूम, 2 करोड़ 5 लाख 70 हजार रूपए की लागत से दारंग एनीकट का लोकार्पण शामिल हैं। इसके अलावा बम्हनीडीह के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बालक बाराद्वार में 7 लाख रूपए की लागत से कला एवं संस्कृति कक्ष निर्माण, 7.6 लाख रूपए की लागत से प्रयोगशाला कक्ष निर्माण, 9 लाख रूपए की लागत से पुस्तकालय कक्ष निर्माण और शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बीडीएम सारागांव में 7 लाख रूपए की लागत से कम्प्यूटर कक्ष निर्माण कार्य का लोकार्पण हुआ।
मुख्यमंत्री ने जिन कार्यों का भूमिपूजन किया, उनमें जल आवर्धन योजना लागत 101 करोड़, 52 लाख रुपए, जल जीवन मिशन अंतर्गत 96 करोड़ 74 लाख रूपए के लागत से ग्रामीण जल प्रदाय योजना इसी प्रकार 11 करोड़ रूपए की लागत से मल्दी सुवाडेरा (व्हाया नंदौरकला) अचानकपुर मार्ग, ग्राम बुकुरामुंडा बस्ती से धनपुर जर्वे मार्ग तक, बैलाचूहा से जगदल्ली, सीसी सड़क ग्राम धनपुर से ग्राम गुढ़वा तक ग्राम टेमर में सीसी सड़क सह नाली निर्माण का भूमिपूजन शामिल है। इन सभी स्थापनों के लिए 78-78 लाख रूपए की स्वीकृति दी गई है। इसके साथ ही नगर पालिका सक्ती में 20 लाख रूपए की लागत से चंद्रा (चन्द्रानाहू) सामाजिक भवन का भूमिपूजन शामिल है।

Leave a Reply