दूधाधारी मठ पहुंचकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने की पूजा अर्चना, झीरम घाटी की फिर होगी जांच - गोंडवाना एक्सप्रेस
gondwana express logo

दूधाधारी मठ पहुंचकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने की पूजा अर्चना, झीरम घाटी की फिर होगी जांच

रायपुर (एजेंसी) | मुख्यमंत्री बनने के बाद भूपेश बघेल की पहली सुबह मंगलवार को दूधाधारी मठ में पूजा अर्चना के साथ हुई। इस दौरान उन्होंने मठ के महंत राम सुंदर दास से भी मुलाकात की। इसके बाद प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया को एयरपोर्ट छोड़कर मंत्री टीएस सिंहदेव व ताम्रध्वज साहू के साथ विधानसभा पहुंचे और परिचय पत्र बनवाया।

एनआईए की जांच रिपोर्ट दोबारा मंगवाई जाएगी

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि दूधाधारी मठ से पुराना नाता रहा है। मैं यहां कई सालों से आता रहा हूं। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि घोषणा पत्र में किए गए सारे वादों को पूरा किया जाएगा। उसकी प्रति अधिकारियों को दे दी गई है। साथ ही झीरम कांड को लेकर एसआईटी का गठन भी कर दिया गया है।




मुख्यमंत्री भूपेश ने कहा झीरम घाटी में ऐसा नरसंहार था, जिसमें कांग्रेस के राजनेता शहीद हो गए और इस कांड के षड्यंत्रकारी खुलेआम घूम रहे हैं। उन्होंने कहा कि पूरे देश की जनता इसका सच जानना चाहती है। एसआईटी में जल्द ही सदस्यों की नियुक्ति की जाएगी। एनआईए ने जांच के बाद अपनी रिपोर्ट सबमिट कर दी है। एसआईटी के माध्यम से रिपोर्ट मंगाकर दोबारा से केस की जांच कराई जाएगी।

हाईकमान के निर्देश पर तय होगा मंत्रिमंडल

इसके बाद वे कांग्रेस प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया को एयरपोर्ट छोड़ने गए और वहां से सीधे विधानसभा पहुंचे। उनके साथ कैबिनेट मंत्री टीएस सिंहदेव, ताम्रध्वज साहू और चरणदास महंत भी पहुंचे। इस दौरान अन्य कांग्रेस विधायक और कार्यकर्ता भी मौजूद रहे। मुख्यमंत्री ने विधानसभा में अधिकारी और कर्मचारियों से मुलाकात की।

भूपेश बघेल ने पत्रकारों से कहा कि सभी नवनिर्वाचित सदस्यों को फार्म भरने यहां आना पड़ता है, इसलिए आया था। नए सदस्यों के लिए आई कार्ड भी बनता है। उसी की प्रक्रिया के लिए यहां आए थे।  यहां सेंट्रल हॉल में लगे गुरू घासीदास बाबा के चित्र पर श्रद्धा सुमन भी अर्पित किए हैं। मंत्रिमंडल के सवाल पर कहा कि हाई कमान के निर्देश मिलने के बाद कार्य किया जाएगा।

डॉ. अश्वनी देवांगन बनाए गए रायपुर जिला चिकित्साधिकारी

नई सरकार के साथ ही विभागों में तबादलों का सिलसिला जारी है। अब खाद्य विभाग में भी तबादला हो गया है। खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग के सहायक आयुक्त डॉ.अश्वनी देवांगन को रायपुर जिला चिकित्साधिकारी बनाया गया है। विभाग की ओर से जारी आदेश के बाद तत्काल प्रभाव से भार मुक्त कर दिया गया है।



Leave a Reply