रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बोले ‘व्यक्ति का विकास ही हमारा लक्ष्य’, नगर निगम रायपुर के महापौर, सभापति और पार्षदों का पदभार ग्रहण समारोह में हुए शामिल - गोंडवाना एक्सप्रेस
gondwana express logo

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बोले ‘व्यक्ति का विकास ही हमारा लक्ष्य’, नगर निगम रायपुर के महापौर, सभापति और पार्षदों का पदभार ग्रहण समारोह में हुए शामिल

padbhar-grahan-raipur-2020-nagar-nikaay

रायपुर. मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज रायपुर के इंडोर स्टेडियम में नगर निगम रायपुर के नव निर्वाचित महापौर श्री एजाज ढेबर, सभापति श्री प्रमोद दुबे और पार्षदों के पदभार ग्रहण समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि केवल रायपुर शहर के विकास में ही आप सबकी बड़ी जिम्मेदारी और भूमिका नहीं है, बल्कि आपके कार्यों से छत्तीसगढ़ की पहचान और छवि भी बनेगी। मुख्यमंत्री ने नवनिर्वाचित जनप्रतिनिधियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि शहर के विकास के लिए धन राशि की कमी नहीं होने दी जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा आज नगर निगम कोरबा में महापौर पद के लिए हुए निर्वाचन सहित प्रदेश के सभी दस नगर निगमों में उनके दल की जीत हुई है। रायपुर नगर निगम में जीत की हैट्रिक लगाई गई है। इसी तरह करीब 28 नगर पालिका परिषदों और 61 नगर पंचायतों में भी हमारी जीत हुई है। उन्होंने कहा निर्वाचित जनप्रतिनिधियों के प्रति नागरिकों की उम्मीद और विश्वास बहुत ज्यादा है और हमें उनकी उम्मीदों को पूरा करना है। श्री भूपेश बघेल ने कहा छत्तीसगढ़ सरकार की योजना के केन्द्र में ‘व्यक्ति‘ है। ‘व्यक्ति‘ का विकास करना ही हमारा लक्ष्य है। उन्होंने कहा हमें छत्तीसगढ़ में शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार के क्षेत्र में बेहतर से बेहतर कार्य करना हैं और जब तक इसे नहीं करेंगे तब तक चैन से नहीं बैठेंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज छेरछेरा का पारंपरिक त्यौहार है। इस अवसर पर उन्होंने और उनके मंत्रीमंडल के सदस्यों ने रायपुर के दूधाधारी मठ जाकर दान मांगा। वहां के मंहत राजेश्री रामसुन्दर दास जी ने धान के साथ-साथ कुपोषण के खिलाफ छत्तीसगढ़ में जारी कुपोषण मुक्ति अभियान के लिए सवा लाख रूपये की धन राशि भी दान में दी। उन्होंने कहा कि जब भी समाज किसी अभियान के लिए आगे आकर सहयोग देता है, तो उस लड़ाई को जीतना आसान हो जाता है। छत्तीसगढ़ में कुपोषण के खिलाफ जंग जीती जाएगी।

padhar-grahan-2020-raipur-2

समारोह में कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने ‘गढ़बो नवा छत्तीसगढ़‘ का नारा दिया है। रायपुर शहर में जितनी अधिक विकास की चुनौती है उतनी अधिक विकास की संभावनाएं भी है। रायपुर शहर केे विकास के लिए जितनी धन राशि की जरूरत होगी उसकी पूर्ति की जाएगी। समारोह को राज्यसभा श्रीमती छाया वर्मा, विधायक श्री मोहन मरकाम, डॉ. शिव डहरिया, श्री सत्यनारायण शर्मा, श्री कुलदीप जुनेजा, श्री विकास उपाध्याय, श्रीमती अनिता योगेन्द्र शर्मा, श्री सूर्यकांत राठौर ने भी सम्बोधित किया।

नवनिर्वाचित महापौर श्री एजाज ढेबर ने अपने संबोधन में कहा कि हमारा प्रयास रहेगा कि रायपुर शहर की पहचान स्वच्छ, सुन्दर, प्रदूषण मुक्त शहर के रूप में हो। उन्होेंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के भावना के अनुरूप ‘गढ़बो नवा छत्तीसगढ़‘ की परिकल्पना को साकार करने के साथ-साथ आवास, पेयजल, रोजगार, पानी टेंकर मुक्त शहर, मोर जमीन मोर मकान योजना, वार्ड कार्यालय योजना, पौनी पसारी योजना जैसे अनेक कार्यों पर विशेष रूप से जोर दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज छेरछेरा का पारंपरिक त्यौहार है। इस अवसर पर उन्होंने और उनके मंत्रीमंडल के सदस्यों ने रायपुर के दूधाधारी मठ जाकर दान मांगा। वहां के मंहत राजेश्री रामसुन्दर दास जी ने धान के साथ-साथ कुपोषण के खिलाफ छत्तीसगढ़ में जारी कुपोषण मुक्ति अभियान के लिए सवा लाख रूपये की धन राशि भी दान में दी। उन्होंने कहा कि जब भी समाज किसी अभियान के लिए आगे आकर सहयोग देता है, तो उस लड़ाई को जीतना आसान हो जाता है। छत्तीसगढ़ में कुपोषण के खिलाफ जंग जीती जाएगी।

समारोह में कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने ‘गढ़बो नवा छत्तीसगढ़‘ का नारा दिया है। रायपुर शहर में जितनी अधिक विकास की चुनौती है उतनी अधिक विकास की संभावनाएं भी है। रायपुर शहर केे विकास के लिए जितनी धन राशि की जरूरत होगी उसकी पूर्ति की जाएगी। समारोह को राज्यसभा श्रीमती छाया वर्मा, विधायक श्री मोहन मरकाम, डॉ. शिव डहरिया, श्री सत्यनारायण शर्मा, श्री कुलदीप जुनेजा, श्री विकास उपाध्याय, श्रीमती अनिता योगेन्द्र शर्मा, श्री सूर्यकांत राठौर ने भी सम्बोधित किया।

नवनिर्वाचित महापौर श्री एजाज ढेबर ने अपने संबोधन में कहा कि हमारा प्रयास रहेगा कि रायपुर शहर की पहचान स्वच्छ, सुन्दर, प्रदूषण मुक्त शहर के रूप में हो। उन्होेंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के भावना के अनुरूप ‘गढ़बो नवा छत्तीसगढ़‘ की परिकल्पना को साकार करने के साथ-साथ आवास, पेयजल, रोजगार, पानी टेंकर मुक्त शहर, मोर जमीन मोर मकान योजना, वार्ड कार्यालय योजना, पौनी पसारी योजना जैसे अनेक कार्यों पर विशेष रूप से जोर दिया जाएगा।

Leave a Reply