छत्तीसगढ़ की खाद्यान्न योजना की गुंज मैनें संयुक्त राष्ट्र में भी सुनी है: सुषमा स्वराज

रायपुर (एजेंसी) | रायपुर उत्तर विधानसभा के कार्यकर्ताओं को संबोधित करने शनिवार को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज रायपुर पहुंची। उन्होंने कहा कि मुझे गर्व है कि छत्तीसगढ़ प्रदेश की खाद्यान्न योजना की चर्चा संयुक्त राष्ट्र में भी होती है, मुझसे विदेशों में पूछा जाता है कि भारत में कौन सा प्रदेश है जहां  कोई भूखा नहीं सोता, तो मेरे मुख से सदैव छत्तीसगढ़ का नाम निकलता है।




उन्होंने उत्तर विधानसभा प्रत्याशी श्रीचंद सुन्दरानी जी को आशिर्वाद देते हुए कहा कि मुझे खुशी है कि यहां के विधायक अपने विकास कार्यों के आधार पर वोट मांग रहे हैं, जज्बातों के आधार पर नहीं। लोकतंत्र को ऐसे ही विधायकों की जरूरत है।

उन्होंनें कहा कि मैं रायपुर की नगरी को प्रणाम करती हूं जहां देश का सबसे ऊंचा झण्डा लहराता है। उन्होंने मोदी सरकार के कार्यों का उल्लेख करते हुए बताया कि यह सरकार गरीबों की सरकार है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लाल किले से भाषण देते हुए यह घोषणा की थी कि मैं किसी घर में अंधेरा नहीं रहने दूंगा। उसे उन्होंने सौभाग्य योजना से पूरा किया। गरीब व्यक्ति बैंक में जाने से घबराता था उसे भय होता था कि उसे बैंक में घुसने दिया जाएगा कि नहीं या पैसे नहीं होने की वजह से बैंक नहीं जा पाता था।

उज्जवला योजना से हर महिला अब  स्वस्थ्य और स्वाभिमानी जीवन व्यतीत कर रही है: सुषमा स्वराज 

सरकार की जनधन योजना ने देश की एक तिहाई जनता को बैंकों से जोड़ा है। उन्होंने बताया कि उज्जवला केवल एक मुफ्त गैस कनेक्शन नहीं, बल्कि महिला सशक्तिकरण की दिशा में एक बड़ा कदम है। गैस कनेक्शन मिलने से लकड़ी काटने व चुल्हा जलाने में लगने वाले समय का सदुउपयोग महिलाएं अब अन्य कामों के लिए करती है। साथ ही लकड़ी को सर पर ढोते-ढोते जो सर के बाल गवां देती थी व धुएं से परेशान रहती थी अब वह एक स्वस्थ्य और स्वाभिमानी जीवन व्यतीत कर रही है।

छत्तीसगढ़ में हुए विकास कार्यों की प्रशंसा करते हुए उन्होंने बताया कि बच्चों की पढ़ाई पूरी न होने की वजह से जो माता-पिता मायूस रहते थे, आज उनके बच्चे लाइवलीहुड कॉलेजों में अपनी पसन्द का कार्य सीख रहे हैं। साथ ही भाजपा सरकार के संकल्प पत्र के बारे में बताते हुए कहा कि अब जो बच्ची पढ़ाई में होशियार होगी उसे घर नहीं बैठाना है, रमन सरकार उन्हें परिवहन में सुगमता के लिए स्कूटी देने का काम करेगी। अब छत्तीसगढ़ के हर परिवार को एक लाख रूपये की मेडिकल मदद भी रमन सरकार देने जा रही है। 2022 तक छत्तीसगढ़ का हर व्यक्ति अपना आवास होने का सपना पूरा कर लेगा। कार्यक्रम में उपस्थित सांसद रमेश बैस ने छत्तीसगढ़ को एम्स की सौगात देने के लिए सुषमा स्वराज का धन्यवाद किया। उत्तर विधानसभा के प्रत्याशी श्रीचंद सुन्दरानी ने अपने ओजस्वी उद्बोधन से कार्यकर्ताओं में जोश भरते हुए अपील की कि कार्यकर्ता उन्हें अपना दस दिन दें उसके बदले वह उन्हें अपना पांच साल देंगे।



Leave a Reply