दिनांक : 05-Dec-2022 09:03 AM   रायपुर, छत्तीसगढ़ से प्रकाशन   संस्थापक : पूज्य श्री स्व. भरत दुदानी जी
Follow us : Youtube | Facebook | Twitter English English Hindi Hindi
Shadow

आज आपकी ही तरह मैंने भी हाट बाजार से की खरीदी, पत्नी के लिए बिंदी, सिंदूर और मेहंदी : बड़े किलेपाल में आयोजित भेंट मुलाकात के मौके पर मुख्यमंत्री ने किया ग्रामीणों को संबोधित

24/05/2022 posted by Priyanka (Media Desk) Chhattisgarh, India, Jagdalpur    

चित्रकोट विधानसभा के बड़े किलेपाल में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल जब भेंट मुलाकात के लिए पहुंचे तो सबसे पहले यहां आयोजित हाट बाजार देखने आये। हाटबाजार से जैसे ही मुख्यमंत्री गुजरे। दुकानदार बसंत राय ने उन्हें आवाज लगाई – कका, काकी के लिए बिंदी लेते जाइये। मुख्यमंत्री ने कहा- दिखाओ क्या क्या रखे हो, फिर उन्होंने बिंदी खरीद ली। भेंट मुलाकात के दौरान इसका जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि जैसे आप लोगों ने आज हाट बाजार से बहुत सी चीजें खरीदी हैं।

उसी तरह मैंने भी अपनी पत्नी के लिए आज बाजार से बिंदी, सिंदूर खरीदा है। स्थानीय लोगों ने उन्हें पारंपरिक पटका, कलगी और महुआ की माला पहनाई। हाट बाजार में मुख्यमंत्री ने मोबाइल मेडिकल यूनिट देखी जिससे ग्रामीणों का इलाज हो रहा है। यहां उन्होंने उपलब्ध दवाइयों की जानकारी ली, चिकित्सकों से यहां हो रहे इलाज के बारे में पूछा। चिकित्सकों ने बताया कि जिले में संस्थागत प्रसव को बढ़ावा देने के लिए सांगा जान नाम से योजना चलाई जा रही है। मुख्यमंत्री ने इस पहल की प्रशंसा की।

स्वामी आत्मानंद स्कूलों में हास्टल की भी होगी सुविधा, फिलहाल बच्चों के आने जाने बस हेतु आदिवासी युवकों को किया जाएगा फाइनेंस- मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वामी आत्मानंद स्कूल तेजी से खुल रहे हैं। इनमें हास्टल का इंतजाम भी किया जाएगा। इसके निर्माण पूरा होने तक बच्चों को आने जाने की सुविधा मिल सके, इसके लिए बस आदि का इंतजाम करेंगे।

बस के लिए आदिवासी युवकों को फाइनेंस किया जाएगा। इस मौके पर स्वामी आत्मानंद स्कूल के बच्चों ने मुख्यमंत्री जी को उनकी माता जी के साथ बना सुंदर स्केज भेंट किया। मुख्यमंत्री ने बच्चों की इस प्यारी भेंट पर सराहा तथा बच्चों के साथ सेल्फी भी ली। उन्होंने हायर सेकेंडरी और हाईस्कूल में के मेधावी छात्र-छात्राओं को सम्मानित भी किया।

कैंसर से सरकारी मदद से मिली निजात- ललिता वट्टी ने मुख्यमंत्री को बताया कि शासन की योजनाओं से बीमारी में लंबे चौड़े खर्च की परेशानी दूर हुई है। ललिता की भाभी कैंसर से पीड़ित थी। मुख्यमंत्री निःशुल्क स्वास्थ्य सहायता योजना से डेढ़ लाख रूपए मिले जिससे इलाज संभव हो पाया। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य सरकार की प्राथमिकता है। लोगों को सहज स्वास्थ्य सुविधा मिल पाए और बीमारियों पर नियंत्रण हो सके, इस दिशा में ठोस कार्य किया गया है।

गोधन न्याय योजना से समूह को हुई 2 लाख रूपए की कमाई, सदस्यों ने खरीदे गहने- गोधन न्याय योजना का लाभ लेने वैजंती ने समूह बनाया। वैजंती ने मुख्यमंत्री को बताया कि हम लोग10 सदस्य हैं। सबने कड़ी मेहनत की और इससे हमारे सपने पूरे हुए। हम सबने गहने खरीदे हैं। गोधन न्याय योजना हमारे खुशियों की कुंजी साबित हुई है। मुख्यमंत्री ने महिलाओं को शाबासी देते हुए कहा कि शासन की योजनाएं खासतौर पर ग्रामीण विकास को केंद्रित कर बनाई गई हैं जिससे आप सभी को लाभ हो रहा है।

वनधन योजना से हो रही आय- बड़े किलेपाल की अंजना बघेल ने बताया कि वन समितियों के माध्यम से सभी को रोजगार मिल रहा है। वनधन योजना के माध्यम से लघु वनोपजों का संग्रहण कर उनका समूह दो लाख 50 हजार रुपए की आय अर्जित कर चुका है।
सल्फी का पौधा रोपा- बस्तर में सल्फी सबसे खास पेड़ होता है और लोग सल्फी के पेड़ को धन की तरह मानते हैं। पुराने समय में सल्फी के पेड़ से किसी घर की संपन्नता आंकी जाती थी। मुख्यमंत्री ने आज सल्फी का पौधा भी रोपा।

तहसील कार्यालय बास्तानार का किया निरीक्षण, लोगों की सुविधा के लिए राजस्व शिविर लगाने दिये निर्देश- मुख्यमंत्री ने इस मौके पर तहसील कार्यालय बास्तानार का निरीक्षण भी किया। वहां उन्होंने सभी रजिस्टर देखे। दर्ज प्रकरणों की जानकारी ली और कहा कि सभी प्रकरण समयसीमा में निराकृत होने चाहिएं। यहां उन्होंने बंदोबस्त दुरुस्तीकरण, गोश्वारा, आनलाइन पोर्टल का अवलोकन किया। सीमांकन, नामांतरण आदि के लिए शिविर लगाने निर्देश दिये।

मुख्यमंत्री की महत्वपूर्ण घोषणाएं- बास्तानार ब्लाक में राजस्व बंदोबस्त त्रुटि सुधार के लिए कलेक्टर को निर्देश दिए। परलमेटा से बांडापारा किलेपाल तक डामर सड़क, हायर सेकेंडरी स्कूल बड़े किलेपाल के लिए नए भवन, ग्राम अल्वा डोंगरापारा में स्टाप डैम, कोंदलूर से दरभा मुख्यालय तक 6 किमी डामर सड़क, बास्तानार में जिला सहकारी बैंक की नवीन शाखा खोलने की घोषणा की।

Author Profile

Priyanka (Media Desk)
Priyanka (Media Desk)प्रियंका (Media Desk)
"जय जोहार" आशा करती हूँ हमारा प्रयास "गोंडवाना एक्सप्रेस" आदिवासी समाज के विकास और विश्व प्रचार-प्रसार में क्रांति लाएगा, इंटरनेट के माध्यम से अमेरिका, यूरोप आदि देशो के लोग और हमारे भारत की नवनीतम खबरे, हमारे खान-पान, लोक नृत्य-गीत, कला और संस्कृति आदि के बारे में जानेगे और भारत की विभन्न जगहों के साथ साथ आदिवासी अंचलो का भी प्रवास करने अवश्य आएंगे।