दिनांक : 05-Feb-2023 06:39 PM   रायपुर, छत्तीसगढ़ से प्रकाशन   संस्थापक : पूज्य श्री स्व. भरत दुदानी जी
Follow us : Youtube | Facebook | Twitter English English Hindi Hindi
Shadow

रायपुर : ​​​​​​​आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर निःशुल्क औषधीय पौधों का वितरण

15/08/2022 posted by Priyanka (Media Desk) Chhattisgarh, India    

आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में वन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर के मार्गदर्शन में ‘औषधीय पौधों का ज्ञान-स्वस्थ जीवन की पहचान’ अभियान चलाया गया। जिसके तहत संजीवनी मार्ट बिलासपुर परिसर में औषधीय पौधों का निःशुल्क वितरण कार्यक्रम आयोजित किया गया। यह आयोजन परंपरागत ज्ञान एवं वनौषधि विकास फाउंडेशन एवं वन मंडलाधिकारी वन मंडल बिलासपुर के संयुक्त तत्वावधान में किया गया।

परंपरागत ज्ञान एवं वनौषधि विकास फाउंडेशन द्वारा मुख्यतः 2 लाख औषधीय पौधे तैयार किए गए हैं। जिनमें गिलोय, अडूसा, स्टीविया, गुड़मार, सतावर, आंवला, पत्थर चट्टा, तुलसी, निर्गुणी, ब्राम्ही, मंडूपपर्णी, हल्दी, कपूर कचरी, बच आदि शामिल हैं। छत्तीसगढ़ शासन की मंशानुरूप परंपरागत ज्ञान आधारित चिकित्सा पद्धति को बढ़ावा देने एवं संजीवनी मार्ट द्वारा उत्पादित हर्बल औषधियों के प्रचार-प्रसार एवं औषधीय पौधों के प्रति जन जागरुकता लाने हेतु पारंपरिक वैद्यों के माध्यम से आम जनता हेतु यह कार्यक्रम स्वतंत्रता दिवस के दिन रखा गया। कार्यक्रम के तहत आज सुबह पर्यटन मंडल अध्यक्ष श्री अटल श्रीवास्तव एवं नगर निगम बिलासपुर महापौर श्री रामशरण यादव, जिला पंचायत बिलासपुर अध्यक्ष श्री अरूण सिंह चौहान कृषि सहकारी बैंक अध्यक्ष श्री प्रमोद नायक ने हर्बल रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

तत्पश्चात बिलासपुर विधायक श्री शैलेश पांडेय द्वारा लोगों को औषधीय पौधों का वितरण किया गया।  इस अवसर पर कार्यक्रम के अंतर्गत एक हजार 236 लोगों को 8 हजार 360 औषधीय पौधों का निःशुल्क वितरण किया गया। इस अवसर पर वन मंडलाधिकारी श्री कुमार निशांत वन मंडल बिलासपुर के अलावा वन विभाग के अधिकारी-कर्मचारी एवं स्थानीय पारंपरिक वैद्य श्री अवधेश एवं अन्य वैद्यों द्वारा संजीवनी में पारंपरिक रूप से औषधि के माध्यम से उपचार हेतु जागरूक किया गया। यह जानकारी परंपरागत ज्ञान एवं वनौषधि विकास फाउंडेशन संचालक श्री निर्मल अवस्थी ने दी। कार्यक्रम में श्री राजेश शर्मा, श्री निश्चल अवस्थी, श्री गुंजन यादव एवं संजीवनी मार्ट के सीनियर एज्युकेटिव श्री संजय चौबे आदि की सराहनीय भूमिका रही।

Author Profile

Priyanka (Media Desk)
Priyanka (Media Desk)प्रियंका (Media Desk)
"जय जोहार" आशा करती हूँ हमारा प्रयास "गोंडवाना एक्सप्रेस" आदिवासी समाज के विकास और विश्व प्रचार-प्रसार में क्रांति लाएगा, इंटरनेट के माध्यम से अमेरिका, यूरोप आदि देशो के लोग और हमारे भारत की नवनीतम खबरे, हमारे खान-पान, लोक नृत्य-गीत, कला और संस्कृति आदि के बारे में जानेगे और भारत की विभन्न जगहों के साथ साथ आदिवासी अंचलो का भी प्रवास करने अवश्य आएंगे।