Politics

विधानसभा सत्र: सभी विधायकों का होगा कोरोना टेस्ट, रिपोर्ट निगेटिव आने पर ही सदन में शामिल होने का अवसर मिलेगा

स्पीकर डॉ. महंत ने कोरोना के संक्रमण को देखते हुए सभी 90 विधायकों को अपना कोरोना टेस्ट विधानसभा में विशेष लैब में 23 अगस्त को कराने कहा है, ताकि 24 अगस्त तक रिपोर्ट आ सके। जिनकी रिपोर्ट निगेटिव होगी, उन्हें ही सदन की कार्यवाही में शामिल होने का अवसर मिलेगा।

विधानसभा के प्रमुख सचिव चंद्रशेखर गंगराड़े ने बताया कि टेस्ट के लिए स्पेशल लैब बनाई जा रही है। इस सत्र में एहतियात के तौर पर पत्रकारों व जनता का सदन में प्रवेश बैन कर दिया गया। केवल विधायकों को ही प्रवेश दिया जाएगा।

मीडिया को कवरेज की अनुमति दी जाए: शर्मा

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता व विधायक शिवरतन शर्मा ने सरकार से पूछा है कि क्या सरकार अपनी नाकामियों की पोल खुलने से इतनी भयभीत हो गई है कि अब वह विधानसभा में भी चर्चा करने के बजाय मुंह चुराने को विवश हो गई है? हर मोर्चे पर विफल प्रदेश सरकार एक गहरे अपराध बोध से जूझ रही है। इतनी कम अवधि का सत्र रखकर सरकार ने साफ कर दिया है कि प्रदेश के हित में कोई सार्थक चर्चा करने को वह तैयार नहीं है।

शर्मा ने विधानसभा की कार्यवाही की रिपोर्टिंग के लिए मीडिया को प्रतिबंधित करने पर भी ऐतराज किया है। कांग्रेस में बुलाकर मीडिया से चर्चा करते समय जिन नेताओं और सरकार को कोरोना का भय नहीं सताता, उन्हें विधानसभा में मीडिया की उपस्थिति से किस बात का भय सता रहा है? प्रदेश सरकार को कार्यवाही की रिपोर्टिंग की वैकल्पिक व्यवस्था करनी चाहिए।

Leave a Reply