chhattisgarh-students-returning-from-kota
Chhattisgarh Education & Jobs India

छत्तीसगढ़ : कोटा से लौटे छात्रों को नहीं रहना होगा क्वारैंटाइन सेंटर में, अपने घरो में होम क्वारैंटाइन किये जायेंगे

रायपुर. प्रदेश के अलग-अलग जिलों में क्वारैंटाइन सेंटर में रह रहे छात्र घर जा सकेंगे। इन सभी को कोटा राजस्थान से सरकार बस में छत्तीसगढ़ लेकर लौटी थी। 14 दिनों तक क्वारैंटाइन सेंटर में ही रहने की बाध्यता थी, जिसे अब खत्म कर दिया गया है। करीब सप्ताह भर पहले ही बच्चों को लाया गया था। बच्चों के परिजन क्वारैंटाइन सेंटर में गर्मी, खाने की व्यवस्था, बिजली, टॉयलेट की सफाई को लेकर सवाल उठा रहे थे। लगातार प्रशासन से होम क्वारैंटाइन की मांग भी कर रहे थे। कुछ सेंटर से आज शाम को ही बच्चों को उनके घर भेजा जाएगा, जबकि कुछ जगहों पर यह कार्रवाई बुधवार को होगी।

अब मिलेगी होम क्वारैंटाइन की सुविधा, परिजन बेहद खुश 

बच्चों को वापस भेजने की तैयारी सभी जगहों पर की जा रही है। दुर्ग जिले में स्थित रुंगटा कॉलेज को क्वारैंटाइन सेंटर बनाया गया है। इस सेंटर के प्रभारी अमित घोष ने बताया कि बच्चों से तैयारी करने को कहा गया है, जिला प्रशासन कल बुधवार को इन्हें ले जाएगा। बिलासपुर के तहसीलदार अभिषेक राठौर ने बताया कि सभी जगहों से बच्चों को वापस उनके घर भेजा जाएगा। बिलासपुर में प्रक्रिया कल से शुरू होगी। रायपुर, दुर्ग समेत रायगढ़, कवर्धा, बेमेतरा, कांकेर में 2500 बच्चों को क्वारैंटाइन किया गया था।

Leave a Reply