Chhattisgarh Education & Jobs

छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट का बड़ा फैसला, निजी स्कूल अब सिर्फ ट्यूशन फीस ले सकेंगे

बिलासपुर. छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट से ने फैसला सुनाया है की निजी स्कूल अब सिर्फ ट्यूशन फीस ले सकेंगे। वो अन्य फीस नही ले सकेंगे। छत्तीसगढ़ के निजी स्कूलों के फीस लेने पर लगाई गई रोक के खिलाफ स्कूल प्रबंधकों ने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। सरकार के फैसले के खिलाफ निजी स्कूल संघ ने हाईकोर्ट में याचिका लगाई थी। हाईकोर्ट ने निजी स्कूलों को सिर्फ ट्यूशन फीस लेने का आदेश दे दिया है।

सरकार के आदेश को चुनौती देते हुए याचिका में कहा गया था कि उन्हें ट्यूशन फीस लेने की अनुमति दी जाए। इसको लेकर बिलासपुर के 22 प्राइवेट स्कूल प्रबंधकों के संगठन ने हाईकोर्ट से राहत की मांग की थी। याचिका अधिवक्ता आशीष श्रीवास्तव के माध्यम से प्रस्तुत की गई थी। प्राइवेट स्कूल के संचालकों के संगठन बिलासपुर प्राइवेट स्कूल मैनेजमेंट एसोसिएशन ने संचालक लोक शिक्षण की ओर से जारी आदेश को चुनौती दी थी।

पहले जारी आदेश में स्कूल संचालकों से कहा था कि निजी स्कूल लॉकडाउन अवधि में स्कूल फीस स्थगित रखें। साथ ही ये आदेश दिया कि संस्थान के सभी शिक्षक और कर्मचारियों को उनका वेतन देना सुनिश्चित करें।

याचिका में निजी स्कूलों ने कहा था कि जो अभिभावक सक्षम हैं उनसे ट्यूशन फीस लेने की अनुमति दी जाए। अगर वे फीस नहीं ले पाएंगे तो कर्मचारियों और शिक्षकों का वेतन कहां से देंगे। वैसे भी स्कूलों के शिक्षकगण बच्चों को ऑनलाइन क्लास ले दे रहे हैं।

Leave a Reply