premsay-tekam-releases-10th-12th-exam-results
Chhattisgarh Education & Jobs India

वीडियो : स्कूल शिक्षा मंत्री ने घोषित किया 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा का परिणाम : सफल विद्यार्थियों को दी शुभकामनाएं

रायपुर। स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने आज चिप्स कार्यालय से छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा आयोजित हाई स्कूल और हायर सेकेण्डरी सर्टिफिकेट मुख्य परीक्षा वर्ष 2020 के परिणाम घोषित किए। हाई स्कूल परीक्षा में 73.62 एवं हायर सेकेण्डरी परीक्षा में 78.59 परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए। इस अवसर पर माध्यमिक शिक्षा मण्डल के अध्यक्ष डॉ. आलोक शुक्ला, सचिव प्रोफेसर व्ही.के.गोयल, माध्यमिक शिक्षा मण्डल के सदस्यगण उपस्थित थे। डॉ. टेकाम ने परीक्षा में उत्तीर्ण विद्यार्थियों को बधाई और शुभकामनाएं देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। उन्होंने कहा कि असफलसता की सफलता की कुंजी है इसे मद्देनजर रखते हुए, जो परीक्षार्थी असफल हो गए हैं, वे निराश न हो। पुनः मेहनत करे सफलता अवश्य मिलेगी। डॉ. टेकाम ने बताया कि हाई स्कूल के परीक्षा परिणाम में गतवर्ष की तुलना में 5.42 प्रतिशत और हायर स्कूल परीक्षा परिणाम में भी गतवर्ष की तुलना में 0.16 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

परीक्षा परिणाम छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मण्डल की वेबसाइट www.cgbse.nic.in  वेबसाइट पर उपलब्ध है तथा वेबसाइट http://results.gov.in/cgresults www.results.cg.nic.in  पर उपलब्ध है।

हाई स्कूल परीक्षा में 73.62 प्रतिशत परीक्षार्थी उत्तीर्ण

स्कूल शिक्षा मंत्री ने बताया कि छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा आयोजित हाई स्कूल सर्टिफिकेट मुख्य परीक्षा वर्ष 2020 में कुल 3 लाख 92 हजार 153 परीक्षार्थी पंजीकृत हुए। इनमें से 3 लाख 84 हजार 761 परीक्षार्थी परीक्षा में सम्मिलित हुए, जिनमें से एक लाख 78 हजार 079 बालक तथा 2 लाख 06 हजार 682 बालिकाएं सम्मिलित हुई, जिसमें से 3 लाख 84 हजार 599 परीक्षार्थियों के परीक्षा परिणाम घोषित किए गए। घोषित परीक्षा परिणाम में से उत्तीर्ण परीक्षार्थियों की कुल संख्या 2 लाख 83 हजार 157 है अर्थात कुल 73.62 प्रतिशत परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए। उत्तीर्ण बालिकाओं का प्रतिशत 76.28 तथा बालकों का प्रतिशत 70.53 है। सम्मिलित परीक्षार्थियों में प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण परीक्षार्थियों की संख्या एक लाख 26 हजार 384 (32.86 प्रतिशत) है, द्वितीय श्रेणी में उत्तीर्ण परीक्षार्थियों की संख्या एक लाख 42 हजार 983 (37.18 प्रतिशत) है, तथा तृतीय श्रेणी में उत्तीर्ण परीक्षार्थियों की संख्या 13 हजार 788 (3.59 प्रतिशत) है। 25 हजार 487 परीक्षार्थियों को पूरक की पात्रता है। कुल 162 परीक्षार्थियों के परिणाम विभिन्न कारणों से रोके गए हैं, जिसमें 39 परीक्षार्थियों के परिणाम नकल प्रकरण के कारण 117 परीक्षार्थियों के परीक्षा परिणाम पात्रता के अभाव में निरस्त किए गए है। इसके अतिरिक्त 06 परीक्षार्थियों के परीक्षा परिणाम बाद में घोषित किए जाएंगे।

बालिकाओं का प्रतिशत 76.28 तथा बालकों का प्रतिशत 70.53

डॉ. टेकाम ने बताया कि गतवर्ष हाई स्कूल सर्टिफिकेट मुख्य परीक्षा में कुल 3 लाख 84 हजार 664 परीक्षार्थी परीक्षा में सम्मिलित हुए थे, जिनमें से  एक लाख 79 हजार 705 बालक तथा 2 लाख 4 हजार 959 बालिकाएं सम्मिलित हुई थीं। सम्मिलित परीक्षार्थियों के उत्तीर्ण का प्रतिशत 68.20 था। इस प्रकार गतवर्ष से इस वर्ष परीक्षा परिणाम में लगभग 5.42 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

हायर सेकेण्डरी परीक्षा में 78.59 प्रतिशत परीक्षार्थी उत्तीर्ण 

स्कूल शिक्षा मंत्री ने कहा कि हायर सेकेण्डरी स्कूल सर्टिफिकेट परीक्षा वर्ष 2020 में कुल 2 लाख 77 हजार 563 परीक्षार्थी पंजीकृत हुए। इनमेें से 2 लाख 75 हजार 736 परीक्षार्थी परीक्षा में सम्मिलित हुए। जिनमें से एक लाख 29 हजार 315 बालक तथा एक लाख 46 हजार 421 बालिकाएं सम्मिलित हुई, जिनमें से दो लाख 75 हजार 495 परीक्षार्थियों के परीक्षा परिणाम घोषित किए गए। घोषित परीक्षा परिणाम  में से उत्तीर्ण परीक्षार्थियों की कुल संख्या 2 लाख 16 हजार 526 है अर्थात कुल 78.59 प्रतिशत परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए। उत्तीर्ण बालिकाओं का प्रतिशत 82.02 तथा बालकों का प्रतिशत 74.70 है। सम्मिलित परीक्षार्थियों में प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण परीक्षार्थियों की संख्या 72 हजार 385 (26.27 प्रतिशत) है, द्वितीय श्रेणी में उत्तीर्ण परीक्षार्थियों की संख्या एक लाख 34 हजार 631 (48.87 प्रतिशत) है तथा तृतीय श्रेणी में उत्तीर्ण परीक्षार्थियों की संख्या 9 हजार 493 (3.45 प्रतिशत) है। 17 परीक्षार्थियों को पास की श्रेणी में उत्तीर्ण किया गया है। 34 हजार 880 परीक्षार्थियों को पूरक की पात्रता है। कुल 241 परीक्षार्थियों के परिणाम विभिन्न कारणों से रोके गए, जिसमें 70 परीक्षार्थियों के परिणाम नकल प्रकरण के कारण, 168 परीक्षार्थियों के परीक्षा परिणाम पात्रता के अभाव में निरस्त किए गए हैं तथा 01 परीक्षार्थियों के परीक्षा परिणाम जांच की श्रेणी में रोका गया है। इसके अतिरिक्त 02 परीक्षार्थियों के परीक्षा परिणाम बाद में घोषित किए जाएंगे।

बालिकाओं का प्रतिशत 82.02 तथा बालकों का प्रतिशत 74.70

डॉ. टेकाम ने बताया कि गतवर्ष हायर स्कूल सर्टिफिकेट मुख्य परीक्षा में कुल 2 लाख 60 हजार 521 परीक्षार्थी परीक्षा में सम्मिलित हुए थे, जिनमें से एक लाख 24 हजार 370 बालक तथा एक लाख 36 हजार 151 बालिकाएं सम्मिलित हुई थीं। सम्मिलित परीक्षार्थियों के उत्तीर्ण का प्रतिशत 78.43 था। इस प्रकार गतवर्ष से इस वर्ष परीक्षा परिणाम में 0.16 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

स्कूल शिक्षा मंत्री ने कहा कि मण्डल द्वारा आयोजित हायर सेकेण्डरी व्यावसायिक में परीक्षा वर्ष 2020 में कुल 1677 परीक्षार्थी पंजीकृत हुए, इनमें से 1660 परीक्षार्थी परीक्षा में सम्मिलित हुए, जिनमें से 1037 बालक तथा 623 बालिकाएं हैं। उत्तीर्ण परीक्षार्थी की संख्या 1520 है, जो सम्मिलित परीक्षार्थियों की संख्या 91.63 प्रतिशत है। कुल 02 परीक्षार्थियों के परिणाम पात्रता के अभाव में निरस्त किए गए हैं।

पिछले वर्ष की तुलना में हाई स्कूल के परीक्षा परिणाम में 5.42 प्रतिशत और हायर स्कूल परीक्षा परिणाम में 0.16 प्रतिशत की वृद्धि 

डॉ. टेकाम ने बताया कि गतवर्ष हायर सेकेण्डरी व्यावसायिक पाठ्यक्रम मुख्य परीक्षा में कुल 1931 परीक्षार्थी परीक्षा में सम्मिलित हुए थे, जिनमें से 1206 बालक 725 बालिकाएं थीं। सम्मिलित परीक्षार्थियों का उत्तीर्ण का प्रतिशत 98.80 था। उन्होंने कहा कि प्रदेश में हाईस्कूल परीक्षा के 2304, हायर सेकेण्डरी परीक्षा के 2212 एवं हायर सेकेण्डरी व्यावसायिक परीक्षा के 65 परीक्षा केन्द्र तथा 28 समन्वय केन्द्र बनाए गए थे।

डॉ. टेकाम ने कहा कि शैक्षणेत्तर गतिविधियों में प्रावीण्य परीक्षाओं को परीक्षा में बोनस अंक दिए जाने के छत्तीसगढ़ शासन, स्कूल शिक्षा विभाग के आदेशानुसार वर्ष 2020 में हाईस्कूल परीक्षा के 1777 हायर सेकेण्डरी परीक्षा में 1721 एवं हायर सेकेण्डरी व्यावसायिक परीक्षा के 09, कुल 3507 परीक्षार्थियों को बोनस अंक प्रदान किया गया। गतवर्ष हाईस्कूल के 1859, हायर सेकेण्डरी के 1487 एवं हायर व्यावसायिक परीक्षा के 14, कुल 3360 परीक्षार्थियों को बोनस अंक प्रदान किया गया था।

Leave a Reply