छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 Live: पहले चरण की 18 सीटों पर मतदान जारी, नक्‍सलियों को मतदाताओं का करारा जवाब - गोंडवाना एक्सप्रेस
gondwana express logo

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 Live: पहले चरण की 18 सीटों पर मतदान जारी, नक्‍सलियों को मतदाताओं का करारा जवाब

जगदलपुर (एजेंसी) | 5 राज्‍यों में होने वाले विधानसभा चुनावों की शुरुआत आज (12 नवंबर) से हो गई। इसके तहत आज छत्‍तीसगढ़ में पहले चरण के लिए 10 सीटों पर सुबह 7 बजे सेे वोटिंग जारी है। वहीं, आठ सीटों पर सुबह 8 से मतदान शुरू हुआ। इसमें छत्‍तीसगढ़ के मतदाता नक्‍सलियों को करारा जवाब देते दिख रहे हैं। छत्‍तीसगढ़ की 18 विधानसभा सीटों पर सोमवार को हो रहे मतदान में सुबह 10 बजे तक 10.7 फीसदी वोट पड़े।




सुबह नौ बजे तक नक्‍सल प्रभावित दंतेवाड़ा में 10 फीसदी तो कांकेर में 13 फीसदी मतदान हुआ। वहीं सुकमा के भेज्‍जी में पहली बार 100 से अधिक वोट पड़े।

मतदान का वक्त अलग-अलग

पहले चरण की 18 सीटों में से ज्यादातर नक्सल प्रभावित हैं। इस वजह से मतदान का वक्त अलग-अलग है। चुनाव आयोग के मुताबिक, 10 सीटों (मोहला-मानपुर, अंतागढ़, भानुप्रतापुर, कांकेर, केशकाल, कोंडागांव, नारायणपुर, दंतेवाड़ा, बीजापुर और कोंटा) पर मतदान सुबह सात से दोपहर तीन बजे तक होगा। बाकी सीटें राजनांदगांव, डोंगरगढ़, खैरागढ़, बस्तर, जगदलपुर, चित्रकोट, डोंगरगांव और खुज्जी में आठ से पांच बजे तक वोट डाले जाएंगे।

पहले चरण में इन पर रहेगी नजर

  • डॉ. रमन सिंह : मुख्यमंत्री रमन सिंह राजनांदगांव सीट से लगातार तीन चुनावों (2003, 2008 और 2013) से जीतते आ रहे हैं। उन्होंने पहले फेज की 18 सीटों के लिए 27 से ज्यादा रैलियां कीं।
  • करुणा शुक्ला : करुणा पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की भतीजी हैं। कांग्रेस ने राजनांदगांव सीट पर रमन सिंह के खिलाफ मैदान में उतारा है। राहुल गांधी ने उनके लिए 9 नवंबर को एक सभा और रोड शो भी किया। करुणा पहले भाजपा में थीं।
  • कवासी लखमा: कवासी लखमा आदिवासी नेता हैं और विधानसभा में उप नेता प्रतिपक्ष हैं। वह पहली बार 2003 कांग्रेस के टिकट पर कोंटा सीट से चुने गए। उनकी नक्सल प्रभावित क्षेत्र में अच्छी पकड़ है। वे 2013 में झीरम घाटी में नक्सली हमले में बच गए थे। तब वे संदेह के घेरे में आए थे। भाजपा ने उनका नार्को टेस्ट कराने की मांग की थी।

मतदान अपडेट्स

  • दंतेवाड़ा के काटेकल्याण ब्लॉक में चुनाव ड्यूटी में लगे जवानों और पोलिंग पार्टी को निशाना बनाने के लिए नक्सलियों ने आईईडी ब्लास्ट किया। एआईजी (नक्सल विरोधी अभियान) देवनाथ ने बताया कि धमाका सुबह 5.30 बजे तुमकपाल-नयाननर रोड पर हुआ। इसमें किसी कोई नुकसान नहीं पहुंचा।
  • दंतेवाड़ा के आंवराभाटा पिंक बूथ में ईवीएम में खराबी के चलते 1 घंटे बाद मतदान शुरू हुआ। उधर, आंवराभाटा के मतदान केंद्र 85- 2 में मतदान में 40 मिनटकी देरी हुई। 3 जगह अब तक ईवीएम बदलने की नौबत आ चुकी है।
  • 53 पोलिंग बूथ पर तकनीकी कारणों के चलते मतदान देर से शुरू हो सका।

    • सुकमा के बंडा में पहले से तय मतदान केंद्र के पास सुरक्षाबलों को आईईडी के निशान मिले थे। इसके बाद पेड़ के नीचे पोलिंग बूथ बनाया गया।
    • रमन सिंह और करुणा शुक्ला नहीं खुद के लिए वोट नहीं डाल पाएंगे। दोनों का नाम पहले चरण की वोटिंग लिस्ट में शामिल नहीं है।
    • बीजापुर पांडेपरा और केशकुतुल में सुरक्षाबलों ने आईईडी बरामद किया।
    • बारसूर में नदी पार के मतदान बूथों पर सुबह 10 बजे तक वोट डालने के लिए कोई नहीं पहुंचा।
    • दक्षिण बस्तर में कांग्रेस विधायक व प्रत्याशी देवती कर्मा ने फरसपाल पोलिंग बूथ में मतदान किया।

    • नक्‍सल प्रभावित सुकमा के दोरनापल के एक मतदान केंद्र में 100 वर्षीय बुजुर्ग महिला भी खुद चलकर मतदान करने आईं। इससे वहां मौजूद अन्‍य मतदाताओं में भी उत्‍साह बढ़ गया।

  • राजनांदगांव के सांगवरी स्थित कमला कॉलेज में बनाए गए पिंक पोलिंग बूथ में कुछ देर के लिए रुकी वोटिंग
  • बीजापुर पांडेपरा और केशकुतुल में सुरक्षाबलों ने आईईडी बरामद किया।
  • पहले चरण की 18 सीटों पर सुबह 10 बजे तक 10 फीसदी मतदान हुआ। महिलाओं में जबरदस्त उत्साह देखने को मिल रहा है।
  • कांकेर में चुनाव ड्यूटी में तैनात सीआरपीएफ जवान निर्मल तिग्गा की तबियत बिगड़ने के बाद मौत हो गई।
  • राजनांदगांव में 11 बजे तक करीब 20 फीसदी मतदान
  • नारायणपुर में 11 बजे तक 14.2 फीसदी मतदान

  • सुकमा: लोकतंत्र के महापर्व में 18 साल लेकर 100 साल से भी ज्यादा उम्र के लोग अपने मताधिकार का प्रयोग कर रहे हैं. ऐसा ही एक नजारा सुकमा के दोरनापाल, मोहला मानपुर के पोलिंग बूथ 101 और गोरगुंडा के पोलिंग बूथ 103 पर पर दिखा. यहां 103 साल की महिला को लेकर उनका बेटा वोट डलवाने पुहंचा.
  • खुज्जी में अभी तक 12 फीसदी मतदान

Leave a Reply