coronavirus-swactha-didi-1
Chhattisgarh India

कोविड-19 की जांच के लिए खोले जाएंगे सैंपल कलेक्शन सेंटर : स्वास्थ्य विभाग ने सभी सीएमएचओ को ग्रामीण एवं शहरी इलाकों में दिए निर्देश

प्रदेश में कोविड-19 के ज्यादा से ज्यादा संभावितों की जांच के लिए सैंपल कलेक्शन सेंटर खोले जाएंगे। स्वास्थ्य विभाग ने सभी जिलों के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में पर्याप्त संख्या में सैंपल कलेक्शन सेंटर जल्द शुरू करने के निर्देश दिए हैं। विभाग ने ऐसी जगहों में जहां लोग सुलभता एवं सरलता से पहुंच सकें, ये सेंटर स्थापित करने कहा है। व्यापक प्रचार-प्रसार के जरिए सैंपल कलेक्शन सेंटर्स की जानकारी आम लोगों तक पहुंचाने के भी निर्देश विभाग ने दिए हैं, ताकि लोग कोरोना वायरस संक्रमण के लक्षण दिखने पर स्वस्फूर्त और स्वप्रेरित होकर नजदीकी कलेक्शन सेंटर में जाकर सैंपल दे सकें।

स्वास्थ्य विभाग ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को सैंपल कलेक्शन सेंटर की स्थापना को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए इसे जल्द से जल्द शुरू करने कहा है। इन सेंटर्स में सर्दी, जुकाम, खांसी और बुखार से पीड़ितों की जांच कर उनके सैंपल लिए जाएंगे। सेंटर शुरू करने के संबंध में जानकारी दो दिनों के भीतर विभाग को भेजने के भी निर्देश दिए गए हैं। वर्तमान में जिला अस्पतालों, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों, शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों और सिविल अस्पतालों में संदिग्ध मरीजों के सैंपल लिए जा रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि प्रदेश में कोविड-19 के नियंत्रण एवं रोकथाम के लिए संक्रमण की संभावना वाले ज्यादा से ज्यादा लोगों की जांच के लिए कई स्तरों पर पहल की जा रही है। लगातार नए लैबों की स्थापना के साथ ही ट्रू-नाट विधि और रैपिड एंटीजन किट से भी संदिग्धों की जांच की जा रही है। स्वास्थ्य मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव ने भी जांच की संख्या बढ़ाने पर जोर दिया है। रोजाना दस हजार सैंपलों की जांच के लक्ष्य के साथ जांच की सुविधा और संसाधन लगातार बढ़ाए जा रहे हैं।

Leave a Reply