gondwana express logo
Gondwana Express banner

technology

10 घंटे डाउन रहने के बाद दुरुस्त हुए फेसबुक-इंस्टाग्राम; कंपनी ने कहा, यह साइबर अटैक नहीं

10 घंटे डाउन रहने के बाद दुरुस्त हुए फेसबुक-इंस्टाग्राम; कंपनी ने कहा, यह साइबर अटैक नहीं

technology
सैन फ्रांसिस्को (टेक्निकल न्यूज़) | फेसबुक और इंस्टाग्राम ने 10 घंटे डाउन रहने के बाद अब ठीक से काम करना शुरू कर दिया है। इंस्टाग्राम ने गुरुवार सुबह 10.10 बजे यह जानकारी दी। बुधवार रात से यूजर फेसबुक और इंस्टाग्राम को एक्सेस नहीं कर पा रहे थे। ट्विटर के जरिए वो इसकी शिकायत कर रहे थे। यूजर्स का कहना था कि वो या तो एक्सेस ही नहीं कर पा रहे या फिर एप्लिकेशंस पूरी तरह काम नहीं कर रहे। कई इलाकों में वॉट्सऐप भी डाउन रहा कई इलाकों में वॉट्सऐप यूजर्स से भी शिकायतें मिली थीं। फेसबुक और इंस्टाग्राम ने कहा था कि उनकी टीम दिक्कतें दूर करने में जुटी हुई हैं। फेसबुक ने यह भी साफ किया है कि उसके नेटवर्क पर कोई साइबर अटैक नहीं हुआ है। वेबसाइट डाउनडिटेक्टर डॉट कॉम के मुताबिक उत्तरी अमेरिका और यूरोप के फेसबुक यूजर्स को सबसे ज्यादा दिक्कतें हुईं। We’re aware of an issue impacting people's access
वॉट्सएप पर आपत्तिजनक मैसेज पर कार्रवाई होगी डॉट से कर सकेंगे शिकायत

वॉट्सएप पर आपत्तिजनक मैसेज पर कार्रवाई होगी डॉट से कर सकेंगे शिकायत

technology
नई दिल्ली (एजेंसी) | वॉट्सएप पर आपत्तिजनक मैसेज मिलने पर यूजर अब दूरसंचार विभाग (डॉट) से शिकायत कर सकते हैं। इसके लिए मैसेज का स्क्रीन शॉट और उसे भेजने वाले का मोबाइल नंबर ccaddn-dot@nic.in पर मेल करना होगा। दूरसंचार विभाग के कंट्रोलर (कम्युनिकेशंस) आशीष जोशी ने शुक्रवार को ट्वीट कर बताया कि अगर किसी को अभद्र, आपत्तिजनक, जान से मारने की धमकी या फिर कोई अश्लील मैसेज मिलता है तो वह अपनी शिकायत दर्ज करा सकता है। If anyone is receiving abusive/offensive/death threats/ vulgar whatsapp messages ,please send screen shots of the message along with the mobile numbers at ccaddn-dot@nic.in We will take it up with the telecom operators and police heads for necessary action. cc @Secretary_DoT — Ashish Joshi (@acjoshi) February 22, 2019 जोशी के मुताबिक शिकायत मिलते ही तुरंत संबंधित टे
गूगल पर ‘बेस्ट टॉयलेट पेपर इन द वर्ल्ड’ सर्च करने पर आ रहा पाकिस्तान, जानिए क्या है वजह

गूगल पर ‘बेस्ट टॉयलेट पेपर इन द वर्ल्ड’ सर्च करने पर आ रहा पाकिस्तान, जानिए क्या है वजह

technology
टेक्निकल न्यूज़ (एजेंसी) | सोशल मीडिया पर कुछ यूजर्स ने दावा किया कि गूगल पर ‘बेस्ट टॉयलेट पेपर इन द वर्ल्ड’ सर्च करने पर पाकिस्तान के झंडे की फोटो आ रही है। ट्विटर पर इसे लेकर #besttoiletpaperintheworld भी ट्रेंड कर रहा है। लोग सर्च रिजल्ट के स्क्रीनशॉट शेयर कर रहे हैं। इससे पहले भी गूगल पर ‘इडियट’ सर्च करने पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की फोटो सामने आती थी। वहीं, भिखारी शब्द सर्च करने पर गूगल पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान की फोटो दिखाता था। एक्सपर्ट्स का मानना है कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले में 40 जवानों के शहीद होने के बाद देशभर में गुस्सा है। ऐसे में हर तरफ पाकिस्तान पर कार्रवाई की मांग जोर पकड़ रही है। हो सकता है कि किसी ने गूगल बॉम्बिंग के जरिए गूगल सर्च रिजल्ट से छेड़छाड़ की कोशिश की हो। क्या होती है गूगल बॉम्बिंग? एथिकल हैकर
पुलिस ने लॉन्च किया सिटीजन कॉप एप, अब मोबाइल पर दर्ज कराएं शिकायत

पुलिस ने लॉन्च किया सिटीजन कॉप एप, अब मोबाइल पर दर्ज कराएं शिकायत

technology
रायगढ़ (एजेंसी) | सोशल पुलिसिंग की दिशा में जिले की पुलिस ने एक और कदम बढ़ाया है। अब लोगाें को अपनी शिकायतों के लिए थाने के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। बस ऑनलाइन शिकायत दर्ज कराई और आपकी समस्या का त्वरित निराकरण होगा। इसके लिए पुलिस की ओर से सिटीजन कॉप एप रविवार को लॉन्च किया गया। पुलिसकर्मियों को इसके उपयोग के लिए थाने में ट्रेनिंग भी दी जा रही है। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); मोबाइल गायब हो या फिर घटना, इस पर करें शिकायत एसपी दीपक झा ने बताया कि मोबाइल गुम होने की शिकायतों का निराकरण करने के लिए भी पहले लोगों को थानों के चक्कर काटने पड़ते थे। ऐसे में लोगों को सुविधा प्रदान करते हुए इस एप को लॉन्च किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के अन्य जिलों में इसकी शुरुआत पहले ही हो चुकी है। एप के माध्यम से अब किसी भी उपभोक्ता के मोबाइल फोन गुम होने पर उन्हें
अगर आप भी नियमित रिचार्ज नहीं कराते तो आपकी फ्री इनकमिंग कॉल सेवा बंद हो सकती है, पढ़े पूरी खबर

अगर आप भी नियमित रिचार्ज नहीं कराते तो आपकी फ्री इनकमिंग कॉल सेवा बंद हो सकती है, पढ़े पूरी खबर

technology
नई दिल्ली (एजेंसी) | जियो की एंट्री के बाद से कंपनियों को लगातार सस्ती या फ्री कॉल्स देकर नुकसान उठाना पड़ा है।  एयरटेल, वोडाफोन जैसी टेलीकॉम कंपनियों को प्राइस वॉर में हुए नुकसान के बाद अब अपनी रणनीति में बदलाव करना पड़ रहा है। कंपनियां जल्द ही फ्री इनकमिंग सर्विस को बंद कर सकती हैं। टेलीकॉम कंपनियों ने मिनिमम रिचार्ज प्लान भी लॉन्च करना शुरू कर दिया है। मतलब यह है कि लंबे समय से मिल रही मुफ्त इनकमिंग सेवा अब बंद हो सकती है। टेलीकॉम कंपनियों ने इनकमिंग सर्विस के लिए 28 दिन की वैलिडिटी वाले प्लान लॉन्च किए हैं। 29वें दिन आउटगोइंग बंद कर दी जाएगी। हालांकि, इनकमिंग सर्विस बंद करने के लिए कंपनियां ग्राहक को थोड़ा समय देंगी। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); कंपनियों ने ऐसे ग्राहकों की सूची तैयार की है, जो सिर्फ इनकमिंग पर अपना कनेक्शन चला रहे थे या जरूरत पड
129 साल बाद अपडेट होगा एक किलो नापने का तरीका

129 साल बाद अपडेट होगा एक किलो नापने का तरीका

technology
वर्ल्ड न्यूज़ (एजेंसी)| एक किलोग्राम वजन नापने का तरीका अपडेट होने वाला है, वो भी 129 साल बाद। अब तक फ्रांस में रखे एक सिलेंडरनुमा बाट को दुनिया भर का स्टैंडर्ड एक किलोग्राम भार माना जाता था। लेकिन अब स्टैंडर्ड एक किलो भार के लिए अमेरिका का नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ स्टैंडर्ड एंड टेक्नोलॉजी (एनआईएसटी) एक फॉर्मूला तैयार करेगा। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); आखिर एक किलो का पैमाना बदलने की ये जरूरत क्यों पड़ी? एनआईएसटी के जीना कुब्रायच बताते हैं कि- "किलोग्राम के स्टैंडर्ड भार को ग्रैंड-के कहा जाता है। ये एक छोटे से कांच के बक्से में कैद गोल्फ की बॉल के बराबर ऊंचा एक सिलेंडर है। इसकी सुरक्षा और देख-रेख में काफी संसाधन लगते हैं। फिर भी खतरा बना रहता है कि किसी वजह से अगर ये नष्ट हो गए तो इंसानी सभ्यता के पास सटीक गणना के लिए कोई पैमाना नहीं बचेगा। इसीलिए अब एक
वाटरशार्क ड्रोन: उड़ता नहीं, तैरता है; पानी से कचरा और केमिकल हटाने के साथ-साथ हवा की भी गुणवत्ता जाँचेगा

वाटरशार्क ड्रोन: उड़ता नहीं, तैरता है; पानी से कचरा और केमिकल हटाने के साथ-साथ हवा की भी गुणवत्ता जाँचेगा

technology
दुबई (एजेंसी) | दुबई मरीना बीच पर हाल ही में फ्लोटिंग ड्रोन वाटरशार्क उतारा गया है। इसकी खासियत यह है कि पानी पर तैरते हुए कचरे को अपने अंदर जमा करते रहता है। बाद में इसे किनारे पर लगे बिन में डाल देता है। नीदरलैंड्स की कंपनी रेनमरीन ने यह वाटर ड्रोन बनाया है। फिलहाल इसका ट्रायल चल रहा था, जो सफल रहा है। इस माह से यह पूरी तरह काम करना शुरू कर देगा। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); वीडियो देखे  इसका मुंह शार्क मछली की तरह डिजाइन किया गया है। यानी यह मछली की तरह कचरे को खाते हुए तैरता रहता है। स्थानीय कंपनी इकोकोस्ट की साझेदारी के साथ यह पहल हुई है। रेनमरीन के मुताबिक यह ऑटोनोमस और रिमोट द्वारा कंट्रोल होने वाले वर्जन में तैयार किया गया है। एक बार में यह 160 किलो तक कचरा समेट लेता है। बैटरी पूरी तरह चार्ज होने पर यह 16 घंटे तक काम कर सकता है। कचरा समेटने
#अच्छीपहल अब हर कोई गोंडी भाषा समझ सकेंगे, माइक्रोसॉफ्ट की मदद से तैयार हो रहा है टूल

#अच्छीपहल अब हर कोई गोंडी भाषा समझ सकेंगे, माइक्रोसॉफ्ट की मदद से तैयार हो रहा है टूल

technology
रायपुर (एजेंसी) | भाषा की दिक्कत के कारण आदिवासियों के करीब न पहुंच पा रहे प्रशासन की समस्या हल करने के लिए निकट भविष्य में एक टूल अाने वाला है। इसके जरिए अफसरों की हिंदी में कही गई बात आदिवासी गोंडी में सुन पाएंगे और उनकी गोंडी में कही बात अफसरों को हिंदी में सुनाई देगी। इस टूल से फोर्स को भी आदिवासियाें का विश्वास जीतने और नक्सल प्रभावित इलाकों में शांति बहाल करने में मदद मिलेगी। कलिका बाली, जो माइक्रोसॉफ्ट रिसर्च लैब्स इंडिया के साथ एक रिसर्चर हैं, का कहना है कि हमने सीजीनेट से कम से कम 10 हजार वाक्यों के हिंदी से गोंडी में अनुवाद मंगाए हैं। ट्रिपल आईटी नया रायपुर के डीन डाॅ. प्रदीप कुमार सिन्हा ने बताया कि, ‘सीजी नेट’ के दिए गए अनुवादों को माइक्रोसॉफ्ट रिसर्च की देखरेख में वॉयस-बेस्ड टेक्नोलॉजी वाला सॉफ्टवेयर तैयार किया जाएगा। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).pu
चुनाव आयोग ने लांच किया सिविजिल एप, चुनाव के दौरान हो रही गड़बड़ी की शिकायत कर सकते है

चुनाव आयोग ने लांच किया सिविजिल एप, चुनाव के दौरान हो रही गड़बड़ी की शिकायत कर सकते है

technology
रायपुर (एजेंसी) | इस बार छत्तीसगढ़ समेत चार राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव में आयोग आयोग ने एक नए एप सिविजिल (CVIGIL  APP) लांच किया। जिसका मकसद है तकनीक के इस्तेमाल से चुनावी पारदर्शिता को एक नया विस्तार देना। इस एप की जानकारी देते हुए मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत ने कहा कि वोटर को सशक्त बनाना ही हमारा सबसे बड़ा मकसद है। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); इस एप की मदद से शिकायतकर्ता आचार संहिता उल्लंघन से जुड़ी कोई भी सूचना को अपना नाम गुप्त रखते हुए भी आयोग को बता सकते हैं। उनकी शिकायतों पर 100 मिनिट के अंदर एक्शन भी लिया जाएगा। जिसमें नागरिक खुद भी देख सकेंगे कि उनकी शिकायत पर क्या कार्रवाई की गई। साथ ही चुनाव के दौरान होने वाली कार्रवाई का एक्शन टेकन रिपोर्ट कोई भी देख सकेगा। छत्तीसगढ़ सहित चार राज्यों के निर्वाचन इतिहास में यह पहला मौका है जब इस तरह
सोनी, कलर्स समेत 100 से ज्यादा चैनल अब Tata Sky पर नहीं दिखाए जायेंगे, ये है वजह

सोनी, कलर्स समेत 100 से ज्यादा चैनल अब Tata Sky पर नहीं दिखाए जायेंगे, ये है वजह

technology
अगर आप Tata Sky सब्स्क्रिबर है तो आपको अपने पसंदीदा चैनल्स देखने में परेशानी हो रही होगी। ऐसा इसलिए कि Tata Sky ने करीब 100 से अधिक को बंद कर दिया है। टाटा स्काई ने 9 सितंबर को एक अंग्रेजी दैनिक अख़बार में  में एक सार्वजनिक नोटिस प्रकाशित की और कहा कि सम्बंधित चैनलों के बीच हुए समझौते को नवीनीकृत नहीं किया है इसी वजह से Tata Sky डीटीएच में 15 दिनों के भीतर करीब 100 से अधिक चैनल ऑफ़ एयर हो जाएगा। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); #tatasky का दिया गया नोटिस। #sony #colors pic.twitter.com/xLssOGxPGf— GondwanaExpress.com (@GondwanaExp) October 1, 2018 नोटिस के अनुसार, 24 सितंबर से, डीटीएच ऑपरेटर सोनी टीवी, सोनी टीवी एचडी, सोनी सब, कलर्स, कलर्स एचडी,  सिनेप्लेक्स एचडी, सीएनबीसी बाजार, सीएनबीसी टीवी 18 प्राइम एचडी, सीएनएन न्यूज़ 18, कलर्स बांग्ला एचडी, क