india

अंतरिक्ष से भी दिखाई देती है स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, अमेरिकी सैटेलाइट ने जारी की तस्वीर

अंतरिक्ष से भी दिखाई देती है स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, अमेरिकी सैटेलाइट ने जारी की तस्वीर

india
नेशनल न्यूज़ (एजेंसी) | गुजरात के अहमदाबाद में नर्मदा नदी के किनारे बनी दुनिया की सबसे ऊंची सरदार पटेल की प्रतिमा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी अंतरिक्ष से भी साफ दिखाई देती है। अमेरिका के कमर्शियल सैटेलाइट नेटवर्क- प्लैनेट ने शुक्रवार को 182 मीटर (597 फीट) ऊंची प्रतिमा की अंतरिक्ष से ली गई एक फोटो ट्वीट की। तस्वीर 15 नवंबर को खींची गई थी। स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की फोटो जारी करने वाली अमेरिकी कंपनी स्काईलैब है। 2017 में इसरो ने एक साथ 104 सैटेलाइट लॉन्च करने का कीर्तिमान बनाया था। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); इसी के साथ स्टैच्यू ऑफ यूनिटी उन कुछ मानव निर्मित संरचनाओं में से है, जो पृथ्वी के ऊपर से भी दिखाई देते हैं। दुबई के तट पर बना पाम आइलैंड, मिस्र का ग्रेट पिरामिड ऑफ गीजा समेत दो अन्य मानव निर्मित संरचनाएं हैं जो अंतरिक्ष से दिखाई देती हैं। इसरो से सैटेलाइट
नहीं रहे 1971 की भारत-पाकिस्तान जंग के नायक ब्रिगेडियर कुलदीप सिंह चांदपुरी, बॉर्डर फिल्म में सनी देओल ने इन्हीं का रोल निभाया था

नहीं रहे 1971 की भारत-पाकिस्तान जंग के नायक ब्रिगेडियर कुलदीप सिंह चांदपुरी, बॉर्डर फिल्म में सनी देओल ने इन्हीं का रोल निभाया था

india
नेशनल न्यूज़ (एजेंसी) | 1971 की भारत-पाकिस्तान जंग के नायक ब्रिगेडियर कुलदीप सिंह चांदपुरी नहीं रहे। वह 78 साल के थे। कैंसर से जूझते हुए शनिवार सुबह उन्होंने मोहाली में आखिरी सांस ली। कुछ दिन पहले ही वे विदेश से लौटे थे।उनके परिवार में पत्नी और तीन बेटे हैं। उन्होंने राजस्थान के लोंगेवाला में निर्णायक लड़ाई लड़ी थी। चांदपुरी के नेतृत्व में 120 भारतीय जवानों ने 2000 पाकिस्तानी फौजियों को खदेड़ा था। उनके 12 टैंक तबाह कर दिए थे। महावीर चक्र और विशिष्ट सेवा मेडल से सम्मानित थे। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); 1997 में फिल्म निर्माता-निर्देशक जेपी दत्ता ने राजस्थान में भारत-पाकिस्तान लड़ाई पर पंजाब रेजिमेंट की इसी टुकड़ी की बहादुरी पर 'बॉर्डर' फिल्म बनाई। इसमें सनी देओल ने ब्रिगेडियर चांदपुरी का किरदार निभाया था। जन्म: 22 नवंबर 1940   निधन: 17 नवंबर 2018 ल
तमिलनाडु में गाजा तूफान से 23 लोगों की मौत, 81 हजार राहत शिविरों में; राजनाथ सिंह ने की सीएम पलानीस्वामी से चर्चा

तमिलनाडु में गाजा तूफान से 23 लोगों की मौत, 81 हजार राहत शिविरों में; राजनाथ सिंह ने की सीएम पलानीस्वामी से चर्चा

india
चेन्नई (एजेंसी) | चक्रवाती तूफान गाजा गुरुवार देर रात तमिलनाडु के नागपट्टनम और वेदरन्नियम तट से टकराया। इस दौरान तूफानी हवाओं की रफ्तार 120 किलोमीटर प्रति घंटा रही। गाजा के असर से कई जिलों में भारी बारिश हो रही है। मुख्यमंत्री पलानीसामी ने बताया कि हादसों में 23 लोगों की मौत हुई है। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); आपदा प्रबंधन विभाग ने 81 हजार लोगों को तटीय इलाकों से हटाकर 471 राहत शिविरों में भेजा है। मौसम विभाग ने शुक्रवार शाम तक तूफान के कमजोर पड़ने का अनुमान जताया है। चक्रवाती तूफान गाजा गुरुवार देर रात तमिलनाडु के नागपट्टनम और वेदरन्नियम तट से टकराया। इस दौरान तूफानी हवाओं की रफ्तार 120 किलोमीटर प्रति घंटा रही। गाजा के असर से कई जिलों में भारी बारिश हो रही है। #gondwanaexpress #Gaza #TamilNadu #news pic.twitter.com/ztENLLgUqL — GondwanaExpress.co
तेज प्रताप बोले, “रिश्तेदारों ने मुझे मोहरा बनाकर शादी करवाई, अब पीछे नहीं हटूंगा।”

तेज प्रताप बोले, “रिश्तेदारों ने मुझे मोहरा बनाकर शादी करवाई, अब पीछे नहीं हटूंगा।”

india
बिहार (एजेंसी) | राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव क बड़े बेटे और पूर्व मंत्री तेजप्रताप यादव ने पत्नी एेश्वर्या राय से तलाक लेने की अर्जी अदालत में दायर करने के बाद शनिवार को पहली बार चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि वह अपने फैसले से किसी भी कीमत पर पीछे नहीं हटेंगे, घुट-घुटकर जीने से बेहतर है शादी के बंधन से अलग हो जाना। रांची में अपने पिता लालू प्रसाद यादव से मुलाकात के लिए जाने के क्रम में बोधगया पहुंचे तेजप्रताप ने कहा कि उनकी पत्नी 'हाई सोसाइटी' में पली बढ़ी हैं और दिल्ली में उच्च शिक्षा प्राप्त की है। उनके साथ उनका कोई मेल नहीं है। उन्होंने आरोप लगाया कि उनके रिश्तेदार रामप्रकाश और विपिन ने उन्हें मोहरा बनाकर उनकी शादी एेश्वर्या से करा दी। तेजप्रताप ने कहा कि शादी के कुछ दिनों के बाद से ही दोनों में झगड़ा शुरू हो गया था और यह सब उनके पिता लालू प्रसाद यादव और मां राब
शशि थरूर के फिर बिगड़े बोल इस बार प्रधानमंत्री मोदी के लिए बेहद आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग किया है, जिसे हम हिन्दी में लिख भी नहीं पा रहे हैं

शशि थरूर के फिर बिगड़े बोल इस बार प्रधानमंत्री मोदी के लिए बेहद आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग किया है, जिसे हम हिन्दी में लिख भी नहीं पा रहे हैं

india
बेंगलुरु (एजेंसी) | कांग्रेस के नेता शशि थरूर ने रविवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संघ की सीमाएं लांघ चुके हैं। कांग्रेस के सासंद शशि थरूर के विवादित कमेंट करने का सिलसिला थमता हुआ नहीं दिख रहा है। इस बार थरूर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए बेहद आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग किया है। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को निशाने पर लेने के लिए ऐसे शब्दों का प्रयोग किया है जिसे हम हिन्दी में लिख भी नहीं पा रहे हैं। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); बेंगलुरु के एक कार्यक्रम में शशि थरूर ने एक अज्ञात राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) कार्यकर्ता और पत्रकारों के बीच हुई बातचीत का जिक्र कर रहे थे। यहां उन्होंने RSS कार्यकर्ता के हवाले से बताया कि वह पीएम मोदी के लिए किस तरह के शब्दों का प्रयोग कर रहा था। थरूर रविवार को बेंगलुरु में लिटरेचर फेस्टिवल में शामिल
सीबीआई के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे राहुल ने दी गिरफ्तारी, कांग्रेस का देशभर में प्रदर्शन

सीबीआई के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे राहुल ने दी गिरफ्तारी, कांग्रेस का देशभर में प्रदर्शन

india
नई दिल्ली (एजेंसी) |  आज शुक्रवार को दिल्ली समेत पुरे देश में कांग्रेस ने रिश्वतखोरी विवाद के बाद सीबीआई के चीफ आलोक वर्मा को छुट्टी पर भेजे जाने के मोदी सरकार के फैसले के विरोध में प्रदर्शन किया। दिल्ली में प्रदर्शन की कमान पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने संभाली। उनके नेतृत्व में कांग्रेस के कार्यकर्ताओ ने दयाल सिंह कॉलेज से सीबीआई मुख्यालय तक मार्च निकाला। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); सीबीआई मुख्यालय के बाहर पहले से ही बड़ी संख्या में पुलिस के जवान तैनात थे। राहुल ने बैरिकेड पर चढ़कर धरना दिया। जिसके बाद राहुल ने गिरफ्तारी दी। इसके बाद वे वहाँ से लोधी रोड स्थित पुलिस स्टेशन गए। हालांकि उन्हें  थोड़ी देर बाद ही छोड़ दिया गया। वहां से बाहर निकलने पर उन्होंने कहा- प्रधानमंत्री भाग सकते हैं, लेकिन आखिर में सच सामने आएगा। PM can run, he can hide but in the
देश में पहली बार ‘राष्‍ट्रीय पुलिस स्‍मारक’ पीएम मोदी ने किया उद्घाटन, शहीद पुलिस कर्मियों के स्मृति चिन्ह रखे जाएंगे

देश में पहली बार ‘राष्‍ट्रीय पुलिस स्‍मारक’ पीएम मोदी ने किया उद्घाटन, शहीद पुलिस कर्मियों के स्मृति चिन्ह रखे जाएंगे

india
नेशनल न्यूज़ (एजेंसी) | पीएम मोदी ने दिल्‍ली के चाणक्‍यपुरी स्थित राष्‍ट्रीय पुलिस स्‍मारक का आज (21 अक्‍टूबर) उद्घाटन किया। पुलिस स्‍मृति दिवस के मौके पर पीएम मोदी ने शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि दी। श्रद्धांजलि देते हुए पीएम मोदी भावुक हो गए। उन्‍होंने पुलिसकर्मियों को संबोधित करते हुए कहा 'यह आप लोगों की सतर्कता का ही नतीजा है कि देश में अशांति फैलाने वाले अपनी कोशिशों में विफल होते हैं। आप लोगों के कारण ही देश में शांति व्‍याप्‍त है। आज 'आजाद हिंद सरकार' की 75वीं वर्षगांठ के ऐतिहासिक मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर से तिरंगा फहराया। इस अवसर पर पीएम मोदी आज आजाद हिंद संग्रहालय का भी उद्घाटन भी करेंगे। पुलिसकर्मियों के शौर्य को'शत-शत नमन' पीएम मोदी ने इस दौरान कहा 'मैं पुलिसकर्मियों के शौर्य को नमन करता हूं. हर वीर वीरांगना को शत शत नमन.' उन्‍हों
21 अक्टूबर का दिन बना ऐतिहासिक प्रधानमंत्री मोदी ने ‘आजाद हिंद सरकार’ की 75वीं वर्षगांठ पर लाल किले में तिरंगा फहराया

21 अक्टूबर का दिन बना ऐतिहासिक प्रधानमंत्री मोदी ने ‘आजाद हिंद सरकार’ की 75वीं वर्षगांठ पर लाल किले में तिरंगा फहराया

india
नेशनल न्यूज़ (एजेंसी) | 'आजाद हिंद सरकार' की 75वीं वर्षगांठ के ऐतिहासिक मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज (21 अक्‍टूबर) लाल किले की प्राचीर से तिरंगा फहराया। इस अवसर पर पीएम मोदी आज आजाद हिंद संग्रहालय का भी उद्घाटन भी करेंगे। आपको बता दे आज इससे पहले पीएम मोदी ने दिल्‍ली के चाणक्‍यपुरी स्थित राष्‍ट्रीय पुलिस स्‍मारक का उद्घाटन भी किया। पुलिस स्‍मृति दिवस के मौके पर पीएम मोदी ने शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि भी दी। श्रद्धांजलि देते हुए पीएम मोदी भावुक हो गए। उन्‍होंने पुलिसकर्मियों को संबोधित करते हुए कहा 'यह आप लोगों की सतर्कता का ही नतीजा है कि देश में अशांति फैलाने वाले अपनी कोशिशों में विफल होते हैं। आप लोगों के कारण ही देश में शांति व्‍याप्‍त है। ' (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); 1943 में हुई थी आजाद हिंद सरकार की स्‍थापना पारंपरिक रूप से दे
अमृतसर ट्रेन हादसे पर PM मोदी और CM रमन सिंह ने शोक व्यक्त किया,

अमृतसर ट्रेन हादसे पर PM मोदी और CM रमन सिंह ने शोक व्यक्त किया,

india
अमृतसर (एजेंसी) | पंजाब के अमृतसर शहर के जोड़ा बाजार में रावण दहन देख रहे लोग शुक्रवार को दो ट्रेनों की चपेट में आ गए। जोड़ा रेलवे फाटक के पास हुए हादसे ने दशहरे की खुशी मातम में बदल दी। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि पटाखों के शोर में किसी को ट्रेन का हॉर्न सुनाई नहीं दिया और दो ट्रेनें पटरियों पर खड़े लोगों को रौंदते हुए गुजर गईं। मंजर ऐसा था कि किसी का पैर कहीं पड़ा था, तो किसी का सिर कहीं पड़ा था। चश्मदीदों ने कहा कि हादसे के बाद रेल पटरियों के 150 मीटर के दायरे में लाशें बिखरी नजर आ रही थीं। इसे देखकर 1947 के बंटवारे का मंजर याद आ गया। लोगों ने कहा- मदद को नहीं आया प्रशासन चश्मदीदों ने कहा कि मृतक संख्या 200 तक भी जा सकती है। हादसे के बाद प्रशासन तुरंत मदद को नहीं अाया। जिन मांओं ने अपने बच्चे खोए हैं, उनका क्या होगा? एक अन्य प्रत्यक्षदर्शी ने कहा कि हादसे में कई बच्चे और महि
दशहरे की खुशियाँ बदली मातम में, अमृतसर में ट्रेन हादसे ने ले ली सैकड़ो जाने

दशहरे की खुशियाँ बदली मातम में, अमृतसर में ट्रेन हादसे ने ले ली सैकड़ो जाने

india
अमृतसर (एजेंसी) | पंजाब के अमृतसर शहर के जोड़ा बाजार में रावण दहन देख रहे लोग शुक्रवार को दो ट्रेनों की चपेट में आ गए। जोड़ा रेलवे फाटक के पास हुए हादसे ने दशहरे की खुशी मातम में बदल दी। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि पटाखों के शोर में किसी को ट्रेन का हॉर्न सुनाई नहीं दिया और दो ट्रेनें पटरियों पर खड़े लोगों को रौंदते हुए गुजर गईं। मंजर ऐसा था कि किसी का पैर कहीं पड़ा था, तो किसी का सिर कहीं पड़ा था। चश्मदीदों ने कहा कि हादसे के बाद रेल पटरियों के 150 मीटर के दायरे में लाशें बिखरी नजर आ रही थीं। इसे देखकर 1947 के बंटवारे का मंजर याद आ गया। वहाँ मौजूद लोगों के मुताबिक रावण दहन का कार्यक्रम शाम 6 बजे था। जिसमे मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर सिद्धू जो कि चीफ गेस्ट थी देरी से पहुंचीं। इस कारण से कार्यक्रम 7 बजे के बाद शुरू हुआ, तब तक अंधेरा हो चुका था। तक़रीबन 7:12 PM बजे के