chhattisgarh

व्यापम: 2 मई से शुरू होंगी व्यापम के व्यावसायिक कोर्स पीईटी और पीपीएचटी समेत आधा दर्जन प्रवेश परीक्षाएं

व्यापम: 2 मई से शुरू होंगी व्यापम के व्यावसायिक कोर्स पीईटी और पीपीएचटी समेत आधा दर्जन प्रवेश परीक्षाएं

chhattisgarh
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ व्यावसायिक परीक्षा मंडल ने प्री इंजीनियरिंग टेस्ट समेत 11 प्रोफेशनल कोर्स की परीक्षा की तारीख घोषित कर दी है। इसके अनुसार पीईटी की परीक्षा 2 मई को होगी। अन्य परीक्षाएं इसके बाद होंगी। परीक्षाएं दो मई ले लेकर विभिन्न तारीखों में 23 जून तक चलेगी। कुछ परीक्षाएं राज्य के सभी 27 जिलों में होगी तो कुछ पांचों संभागीय मुख्यालय वाले स्थानों पर होगी। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); परीक्षाओं के आवेदन तिथि व शुल्क तय नहीं  फिलहाल व्यापमं ने इन परीक्षाओं के लिए आवेदन की तारीखें और शुल्क का उल्लेख नहीं किया गया है। व्यापमं के अफसरों का कहना है कि परीक्षा के करीब दो महीने पहले आवेदन की तिथियों घोषित कर दी जाएंगी। छात्रों के प्रिपरेशन के लिहाज से परीक्षा की तारीखें पहले जारी की गईं। इससे छात्रों को परीक्षा की तिथि याद रहेगी और वह उसके अनुसा
नान घोटाला: मुकेश गुप्ता-रजनेश को नोटिस; धरमलाल की हाईकोर्ट में याचिका- एसआईटी जांच रोकी जाए

नान घोटाला: मुकेश गुप्ता-रजनेश को नोटिस; धरमलाल की हाईकोर्ट में याचिका- एसआईटी जांच रोकी जाए

chhattisgarh
रायपुर (एजेंसी) | नान घोटाले से जुड़े मामलों में बुधवार को 2 बड़े घटनाक्रम हुए। पहला- फोन टेपिंग के आरोपी डीजी मुकेश गुप्ता और एसपी रजनेश को ईओडब्लू ने नोटिस जारी कर पूछताछ के लिए बुलाया। दूसरा- एसआईटी जांच के खिलाफ नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौिशक ने हाईकोर्ट में जनहित याचिका लगा जांच रोकने की मांग की है। डीजी गुप्ता और रजनेश अपने-अपने घर पर नहीं थे, इसलिए नोटिस तामील नहीं हो सका। ईओडब्लू अफसरों के अनुसार दो बार नोटिस और दिया जाएगा, फिर भी दोनों उपस्थित नहीं हुए तो फरार घोषित कर दिए जाएंगे। गुप्ता और रजनेश को जब से फोन टेपिंग सहित आधा दर्जन धाराओं में आरोपी बनाया गया है, दोनों तभी से गायब हैं। दोनों को सस्पेंड कर पुलिस मुख्यालय अटैच किया गया है, पर न तो दोनों ने आमद नहीं दी है और न छुट्टी का आवेदन। डीजी गुप्ता और एसपी रजनेश 9 फरवरी को सस्पेंड किए गए थे। (adsbygoogle = window.adsbyg
नान घोटाला: गैरकानूनी फोन टैपिंग में डीजी मुकेश गुप्ता, एसपी रजनेश पर एफआईआर

नान घोटाला: गैरकानूनी फोन टैपिंग में डीजी मुकेश गुप्ता, एसपी रजनेश पर एफआईआर

chhattisgarh
रायपुर (एजेंसी) | नागरिक आपूर्ति निगम (नान) घोटाले की जांच के दौरान आरोपियों और संबंधित दर्जनों लोगों के फोन टैप करने के मामले में डीजी मुकेश गुप्ता और नारायणपुर एसपी रजनेश सिंह के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है। फोन टैपिंग में एफआईआर का यह प्रदेश में पहला मामला है। एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) ने दोनों अफसरों पर साजिश, फर्जी दस्तावेज बनाने समेत आधा दर्जन अलग-अलग धाराओं में केस दर्ज किया है। एफआईआर होने के कुछ घंटे के भीतर इस मामले में नया मोड़ तब आया, जब इन दोनों अफसरों के खिलाफ बयान देने वाले डीएसपी आरके दुबे ने हाईकोर्ट में शपथपत्र देकर आरोप लगाया कि एसीबी के आईजी एसआरपी कल्लूरी और एसपी कल्याण ऐलेसेला ने दबाव डालकर झूठा बयान दिलवाया है। डीएसपी ने कोर्ट में खुद और परिजनों पर जान का खतरा बताते हुए सुरक्षा मांगी। हालांकि कोर्ट ने आवेदन को निराकृत करते हुए दुबे को यह कहा कि जांच में सहयोग क
बेरोजगारी भत्ता नहीं पर रोजगार के रास्ते जरूर खुले, तीन विभागों में 19 हजार पदों पर भर्तियां

बेरोजगारी भत्ता नहीं पर रोजगार के रास्ते जरूर खुले, तीन विभागों में 19 हजार पदों पर भर्तियां

chhattisgarh
रायपुर (एजेंसी) | सीएम भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ का पहला बजट पेश करते हुए कहा कि इस बजट मे प्रदेश के बेरोजगार युवाओं के लिए भले ही बेरोजगार भत्ते का प्रावधान न किया हो पर करीब 19 हजार पदों की भर्ती की जाएगी। इनमें शिक्षाकर्मियों के 15 हजार, सहायक प्राध्यापकों के 1348 और पुलिस महकमे में दो हजार कर्मचारियों की भर्ती होगी। आपको बता दे कि भुपेश सरकार का बजट 90 हजार करोड़ से अधिक का है जबकि पिछली भाजपा सरकार का 2008-09 में 18285 करोड़ रुपए था । मुख्यमंत्री ने कहा कि उच्च शिक्षा की बात करें तो 25 कॉलेजों में नए संकाय एवं 25 कॉलेजों में पीजी कोर्स शुरू किए जाएंगे। इसके लिए 10 करोड़ का प्रावधान है। इनमें 27 विषयों के सहायक प्राध्यापकों के 1,384 पदों पर भर्ती होगी। दो नए आईटीआई खोले जाएंगे। 33 पुराने आईटीआई में नए ट्रेड की पढ़ाई शुरू होगी। आज एक बड़ा ऐलान किया कि उनकी सरकार खरीफ वर्ष 2019-20
कलेक्टर जनदर्शन में नक्सल हिंसा पीड़ित महिला को मिली नौकरी

कलेक्टर जनदर्शन में नक्सल हिंसा पीड़ित महिला को मिली नौकरी

chhattisgarh
सुकमा (एजेंसी) | नक्सल हिंसा पीड़ित मानपुर तहसील के ग्राम शारदा की महिला के लिए कलेक्टर जनदर्शन खुशियों की सौगात लेकर आया। शारदा निवासी कांता बाई मंडावी जनदर्शन में अपनी बच्ची के साथ नक्सल हिंसा पीडि़त सहायता योजना के तहत सहायता के लिए आवेदन देने आई थी, लेकिन उन्हें शासकीय नौकरी का आदेश मिल गया। कलेक्टर भीम सिंह ने कांता मंडावी को कार्यालय कलेक्टर आदिम जाति तथा अनुसूचित जाति विकास विभाग द्वारा जारी यह आदेश सौंपा। विभाग द्वारा श्रीमती कांता की नियुक्ति आकस्मिकता स्थापना (भृत्य) के पद पर प्री-मैट्रिक आदिवासी कन्या छात्रावास रेंगाकठेरा विकासखंड मोहला में की गई है। कलेक्टर सिंह ने कांता बाई से उनके घर-परिवार और बच्चों की पढ़ाई लिखाई के बारे में चर्चा की। कलेक्टर ने उनके साथ आई उनकी बच्ची को निष्ठा योजना में आवासीय विद्यालय में दाखिला कराने निर्देश अधिकारियों को दिए। पीड़ित को नियुक्ति
तेंदूपत्ता बोनस वितरण में गड़बड़ी की होगी जांच, मंत्री लखमा ने दिए निर्देश

तेंदूपत्ता बोनस वितरण में गड़बड़ी की होगी जांच, मंत्री लखमा ने दिए निर्देश

chhattisgarh
सुकमा (एजेंसी) | कलेक्‍टोरेट सभा कक्ष में सोमवार दोपहर को आयोजित समीक्षा बैठक में उद्योग एवं वाणिज्य कर (आबकारी) मंत्री कवासी लखमा ने आदिवासी विकास विभाग द्वारा संचालित आश्रम-छात्रावास में की गई मरम्मत की जांच के निर्देश दिए। लखमा ने कहा कि आश्रम-छात्रावास की मरम्मत के लिए राज्य शासन द्वारा उपलब्ध कराई गई राशि का दुरुपयोग किया है। उन्होंने इसकी जांच के लिए कलेक्‍टर से समिति गठित करने को कहा। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); तेंदूपत्ता बोनस वितरण में हुई अनियमितता की लगातार मिल रही शिकायतों पर कवासी लखमा ने नाराजगी जाहिर करते हुए जांच के निर्देश दिए। गौरतलब है कि कोंटा ब्लॉक की तेंदूपत्ता समितियों में प्रबंधकों और रोकड़पाल द्वारा संग्राहकों को कम बोनस राशि वितरण किए जाने की खबरें आई थी। नलजल योजनाओं का कियान्वयन  मंत्री लखमा ने सुकमा, कोंटा और दोरनापा
लोकसभा चुनाव से पहले 11 कलेक्टरों समेत 42 आईएएस अफसरों के तबादले, मौर्य राजनांदगांव के, आनंद दुर्ग के और किरण होंगे कोरबा के कलेक्टर

लोकसभा चुनाव से पहले 11 कलेक्टरों समेत 42 आईएएस अफसरों के तबादले, मौर्य राजनांदगांव के, आनंद दुर्ग के और किरण होंगे कोरबा के कलेक्टर

chhattisgarh
रायपुर (एजेंसी) | लोकसभा चुनाव से पहले प्रदेश सरकार ने साेमवार रात में बड़ी प्रशासनिक सर्जरी की। 11 जिलों के कलेक्टरों समेत 42 आईएएस अफसरों का तबादला कर दिया गया है। राजनीतिक रूप से अहम माने जा रहे कांकेर, राजनांदगांव, दुर्ग और कोरबा संसदीय जिलों के कलेक्टरों को भी बदला गया है। दिसंबर में किए गए तबादलों में ये जिले छूट गए थे। इनके अलावा रायपुर के निगम आयुक्त और बस्तर के संभागायुक्त को भी बदला गया है। तबादलों की कवायद पिछले 2 दिन से मुख्यमंत्री सचिवालय में चल रही थी। सीएम भूपेश बघेल के सोमवार को बिहार और दिल्ली के दौरे से लौटने के बाद देर रात आदेश जारी किए गए। एक माह के भीतर ही दो चरणों में मुख्यमंत्री ने प्रदेश के 27 में से 26 जिलों के कलेक्टरों को बदल दिया है। 93 बैच के आईएफएस आलोक कटियार को सीईओ क्रेडा के साथ राज्य ग्रामीण विकास अभिकरण का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। तीन साल से
नहीं हुई कोई मुठभेड़, जवानों ने निर्दोष महिलाओं को पीछे से मारी गोली, वर्दी भी पहना रहे थे, मजिस्ट्रियल जांच के आदेश

नहीं हुई कोई मुठभेड़, जवानों ने निर्दोष महिलाओं को पीछे से मारी गोली, वर्दी भी पहना रहे थे, मजिस्ट्रियल जांच के आदेश

chhattisgarh
सुकमा (एजेंसी) | सुकमा जिले के गोदेलगुड़ा गांव, पूरे गांव में मातम और सन्नाटा पसरा हुआ है। इसके पीछे की वजह यह है कि गांव की एक महिला गोलीबारी में मारी गई तो दूसरी घायल है। पूरा गांव दहशत के साथ आक्रोश में है। गांव के लोगों की जुबान पर बस एक ही बात है कि जवानों ने उनकी गांव की महिलाओं को गोली मार दी। गांव में हर छोटा-बड़ा बस एक ही बात कह रहा है कि उनके गांव में कोई मुठभेड़ नहीं हुई थी और जवानों ने निर्दोष महिलाओं पर पीछे से गोली चला दी। गांव के लोगों के आक्रोश के बीच एसपी सुकमा जितेंद्र शुक्ला भी मान रहे हैं कि वे महिलाएं नक्सली नहीं थी, उनको गोली मुठभेड़ के दौरान क्राॅस फायरिंग के दौरान लगी। मृतिका के परिजनों को 25 हजार और घायल को 20 हजार की मदद सुकमा एसपी शुक्ला ने कहा है कि मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है और मजिस्ट्रियल जांच भी करवाई जा रही है
स्मार्ट कार्ड योजना होगी बंद, थाईलैंड की तर्ज पर बनेगे आईडी कार्ड, सिर्फ सरकारी अस्पतालों में होगा इलाज़

स्मार्ट कार्ड योजना होगी बंद, थाईलैंड की तर्ज पर बनेगे आईडी कार्ड, सिर्फ सरकारी अस्पतालों में होगा इलाज़

chhattisgarh
रायपुर (एजेंसी) | भूपेश सरकार स्मार्ट कार्ड से फ्री इलाज वाली मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना बंद करने जा रही है। लोगों के लिए सरकार अब आईडी कार्ड से फ्री इलाज वाली योजना लाने जा रही है, जो सिर्फ सरकारी अस्पतालों में होगा। इसकी घोषणा आने वाले बजट में होगी। प्रदेश में अब यूनिवर्सल हेल्थ स्कीम लागू होगी, कांग्रेस घोषणा पत्र में भी इसका उल्लेख है। थाईलैंड में इस तरह की योजना 2002 से सफलता पूर्वक संचालित हो रही है। इसके अध्ययन के लिए हाल ही में स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव थाईलैंड गए भी थे। इससे पहले राज्य सरकार ने आयुष्मान योजना बंद करने की घोषणा की थी। बतौर सिंहदेव जितने दिन यूनिवर्सल हेल्थ स्कीम लागू होने में लगेंगे, उतने ही दिन आयुष्मान योजना चलेगी। स्वास्थ्य विभाग को कार्ययोजना बनाने के निर्देश दे दिए गए हैं। 7 जनवरी को नई स्कीम की तैयारियों को लेकर समीक्षा बैठक रखी गई है।
अंतागढ़ टेपकांड: अंतागढ़ टेपकांड में भूपेश सरकार द्वारा पहली कार्यवाई, पूर्व सीएम अजीत जोगी और पूर्व मंत्री मूणत समेत कई अन्य नेताओं पर केस

अंतागढ़ टेपकांड: अंतागढ़ टेपकांड में भूपेश सरकार द्वारा पहली कार्यवाई, पूर्व सीएम अजीत जोगी और पूर्व मंत्री मूणत समेत कई अन्य नेताओं पर केस

chhattisgarh
रायपुर (एजेंसी) | अंतागढ़ टेपकांड उजागर होने के ठीक 3 साल बाद, रविवार रात करीब 1:30 बजे राजधानी के पंडरी थाना में धोखाधड़ी का केस दर्ज कर लिया गया है। पुलिस ने पूर्व महापौर डॉ. किरणमयी नायक की रिपोर्ट पर अंतागढ़ के तत्कालीन कांग्रेस प्रत्याशी मंतूराम पवार के अलावा पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी और उनके बेटे व पूर्व विधायक अमित जोगी सहित पूर्व सीएम रमन सिंह के दामाद डॉ. पुनीत गुप्ता और पूर्व पीडब्लूडी मंत्री राजेश मूणत के खिलाफ 420 तथा भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धाराओं में केस रजिस्टर किया। रायपुर एसपी नीतू कमल ने एफआईआर दर्ज होने की पुष्टि की है। अंतागढ़ टेपकांड में भूपेश सरकार द्वारा कराई गई यह पहली कार्रवाई है। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); सरकार के निर्देश पर शनिवार को ही अंतागढ़ टेपकांड की जांच के लिए बनी एसआईटी की कमान रायपुर के प्रभारी आईजी डॉ. आनंद छाब