gondwana express logo
Gondwana Express banner

chhattisgarh

आज से राज्य के सभी जिलों में बनाए जाएंगे नए राशन कार्ड, पुराने का नवीनीकरण भी होगा

आज से राज्य के सभी जिलों में बनाए जाएंगे नए राशन कार्ड, पुराने का नवीनीकरण भी होगा

chhattisgarh
रायपुर(एजेंसी) | फूड फार आल योजना के तहत राज्य सरकार 15 से 29 जुलाई तक नए राशन कार्ड बनाने और पुराने राशन कार्ड के नवीनीकरण के लिए प्रदेशभर में शिविर लगाएगी।  पांच साल से ज्यादा पुराने 58.54 लाख राशन कार्ड का नवीनीकरण किया जाएगा। आवेदन लेने के बाद एक से आठ सितंबर तक शिविर लगाकर नए राशन कार्डों का वितरण किया जाएगा। आज से नवा राशन कार्ड अभियान प्रारम्भ हो रहा है।राशन कार्डों के नवीनीकरण के लिए राज्य के सभी ग्राम पंचायतों एवं नगरीय निकायों के वार्ड में आवेदन शिविरों का आयोजन किया जा रहा है, जिससे सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारी आप सभी के साथ साझा कर रहा हूँ।"नवा छत्तीसगढ़ का नवा राशन कार्ड" pic.twitter.com/rFwtzXwDQv— Bhupesh Baghel (@bhupeshbaghel) July 15, 2019 सार्वजनिक वितरण प्रणाली आदेश 2016 के खंड 4 उपखंड 6 के प्रावधानों के मुताबिक राशन कार्ड जारी किए जाने के 5 वर्
सीजी पीएससी घोटाला: राज्य प्रशासनिक सेवा के 19 अधिकारियों को सुप्रीम कोर्ट ने किया तलब

सीजी पीएससी घोटाला: राज्य प्रशासनिक सेवा के 19 अधिकारियों को सुप्रीम कोर्ट ने किया तलब

chhattisgarh
रायपुर (एजेंसी) | पीएससी चयन में गड़बड़ी को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने राज्य प्रशासनिक सेवा के 19 अधिकारियों को तलब किया है। कोर्ट की ओर से जारी नोटिस में इन अधिकारियों को 30 दिन का समय दिया गया है। यह अंतिम नोटिस है। इस दौरान इन अधिकारियों को स्वयं उपस्थित होना होगा या फिर वकील के माध्यम से अपना पक्ष रखना होगा। ऐसा नहीं करने पर माना जाएगा कि वे अपना पक्ष नहीं रखना चाहते हैं और कोर्ट इसी आधार पर मामले की सुनवाई करेगा। अंतिम बार भेजा गया नोटिस, कई अधिकारी अब मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड में भी नियुक्त दरअसल, वर्ष 2003 में छत्तीसगढ़ लोकसेवा आयोग की ओर से जारी किए गए परिणामों में चयनित 147 अभ्यर्थियों के चयन को लेकर चुनाती दी गई थी। इस संबंध में दायर जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने सभी अभ्यर्थियों को नोटिस जारी किया था। इनमें से 138 अभ्यर्थियों ने तो नोटिस का जवाब
भारत माता की जय बोलने पर स्कूल में रोक, परिजनों ने किया प्रदर्शन

भारत माता की जय बोलने पर स्कूल में रोक, परिजनों ने किया प्रदर्शन

chhattisgarh
कांकेर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के निजी स्कूल में भारता माता की जय का नारे पर रोक लगाने को लेकर शुक्रवार को हंगामा हो गया। परिजनों और कई संगठनों ने स्कूल पर आरोप लगाते हुए प्रदर्शन शुरू कर दिया। साथ ही स्कूल प्रबंधन के खिलाफ प्रशासन ने शिकायत करने की भी बात कही। यह स्कूल क्रिश्चियन समुदाय की ओर से संचालित किया जाता है। लोग धरने पर बैठने के साथ ही नारेबाजी करने लगे। उन्होंने स्कूल प्राचार्य का पुतला भी फूंका। हंगामा बढ़ने पर स्कूल प्रशासन भी सामने आ गया और उसने सफाई दी है कि इस तरह के नारे लगाने पर कोई रोक नहीं लगाई गई है। वहीं नारेबाजी को लेकर सियासत भी शुरू हो गई है और भाजपा- कांग्रेस आमने-सामने हो गए हैं। कांग्रेस बोली- जांच में सही मिला तो लगेगा स्कूल पर प्रतिबंध दरअसल, भानुप्रतापपुर में संचालित जोसेफ इंग्लिश मीडियम स्कूल में शुक्रवार सुबह बच्चों के परिजनों के साथ ही कुछ हिंदूवाद
बंगले पर ड्यूटी से भृत्य ने मना किया, नाराज जज ने कहा- कोर्ट के बाहर खड़े रहो; सजा के दौरान हो गया बेहोश

बंगले पर ड्यूटी से भृत्य ने मना किया, नाराज जज ने कहा- कोर्ट के बाहर खड़े रहो; सजा के दौरान हो गया बेहोश

chhattisgarh
दुर्ग (एजेंसी) | जिला न्यायालय में एक जज ने भृत्य को कोर्ट के बाहर खड़े होने की सजा सुना दी, क्योंकि उसने जज के बंगले पर ड्यूटी करने से इंकार कर दिया था। घटना शुक्रवार की है। सजा के दौरान भृत्य बेहोश होकर गिर गया। जिसके बाद कोर्ट के अन्य भृत्य धरना देने लगे। वकीलों के समर्थन के बाद स्थिति उग्र हो गई। डीजे गोविंद प्रसाद मिश्रा के आश्वासन के बाद कोर्ट में स्थिति थोड़ी संभली और लघु वेतन कर्मचारी संघ के सदस्य कोतवाली थाना में आवेदन देने पहुंच गए। संघ के सदस्यों ने दो साल पहले हुई मौत की भी जांच कराने की मांग रखा न्यायालय लघु वेतन कर्मचारी संघ के अध्यक्ष संतोष यादव के अनुसार भृत्य सदानंद यादव ने बंगले में ड्यूटी करने से मना कर दिया इसलिए उसे सजा मिली। शाम करीब 4:30 बजे सदानंद बेहोश होकर गिर गया, उसे पहले जिला अस्पताल में भर्ती कराया बाद में मेकहारा रेफर किया गया। इस मामले के अलावा सं
गरीब पिता ने बेटे की आर्य समाज मंदिर में शादी कराई तो समाज ने 21 हजार का दंड और भोज का फरमान सुनाया

गरीब पिता ने बेटे की आर्य समाज मंदिर में शादी कराई तो समाज ने 21 हजार का दंड और भोज का फरमान सुनाया

chhattisgarh
महासमुंद (एजेंसी) | एक व्यक्ति ने अपने ही समाज की युवती के साथ बेटे की शादी सामाजिक रीति-रिवाज के बजाए आर्य समाज के मंदिर में जाकर कर दी। इसके चलते समाज के ठेकेदारों ने उस पर भोज कराने और 21 हजार रुपए का अर्थदंड लगाने का फरमान जारी कर दिया। परिवार ने इससे इनकार किया तो उनका सामाजिक बहिष्कार कर दिया गया। समाज के अध्यक्ष ने भी पदाधिकारियों को समझाया, लेकिन वे नहीं माने। इसके बाद परिवार की ओर से 9 लोगों के खिलाफ डीजीपी से शिकायत की गई है। सारा मामला तुमगांव पंचायत का है। आर्थिक तंगी के कारण रमेश ने अपने बेटे नागेश्वर की शादी अपने ही समाज की युवती से 3 दिसंबर 2018 को रायपुर के आर्य समाज के मंदिर में कर दी। मिन्नतें की तो अर्थदंड 16 हजार किया, बोले- भोज कराना जरूरी महासमुंद मुख्यालय से 12 किमी की दूरी पर तुमगांव नगर पंचायत है। पंचायत के वार्ड नंबर 13 के रहने वाले है रमेश निर्मलकर ध
21 कुष्ठ रोगियों को मिली नई जिंदगी, जिले में पहली बार कुष्ठ पीड़ितों की रिकंस्ट्रक्टिव सर्जरी

21 कुष्ठ रोगियों को मिली नई जिंदगी, जिले में पहली बार कुष्ठ पीड़ितों की रिकंस्ट्रक्टिव सर्जरी

chhattisgarh
बलौदाबाजार (एजेंसी) | जिला अस्पताल में 21 कुष्ठ पीड़ितों नई जिंदगी मिली है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिला अस्पताल में विशेष कैम्प लगाकर कुष्ठ रोगियों की रिकंस्ट्रक्टिव सर्जरी की गई है। इस सर्जरी के बाद अब ये सब सामान्य जीवन जी सकेंगे।कलेक्टर कार्तिकेया गोयल इस दौरान खुद अस्पताल पहुँचे और मरीजों का हाल चाल लिया। सिविल सर्जन डॉ अभय सिंह परिहार ने बताया किक्षेत्रीय कुष्ठप्रशिक्षण एवं अनुसंधान केंद्र रायपुर के सर्जन डॉ के एम काम्बले ,डॉ के के सहारे और 16 सहायकों की टीम ने यह सर्जरी की है। उन्होंने बताया कि दो महीने बाद फिर कैम्प लगाकर 15 मरीजों की सर्जरी की जाएगी। https://youtu.be/RAQiktHStMQ सिमगा विकासखण्ड के लावर ग्राम की 16 वर्षीय भारती ध्रुव कक्षा 11 वीं में पढ़ती हैं। बीमारी के कारण धीरे धीरे भारती का हाथ सुन होने लगा था। लिखने में तकलीफ होने लगी तो भारती ने अपनी मां विशाखा ध्रुव क
अरपा पर अवैध कब्जा: नदी की जमीन घेरने के लिए खड़े कर लिए कॉलम

अरपा पर अवैध कब्जा: नदी की जमीन घेरने के लिए खड़े कर लिए कॉलम

chhattisgarh
बिलासपुर (एजेंसी) | शहर में बेजा कब्जा के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। नगर निगम की भवन शाखा की मिलीभगत से अवैध निर्माण पर अंकुश नहीं लगाया जा सका है। बेजा कब्जा करने वालों के हौसले इतने बुलंद हो गए हैं कि अब वे नदी की जमीन पर बेजा कब्जा करने लगे हैं। इससे पहले सरकंडा चटर्जी गली के पास नदी में दो कमरों के मकान के अवैध निर्माण का मामला सामने आया था। भवन शाखा ने दो बार नोटिस देकर आगे कोई कार्रवाई नहीं की। ताजा मामला इंदिरा सेतु से राम मंदिर की ओर नदी के किनारे की जमीन पर अवैध निर्माण की गरज से कॉलम खड़े करने का है। इस पर भी भवन अनुज्ञा शाखा ने नोटिस देकर काम बंद कराने का दावा किया है। पौधरोपण के नाम पर भी बेजा कब्जा अरपा में बेजा कब्जा के लिए अब पौधरोपण का भी सहारा लिया जा रहा है। खबर है कि कोनी रोड पर नदी किनारे कुछ सामाजिक संगठनों ने पौधरोपण के लिए अच्छा काम किया है, परंतु इनकी
डीआरजी जवान की हत्या कर सड़क किनारे फेंका शव, गर्दन पर मिले गहरे घाव के निशान

डीआरजी जवान की हत्या कर सड़क किनारे फेंका शव, गर्दन पर मिले गहरे घाव के निशान

chhattisgarh
सुकमा (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के सुकमा में शुक्रवार सुबह एक डीआरजी जवान का खून से लथपथ शव सड़क किनारे पड़ा मिला है। जवान गुरुवार देर रात घर से अपने बोलेरो वाहन से निकला था। इसके बाद से उसका कुछ पता नहीं था। शव के पास ही पुलिस ने उसका वाहन भी खड़ा मिल गया है। पुलिस को शव की गर्दन पर गहरे चोट के निशान मिले हैं। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है। गाड़ी में भी मिले खून के निशान जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार सुबह पुलिस को सूचना मिली कि बाईपास पर सड़क किनारे एक युवक शव पड़ा हुआ है। वहीं पास में बोलेरो वाहन भी खड़ा है। पुलिस मौके पर पहुंची तो युवक की पहचान रामनिवास के रूप में हुई। रामनिवास सहायक आरक्षक के पद पर बुर्कापाल स्थित मुख्यालय में पदस्थ था। बताया जा रहा है कि वह गुरुवार देर रात अपने बोलेरो वाहन से घर से निकला था। इसके बाद नहीं लौटा। सुबह उसका शव सड़क किनारे
बघेल सरकार पहली से 8वीं तक बच्चों को ओड़िया भाषा पढ़ाएगी, वैकल्पिक विषय के रूप में शामिल किया जाएगा

बघेल सरकार पहली से 8वीं तक बच्चों को ओड़िया भाषा पढ़ाएगी, वैकल्पिक विषय के रूप में शामिल किया जाएगा

chhattisgarh
बिलासपुर (एजेंसी) | राज्य में ओड़िया भाषा बोलने वालों की संख्या के आधार पर राज्य सरकार ने पहली से आठवीं तक स्कूल के सिलेबस में ओड़िया को वैकल्पिक विषय के रूप में शामिल करने की मांग करते हुए दी गई अर्जी पर विचार कर निर्णय लेने का आश्वासन हाईकोर्ट को दिया है। एडवोकेट हमीदा सिद्दिकी के जरिए हाईकोर्ट में जनहित याचिका लगाई थी, इसमें राज्य में प्राइमरी व मिडिल स्कूल के पाठ्यक्रम में ओड़िया भाषा को शामिल करने की मांग करते हुए बताया गया था कि संविधान में भी मातृभाषा में शिक्षा प्राप्त करने का अधिकार है। रिटायर्ड हैडमास्टर ने 2016 में इस संबंध में विस्तृत जानकारी और संवैधानिक प्रावधानों का उल्लेख करते हुए राज्य सरकार को आवेदन दिया था। इस पर विचार नहीं होने पर हाईकोर्ट में जनहित याचिका लगाई गई थी। हाईकोर्ट ने गुरुवार को याचिका निराकृत कर दी। प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में रहते है ओड़िया भाषी
जिला शिक्षा अधिकारी की अनुमति बिना कोई स्कूल फीस नहीं बढ़ा सकता

जिला शिक्षा अधिकारी की अनुमति बिना कोई स्कूल फीस नहीं बढ़ा सकता

chhattisgarh
जिला शिक्षा अधिकारी की अनुमति बिना कोई स्कूल फीस नहीं बढ़ा सकता: श्री भार्गव बढ़ाई गई फीस वापस लेने के निर्देश डीईओ ने ली निजी स्कूल प्रबंधन की बैठक बलौदाबाजार, जिला शिक्षा अधिकारी श्री ए.के.भार्गव ने कहा कि कोई भी निजी स्कूल मनमाने तरीके से फीस नहीं बढ़ा सकते हैं। उन्हें बाकायदा इसका तार्किक कारण बताते हुए फीस बढ़ाने का अनुमोदन लेना होगा। पालकों से सहमति लेने के बाद जिला शिक्षा अधिकारी इसका अनुमोदन करेंगे। श्री भार्गव आज यहां जिला ग्रंथालय के सभाकक्ष में निजी स्कूल प्रबंधन की बैठक को सम्बोधित करते हुए इस आशय के निर्देश दिए। बैठक में निजी स्कूलों के संचालक, प्राचार्य एवं उनके प्रतिनिधि उपस्थित थे। उन्होंने बिना अनुमोदन के फीस बढ़ाये कुछ स्कूलों को फीस वृद्धि वापस लेने की सख्त हिदायत दी है। अन्यथा उनकी मान्यता रद्द करने पर विचार किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि जिले में लगभग 300 निजी स्