छत्तीसगढ़ - गोंडवाना एक्सप्रेस
gondwana express logo

छत्तीसगढ़

पढ़े छत्तीसगढ़(Chhattisagrh) राज्य की महत्वपूर्ण खबरे।

रायपुर : छत्तीसगढ़ में पहली बार राज्य स्तरीय प्लेसमेंट कैंप का आयोजन 21 अक्टूबर को

रायपुर : छत्तीसगढ़ में पहली बार राज्य स्तरीय प्लेसमेंट कैंप का आयोजन 21 अक्टूबर को

education, छत्तीसगढ़
रायपुर. छत्तीसगढ़ के युवाओं को राष्ट्रीय स्तर पर राष्ट्रीय स्तर की कम्पनियों में रोजगार उपलब्ध कराने राज्य सरकार द्वारा प्रदेश में पहली बार राज्य स्तर पर प्लेसमेंट कैंप का आयोजन किया जा रहा है। यह प्लेसमेंट कैंप रायपुर सेजबहार स्थित शासकीय इंजीनियरिंग महाविद्यालय में 21 अक्टूबर 2019 को किया जाएगा। तकनीकी शिक्षा संचालनालय द्वारा शासकीय इंजीनियरिंग महाविद्यालय के अधिक से अधिक विद्यार्थियों का प्लेसमेंट राष्ट्रीय एवं राज्य स्तरीय प्रतिष्ठित कंपनियों में करवाने हेतु अवसर प्रदान करने के लिए राज्य स्तरीय प्लेसमेंट कैंप का आयोजन किया जा रहा है। राज्य के तीन शासकीय इंजीनियरिंग महाविद्यालय रायपुर, बिलासपुर एवं जगदलपुर में तीन हजार 370 विद्यार्थी अध्ययनरत हैं। सत्र 2018-19 में तीनों शासकीय इंजीनियरिंग महाविद्यालय रायपुर से 82, बिलासपुर से 15 एवं जगदलपुर से मात्र 13 विद्यार्थियों का कैंपस प्लेसमे
छत्तीसगढ़: धमतरी की रैली में 208 युवा वायुसेना में चुने गए, इतनी बड़ी संख्या पहली बार हुआ चयन

छत्तीसगढ़: धमतरी की रैली में 208 युवा वायुसेना में चुने गए, इतनी बड़ी संख्या पहली बार हुआ चयन

छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के 208 युवा अब वायु सेना में अपनी सेवाएं देंगे। पिछले कुछ दिनों से राज्य में वायु सेना की भर्ती प्रक्रिया जारी थी। गुरुवार को धमतरी जिले में आयोजित वायुसेना भर्ती अभियान में युवा शामिल हुए। दुनिया की बेहतरीन वायु सेनाओं में शामिल भारतीय वायु सेना में शामिल होने युवाओं में गजब का उत्साह दिखा। वायुसेना भर्ती रैली में प्रदेश भर के सभी 27 जिलों के कुल 5 हजार 418 अभ्यर्थी सम्मलित हुए। इनमें 208 को आसमानी यूनिफॉर्म के साथ लड़ाकू विमानों के बीच करियर बनाने के लिए चुन लिया गया। पहले चरण में प्रदेश के 13 जिले के 3049 अभ्यर्थी और दूसरे चरण में 14 जिले के 2369 अभ्यर्थी इसमें शामिल हुए। सीएम बघेल ने चयनित अभ्यर्थियों को दी बधाई मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सभी चयनित अभ्यर्थियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि जो अभ्यर्थी इसमें असफल रहे उन्हें अपनी कमियों को दूर करते हुए अग
रायपुर : बच्चों के लिए 46वीं जवाहर लाल नेहरू राष्ट्रीय विज्ञान गणित एवं पर्यावरण प्रदर्शनी लोगों के आकर्षण का केन्द्र बनी हुई है

रायपुर : बच्चों के लिए 46वीं जवाहर लाल नेहरू राष्ट्रीय विज्ञान गणित एवं पर्यावरण प्रदर्शनी लोगों के आकर्षण का केन्द्र बनी हुई है

education, छत्तीसगढ़
रायपुर. बच्चों के लिए 46वीं जवाहर लाल नेहरू राष्ट्रीय विज्ञान गणित एवं पर्यावरण प्रदर्शनी लोगों के आकर्षण का केन्द्र बनी हुई है। यहां देशभर से आए बाल वैज्ञानिकों ने जीवन की चुनौतियों के समाधान को मॉडल के माध्यम से अपनी सोच के आधार पर प्रस्तुत किया है। शंकर नगर बीटीआई मैदान में आयोजित चलित विज्ञान प्रदर्शनी का रायपुर, सूरजपुर, तिल्दा-नेवरा आदि जगहों के स्कूलों से 700 बच्चों ने अवलोकन किया। प्रदर्शनी का मुख्य विषय ‘‘जीवन में चुनौतियों के लिए वैज्ञानिक समाधान’’ है। मॉडल एवं प्रादर्शो का प्रदर्शन छह भागों-कृषि एवं जैविक खेती, स्वास्थ्य एवं स्वच्छता, संसाधन प्रबंधन, अपशिष्ट प्रबंधन, परिवहन और संचार तथा गणितीय प्रतिरूपण में किया गया है। छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले से प्रस्तुत प्रादर्श जिसमें हाथी के आक्रमण से बचाव के उपाय सुझाए गए है आर्कषण का केंद्र रहा। उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ के कोरबा, ज
छत्तीसगढ़: अब बोतले गिनकर सरकार पता करेगी पीने वालो की संख्या

छत्तीसगढ़: अब बोतले गिनकर सरकार पता करेगी पीने वालो की संख्या

छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | प्रदेश में शराब बंदी करने के बजाय सरकार अब एक अजीब फॉर्मूला लाई है। और वो है- शराब पीने वालों के आंकड़े जुटाने के लिए बिक्री का डाटा इकट्‌ठा किया जाएगा। ये सुझाव पिछले दिनों शराब बंदी के लिए हुई प्रशासनिक समिति की बैठक में एक सदस्य ने दिया था। समिति के अध्यक्ष सत्यनारायण शर्मा के अनुसार पीने वालों की निजता का ध्यान रखा जाएगा। इसके लिए पीने वालों की गिनती करने के बजाय बोतलों की गिनती के आधार पर आंकलन होगा। शर्मा ने कहा कि प्रदेश में शराब के आदि लोगों की स्थिति जल बिन मछली की तरह हो गई है। समिति ने राज्य में नशा मुक्ति केंद्र बढ़ाने की बात जरूर कही है। दरअसल, शराब बंदी के लिए प्रदेश सरकार ने प्रशासनिक, सामाजिक और राजनीतिक समिति बनाई थीं। इन सभी की अलग-अलग जिम्मेदारी तय की गई और सुझाव मांगे गए। इसके बाद ये गिनती का फॉर्मूला सामने आया। 2018-19 में 4500 करोड़ की आमदनी
छत्तीसगढ़: राज्य कर्मचारियों को सरकार का दीपावली गिफ्ट, 7वें वेतनमान के एरियर की मिलेगी दूसरी किश्त

छत्तीसगढ़: राज्य कर्मचारियों को सरकार का दीपावली गिफ्ट, 7वें वेतनमान के एरियर की मिलेगी दूसरी किश्त

छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ सरकार ने दीपावली के अवसर पर राज्य कर्मचारियों को गिफ्ट दिया है। इसके तहत मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दीपावली से पहले 7वें वेतनमान के एरियर की दूसरी किश्त कर्मचारियों को देने की स्वीकृति प्रदान की है। सरकार के इस निर्णय से प्रदेश के जहां 3.50 लाख कर्मचारियों को फायदा मिलेगा, वहीं शासन पर 550 करोड़ रुपए का अतिरिक्त वित्तीय भार आएगा। यह वर्ष 2019 में देय सातवें वेतनमान का एरियर है, जिसे 6 किश्तों में कर्मचारियों को भुगतान किया जाना है। वित्त विभाग के अधिकारियों ने बताया कि राज्य शासन के कर्मचारियों को 7वें वेतनमान का लाभ एक जनवरी 2016 से देय है। इसका भुगतान जुलाई 2017 से किया जा रहा है। राज्य सरकार की ओर से जनवरी 2016 से जून 2017 तक कुल 18 माह के एरियर की राशि का भुगतान 6 समान किश्तों में देने का निर्णय लिया गया है। प्रथम किश्त का भुगतान अगस्त 2018 में हो चु
छत्तीसगढ़: सीएम भूपेश बघेल के पिता ने की दशानन और महिषासुर की पूजा, 124 गांवों में रावण दहन नहीं करने का संकल्प

छत्तीसगढ़: सीएम भूपेश बघेल के पिता ने की दशानन और महिषासुर की पूजा, 124 गांवों में रावण दहन नहीं करने का संकल्प

politics, छत्तीसगढ़
राजनांदगांव (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नंदकुमार बघेल ने दशहरे के दिन रावण की पूजा की। सर्व आदिवासी समाज के कार्यक्रम में उन्होंने महिषासुर और मेघनाद का शहादत दिवस मनाया। आदिवासी नेता सुरजू टेकाम ने रावण दहन न करने का प्रस्ताव रखा। कार्यक्रम में तय किया गया कि क्षेत्र के 124 गांवों में रावण दहन में कोई भी आदिवासी शामिल नहीं होगा, न ही कोई सहयोग देगा, क्योंकि आदिवासी रावण को अपना पुरखा मानते हैं। वोट हमारा राज तुम्हारा, यह नहीं चलेगा: नंद कुमार वोट हमारा-राज तुम्हारा, यह नहीं चलेगा। प्रदेश में आए तमाम उच्च वर्ग के लोगों गिन-गिन के दफ्तरों से निकाला जाए और हमारे बच्चों को नौकरी दी जाए। यह हमारी अंतिम लड़ाई है। अब चाहे इसे नक्सलवाद कहिए या कोई भी वाद कहिए। हम हक और अधिकार की लड़ाई लडेंगे। जब भी आप पर कोई संकट आए मैं यहां आने के लिए तैयार हूं। आप लोगों (आदिवासियों
छत्तीसगढ़: 20 रुपए के लिए कस्टमर केयर में काॅल, खाते से 31 हजार पार

छत्तीसगढ़: 20 रुपए के लिए कस्टमर केयर में काॅल, खाते से 31 हजार पार

छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | जोमैटो कंपनी से 20 रुपए वापस लेने के लिए एक युवक ने गूगल में कस्टमर केयर नंबर सर्च कर कॉल किया। उसे ऑनलाइन पैसा वापसी का झांसा दिया गया और एक लिंक भेजा गया। लिंक में खाते की जानकारी देते ही 10 मिनट के भीतर 31 हजार रुपए निकाल लिया गया। युवक के पास लगातार ट्रांजेक्शन के चार मैसेज आए, तब ठगी का पता चला। उसने पुरानी बस्ती थाना और साइबर सेल में शिकायत की है। अश्वनी नगर का धीरेंद्र कुमार प्राइवेट नौकरी करता है। रविवार रात उसने जोमैटो से 110 रुपए का खाना मंगाया था। उसे कंपनी से कॉल आया कि उन्होंने जो खाने में मंगाया है वह उपलब्ध नहीं है। उसकी जगह कोई दूसरा ऑर्डर कर सकते हैं। तब धीरेंद्र ने पनीर ऑर्डर, जो 90 रुपए का था। कंपनी वालों ने धीरेंद्र से कहा कि उन्हें 110 रुपए के हिसाब से ही खाना भेजा जाएगा। उसकी मात्रा बढ़ाई जाएगी। आधा घंटे बाद धीरेंद्र के पास जोमैटो का कर्मचारी भ
छत्तीसगढ़: प्लास्टिक कचरा लाओ और भरपेट खाना खाओ; देश का पहला गार्बेज कैफे की शुरू

छत्तीसगढ़: प्लास्टिक कचरा लाओ और भरपेट खाना खाओ; देश का पहला गार्बेज कैफे की शुरू

छत्तीसगढ़
अंबिकापुर (एजेंसी) | प्लास्टिक कचरा लाओ और भरपेट भोजन खाओ। सुनने और पढ़ने में यह बात अजीब जरूर लग सकती है, लेकिन छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर शहर के गार्बेज कैफे में इसकी शुरुआत हो गई है। यह अपने आप में देश का पहला ऐसा कैफे है, जो प्लास्टिक कचरे के बदले में लोगों को नाश्ता और खाना मुहैया कराएगए। नगर निगम की शहर को प्लास्टिक मुक्त बनाने की यह पहल है। सफाई के मामले में इंदौर के बाद दूसरे नंबर पर अंबिकापुर का नाम आता है। पहले दिन पांच लोगों ने प्लास्टिक कचरा देकर किया भोजन शहर के प्रतीक्षा बस स्टैंड पर खुले गार्बेज कैफे का प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने बुधवार को उद्घाटन किया। इस दौरान पहले ही दिन पांच लोग प्लास्टिक कचरा लेकर कैफे पहुंच गए। इन सभी ने स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव के साथ गार्बेज कैफे में भोजन भी किया। स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने कहा कि वह भोजन की क्वॉलिटी चेक करना चा
छत्तीसगढ़: फोटो लेने की कोशिश में बम्लेश्वरी पहाड़ी से 700 फीट नीचे गिरा युवक, हालत गंभीर

छत्तीसगढ़: फोटो लेने की कोशिश में बम्लेश्वरी पहाड़ी से 700 फीट नीचे गिरा युवक, हालत गंभीर

छत्तीसगढ़
राजनांदगांव (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के राजनांगदगांव में बुधवार सुबह एक युवक फोटो लेने की कोशिश में बम्लेश्वरी पहाड़ी से नीचे जा गिरा। हालांकि नीचे जंगल होने के कारण युवक पेड़ में फंस गया। सूचना मिलते ही पुलिस की टीम मौके पर पहुंच गई और जवानों ने उसे बाहर निकला। युवक को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। बताया जा रहा है कि आसपास की फोटो लेेने के दौरान युवक का पैर फिसल गया। बम्लेश्वरी पहाड़ी की ऊंचाई करीब 700 फीट है। पत्नी और बेटी के साथ आया था दर्शन करने जानकारी के मुताबिक, हिर्री थाना क्षेत्र के ग्राम खैरा निवासी रामखिलावन साहू (45) अपनी पत्नी और बेटी के साथ बुधवार को मां बम्लेश्वरी मंदिर में दर्शन करने आया था। दर्शन करने के बाद रामखिलावन आस-पास नजारे देखने लगा। फोटो खींचने वो एक पहाड़ी के पास पहुंच गया। फोटो खींचने के दौरान ही अचानक उसका पैर फिसला और वो पहाड़ी
छत्तीसगढ़: जेल में बंद निर्दोष आदिवासियों के रिहाई के लिए आज किया गया आंदोलन, हजारो आदिवासी जुटे

छत्तीसगढ़: जेल में बंद निर्दोष आदिवासियों के रिहाई के लिए आज किया गया आंदोलन, हजारो आदिवासी जुटे

video, छत्तीसगढ़
बस्तर (एजेंसी) | बस्तर की जेलों में बंद निर्दोष आदिवासियों की रिहाई के लिए आज एक दिवसीय आंदोलन किया गया। सामजिक कार्यकर्ता और आप नेत्री सोनी सोरी ने इलाके के एक दर्जन सरपंचों के साथ दंतेवाड़ा पहुंचकर एसडीएम से आंदोलन किया। एसडीएम ने 9 अक्टूबर को कुआकोंडा में पांच से 6 हजार लोगों की भीड़ के साथ सिर्फ एक दिन आंदोलन करने की अनुमति दे दी थी। इससे पहले सभी अनिश्चितकालीन आंदोलन करने की मांग कर रहे थे। अब एक दिन की अनुमति के बाद भी आंदोलन जारी रखने की बात कही जा रही है। https://youtu.be/LD3Q2labmxw मिली जानकारी के अनुसार 5 अक्टूबर से दंतेवाड़ा, सुकमा और बीजापुर के आदिवासी बस्तर की अलग-अलग जेलों में बंद निर्दोष आदिवासियों की रिहाई की मांग को लेकर पालनार में डटे हुए हैं। आदिवासियों को कुआकोंडा से अनिश्चितकालीन आंदोलन की शुरुआत करनी थी लेकिन आंदोलन के लिए वैधानिक अनुमति नहीं मिलने के कारण