बजट 2019: अंतरिम बजट आज होगा पेश, मिडिल क्लास को आयकर में छूट मिल सकती है, तो किसानों और उद्योग जगत को राहत पैकेज की आस

नई दिल्ली (एजेंसी) | केंद्रीय वित्त मंत्री पीयूष गोयल शुक्रवार सुबह 11 बजे लोकसभा में अंतरिम बजट पेश करेंगे। लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार का यह छठा और अंतिम बजट है। चुनावी साल होने के चलते विभिन्न वर्गों ने बजट से कई राहतों की उम्मीद लगा रखी हैं। नौकरी-पेशा मिडिल क्लास को आयकर में छूट की सीमा बढ़ने की आस है। दूसरी तरफ, कर्ज तले दबा कृषि क्षेत्र और नोटबंदी व जीएसटी के बाद से दबाव झेल रहा लघु उद्योग क्षेत्र भी राहत पैकेज की उम्मीद कर रहा है

आमतौर पर चुनावी वर्ष में सरकारें नई सरकार के गठन तक का खर्च चलाने के लिए लेखानुदान मांगें पारित करवाती हैं। हालांकि, संभावना जताई जा रही है कि इस परंपरा के उलट पीयूष गोयल अंतरिम बजट में विभिन्न वर्गों को लुभाने के लिए कुछ घोषणाएं कर सकते हैं। हालांकि, सरकार ने बुधवार को स्पष्ट किया था कि यह अंतरिम बजट ही रहेगा।




किसानों को लुभाने पर हो सकता है जोर

किसानों और ग्रामीण वोटरों को लुभाने के लिए ग्रामीण क्षेत्र पर खर्च 16% तक बढ़ सकता है। हिंदी पट्‌टी के तीन राज्यों में हार के बाद से किसानों का मुद्दा गर्म है। ओडिशा और तेलंगाना के मॉडल पर छोटे किसानों को प्रति हेक्टेयर 15 हजार रु. तक की सीधी मदद की घोषणा संभव है। ब्याज मुक्त कर्ज जैसे कदम भी उठाए जा सकते हैं।

आगामी वित्त वर्ष के लिए ग्रामीण विकास मंत्रालय काे 1.3 लाख करोड़ रुपए आवंटित किए जा सकते हैं। मौजूदा वित्त वर्ष में यह आवंटन 1.12 लाख करोड़ रुपए है।

नौकरीपेशा और कारोबार जगत को भी मिल सकती है राहत

नौकरी-पेशा वर्ग को राहत देने के लिए आयकर में छूट की सीमा 2.5 लाख से बढ़ाकर तीन लाख रुपए की जा सकती है। बचत को बढ़ावा देने के लिए धारा 80 सी के तहत स्टैंडर्ड डिडक्शन भी 1.5 लाख से बढ़ाकर 2 लाख रुपए किया जा सकता है। कॉर्पोरेट टैक्स 30% से 25% हो सकता है।

यूनिवर्सल बेसिक इनकम स्कीम पर भी घोषणा हो सकती है

यूनिवर्सल बेसिक इनकम स्कीम की भी चर्चा चल रही है। पूरी आबादी के लिए यह सुविधा शुरू करना अभी मुश्किल दिख रहा है। लेकिन बीपीएल आबादी में सबसे गरीब 40% लोगों के लिए ऐसी किसी योजना की घोषणा संभव है।

बजट से पहले सेंसेक्स 665 अंक चढ़ा

बजट से एक दिन पहले गुरुवार को शेयर बाजार मजबूत हुआ। सेंसेक्स 665.44 अंक चढ़कर 36,256.69 और निफ्टी 179.15 अंक चढ़कर 10,830.95 अंक पर बंद हुआ। शेयर बाजार के इस प्रदर्शन में अमेरिकी फेडरल रिजर्व की ब्याज दर स्थिर रखने की घोषणा का भी बड़ा असर माना जा रहा है।



Leave a Reply