भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ी में लेंगे मुख्यमंत्री पद की शपथ, बदल सकता है समारोह स्थल - गोंडवाना एक्सप्रेस
gondwana express logo

भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ी में लेंगे मुख्यमंत्री पद की शपथ, बदल सकता है समारोह स्थल

रायपुर (एजेंसी) | प्रदेश के तीसरे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के सोमवार शाम को होने वाले शपथ ग्रहण समारोह में बारिश खलल डाल सकती है। रविवार देर रात से लगातार जारी हल्की बारिश से साइंस कॉलेज में बनाया गया सभा स्थल जगह-जगह पानी से भर गया है। ऐसे में अब समारोह स्थल को बदला जा सकता है।

साइंस कॉलेज मैदान में शपथ ग्रहण समारोह स्थल को वॉटरप्रूफ नहीं बनाया गया है। इसके कारण अब समारोह स्थल दीनदयाल ऑडिटोरियम में शिफ्ट किया जा सकता है। समारोह में बारिश के खलल डालने की लगातार संभावना जताई जा रही है। बंगाल की खाड़ी से उठे तूफान फेथई के सोमवार को ही आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों से टकराने की संभावना है।

राज्यपाल आनंदी बेन पटेल शाम करीब 4.30 बजे भूपेश बघेल को मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाएंगी। खास बात कि भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ी में ही मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। उनके साथ दो और भी मंत्रियों काे शपथ दिलाई जा सकती है। इनमें टीएस सिंहदेव, ताम्रध्वज साहू और चरणदास महंत में से दो नाम होने की संभावना है।

 

दरअसल, पर्यवेक्षक मल्लिकार्जुन खड़गे ने रविवार को भूपेश बघेल को विधायक दल का नेता घोषित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि सिर्फ भूपेश बघेल ही शपथ लेंगे। इसके अलावा और कोई शपथ नहीं लेगा। वहीं शाम को भूपेश बघेल ने एक निजी चैनल में दो मंत्रियों के शपथ लेने की बात कही है।

 

वीवीआईपी होंगे शामिल, दिखेगी विपक्ष की एकजुटता

शपथ ग्रहण समारोह में तमाम वीवीआईपी के साथ विपक्ष अपनी एकजुटता भी प्रदर्शित करेगा। समारोह में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू, कर्नाटक के मुख्यमंत्री कुमार स्वामी और तेजस्वी यादव शामिल होंगे।

 

इसके साथ ही यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी के भी आने की संभावना है। कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव बीके हरिप्रसाद, प्रवक्ता रागिनी नायक, सांसद अखिलेश सिंह, विधायक अश्वनी कोटवाल, मीडिया समन्वयक राधिका खेरा,  ओडिशा पीसीसी अध्यक्ष निरंजन पट्नायक, पूर्व विधायक गोवर्धन दास भी आएंगे।

 

तीन स्तर का होगा मंच, 50 हजार लोगों के बैठने की व्यवस्था

साइंस कॉलेज मैदान में शपथ ग्रहण के लिए तीन स्तरीय मंच बनाया गया है। एक मंच पर राज्यपाल, नए सीएम-मंत्रियों को शपथ दिलाएंगी। दूसरे पर कांग्रेस के राष्ट्रीय नेता और राज्यों के सीएम बैठेंगे। तीसरे पर नए विधायक और पीसीसी पदाधिकारी होंगे। समारोह में 50 हजार लोगों के बैठने की व्यवस्था की गई है।

Leave a Reply