Chhattisgarh

नक्सली नेता रमन्ना की शवयात्रा, बंदूक टांगी महिला नक्सलियों ने दिया कंधा, लंबी बीमारी के कारण हो गई थी मौत

जगदलपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ समेत छह राज्यों में वांछित नक्सली रमन्ना की मौत की पुष्टि के बाद उसके अंतिम संस्कार की पहली फोटो सामने आई है। बताया जा रहा कि करीब 1.50 करोड़ के इनामी नक्सली की लंबी बीमारी के बाद 7 दिसंबर को मौत हो गई थी। छह राज्यों की पुलिस को नक्सली रमन्ना की तलाश थी।

जेल से भागने के बाद पुलिस के पास उसकी फोटो तक नहीं थी

कई दिन के संशय के बाद माओवादियों की ओर से ही 12 दिसंबर को उसकी मौत की पुष्टि की गई। 25 जून 1989 को जगदलपुर जेल से फरार होने के बाद पुलिस व खुफिया विभाग रमन्ना की तस्वीर तक नहीं ढूंढ़ सका था। सोमवार को मिली रमन्ना की अंत्येष्टि की तस्वीर में उसकी अर्थी को हथियारबंद महिला नक्सली कंधा देते दिख रही हैं। बताया जा रहा कि नक्सलियों की सेंट्रल कमेटी के सदस्य रमन्ना की मौत टाइफाइड से 7 दिसंबर को पालागुड़ा में हुई। दो दिनों बाद उसकी पत्नी सावित्री व बेटा रमेश बोटेलंका पहुंचे। इनके आने के बाद अंतिम संस्कार किया गया।

छह राज्यों की पुलिस को थी तलाश

रमन्ना पर डेढ़ करोड़ का इनाम था और वह छह राज्यों में वांछित था। छत्तीसगढ़ में उस पर 40 लाख का इनाम था। इसके अलावा झारखंड, महाराष्ट्र, ओडिशा, तेलंगाना और आंध्रप्रदेश में भी उस इनाम था। रमन्ना की तस्वीर लाने वाले को भी पुलिस लाखों रुपये का इनाम देने की बात कह चुकी थी।

Leave a Reply