बहुचर्चित नसबंदी कांड से हुई मौत का मामले में फरार डॉ. प्रमोद तिवारी की अग्रिम जमानत याचिका खारिज - गोंडवाना एक्सप्रेस
gondwana express logo

बहुचर्चित नसबंदी कांड से हुई मौत का मामले में फरार डॉ. प्रमोद तिवारी की अग्रिम जमानत याचिका खारिज

बलौदाबाजार (एजेंसी) | नसबंदी के दौरान महिला पूर्णिमा की मौत के मुख्य आरोपी पूर्व सीएमएचओ डॉ प्रमोद तिवारी की अग्रिम जमानत याचिका कोर्ट ने खारिज कर दी है। सूत्रों के मुताबिक कोर्ट ने यह कहकर याचिका खारिज कर दी कि आरोपी यदि निर्दोष है तो पहले समर्पण करे फिर विधिवत जमानत याचिका कि मांग करे l नसंबदी मामले में आरोपी नर्स डगेश्वरी यदु को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। इस घटना के बाद से सहयोगी आरोपी डॉक्टर फरार चल रहा है। जिसकी कोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका खारिज हो गई है।

ज्ञात हो कि नर्स डगेश्वरी यदु अपने निवास में अवैध तरीके से क्लीनिक का संचालन कर नसबंदी करा रही थी। हाल में एक महिला की नसबंदी के बाद तबीयत बिगड़ने लगी, आनन-फानन में उसे रायपुर रेफर किया गया जिससे महिला की मौत हो गई। इस घटना के बाद से नर्स डगेश्वरी यदु और डॉ. प्रमोद तिवारी फरार चल रहे थे। नर्स डगेश्वरी यदु को फिरोजाबाद से गिरफ्तार किया गया। उक्त नर्स यहां से नेपाल भागने के फिराक में थी जिसे पुलिस कि तत्परता से गिरफ्तार किया गया l

वहीं डॉक्टर प्रमोद तिवारी जिनका निवास सिटी कोतवाली के ठीक सामने है अब भी फरार है। पुलिस के द्वारा उक्त डॉक्टर के चंदादेवी अस्पताल में भी छानबीन की गई परिवार व रिश्तेदारों से लगातार पूछताछ जारी है पर अब तक कोई सफलता हासिल नहीं हुई है वही पुलिस का कहना है कि जल्द ही डॉक्टर को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जावेगा l

आसपास के स्थानीय लोगो द्वारा बताया जा रहा है कि डगेश्वरी यदु और डॉ. प्रमोद तिवारी साथ मिलकर लंबे समय से इस अवैध तरीके से इस नसबंदी जैसे कई प्रकार के ऑपरेशन करते आ रहे थे जिसे नर्स ने स्वयं पुलिस व मिडिया के सामने स्वीकारा हैl पूर्व में भी महिला नर्स डगेश्वरी यदु के विरुद्ध कई मामले दर्ज हो चुके है जिसमें वह जेल जा चुकी है। किंतु संबंधित नर्स में कोई सुधार नहीं आया l

Leave a Reply