Video: आदिवासी क्षेत्र डौंडी के सैकड़ों ग्रामीण शिक्षकों की मांग करने पहुंचे डीईओ कार्यालय, मांग पूरी नही होने पर तालेबंदी की दी चेतावनी - गोंडवाना एक्सप्रेस
gondwana express logo
Gondwana Express banner

Video: आदिवासी क्षेत्र डौंडी के सैकड़ों ग्रामीण शिक्षकों की मांग करने पहुंचे डीईओ कार्यालय, मांग पूरी नही होने पर तालेबंदी की दी चेतावनी

बालोद (एजेंसी) | जिले में कई स्कूल शिक्षकों की कमी से जूझ रहे हैं। कुछ स्कूलों की तो स्तिथि ऐसी है कि 50-50 बच्चों को पढ़ाने एक शिक्षक हैं। स्कूलों में शिक्षकों की कमी का मुख्य कारण यह भी है की अधिकांश शिक्षकों को शिक्षा विभाग ने ऑफिसों में अटैच कर रखा हुआ हैं। शिक्षकों की कमी के चलते बच्चों की पढ़ाई पर भी खासा असर पड़ रहा हैं।

शिक्षकों की मांग को लेकर आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र डौंडी ब्लॉक के 3 गावों के सैकड़ों ग्रामीणों में मंगलवार को जिला शिक्षा कार्यालय पहुचकर हल्ला बोला और जमकर नारेबाजी भी की। ग्राम फागुनदाह के प्रायमरी स्कूल, पूतरवाही के मिडिल स्कूल और केशोपुर के प्रायमरी स्कूल शिक्षकों की कमी से जूझ रहे हैं। जिससे बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही हैं।

उक्त तीनों गावों से शिक्षकों की मांग को लेकर सैकड़ों महिलाओं, पुरुषों व युवाओं ने डीईओ कार्यालय पहुच आवेदन सौपा साथ ही जल्द शिक्षकों की पूर्ति करने की बात कही हैं। ग्रामीणों ने चेतावनी भी दी हैं कि अगर शिक्षकों की मांग पूरी नही होती है तो स्कूलों में बच्चों को भेजना बंद कर स्कूल में तालेबंदी कर देंगे।

प्राथमिक शाला फागुनदाह के सहायक शिक्षक को न हटाया जाए

ग्राम पंचायत सिंगनवाही के आश्रित ग्राम फागुनदाह स्त्तिथ शासकीय प्राथमिक शाला में बच्चों की दर्ज संख्या 55 हैं और उन 55 बच्चों को पढ़ाने की जिम्मेदारी सिर्फ एक शिक्षिका पर हैं। शाला प्रबंधन समिति अध्यक्ष भारती साहू ने बताया कि शा. प्राथमिक शाला फागुनदाह में सहायक शिक्षक दुर्गाशंकर पाल को गुरुर विकासखण्ड के आश्रम अधीक्षक के पद पर संलग्नीकरण कर दिया गया हैं। वर्तमान में प्रथम सहायक शिक्षिका मीनाक्षी यादव जो कि सत्र 2017 से एकलव्य कन्या आदर्श आवासीय विद्यालय में कार्यरत हैं तथा वर्तमान स्तिथि में स्कूल में एक ही शिक्षिका कार्यरत हैं।

जिससे बच्चों की शिक्षा पर विपरीत प्रभाव पड़ रहा हैं। श्रीमती भारती साहू ने डीईओ से मांग की हैं कि सहायक शिक्षक दुर्गाशंकर पाल को आश्रम अधीक्षक पद से हटा यथावत शासकीय प्राथमिक स्कूल फागुनदाह में रखा जाए ताकि बच्चों की पढ़ाई प्रभावित न हो। शाला समिति अध्यक्ष श्रीमती भारती साहू ने स्कूल भवन में आई दरार और जर्जर स्तिथि को देखते हुए नए स्कूल भवन निर्माण की भी मांग डीईओ से की हैं।

गणित की शिक्षक की मांग व विवादित शिक्षिका को हटाने अड़े पूतरवाही के ग्रामीण

ग्राम पंचायत धोबनी के आश्रित ग्राम पुतरवाही स्त्तिथ शासकीय माध्यमिक शाला में गणित के शिक्षक की मांग एवं पदस्थ शिक्षिका श्रीमती संध्या सिंह चंदेल को हटाने सैकड़ों ग्रामीणों ने डीईओ को आवेदन सौप मांग की हैं तथा मांग पूरा नही किये जाने पर स्कूल में बच्चों को नही भेजने तथा तालेबंदी की चेतावनी दी हैं।

ग्रामीणों में जानकारी देते हुए बताया कि गणित विषय का शिक्षक नही होने से बच्चों की सही ढंग से पढ़ाई नही हो रही हैं। डौंडी विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी को बार-बार अवगत कराए जाने के बाद सिर्फ आश्वासन ही मिला हैं। पर अब तक गणित के शिक्षक की मांग पूरी नही हो पाई हैं। साथ ही शिक्षिका श्रीमती संध्या सिंह चंदेल पर सरपँच और पालकों के द्वारा छात्र-छात्राओं को डस्टर से मारने का आरोप लगाया गया था। जिसकी जांच डौंडी विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी द्वारा कराई गई।

उक्त जांच में आरोप सत्य पाया गया कि शिक्षिका द्वारा छात्र-छात्राओं को डस्टर से मारा जाता है और साथ ही कक्षा में पढ़ाई के वक़्त शिक्षिका का सोना भी पाया गया हैं। इतना ही शिक्षिका श्रीमती संध्या सिंह चंदेल आए दिन मेडिकल अवकाश में भी रहती हैं। जिला शिक्षा कार्यालय पहुचे पालकों व ग्रामीणों ने डीईओ को आवदेन सौप मांग की हैं कि जल्द ही गणित के शिक्षक की व्यवस्था की जाए एवं शिक्षिका श्रीमती संध्या सिंह चंदेल को तत्काल हटाया जाए। पालकों और ग्रामीणों ने चेतावनी भी दी हैं कि अगर उक्त मांगे पूरी नही की जाती तो बच्चों को स्कूल भेजना बंद कर देंगे और स्कूल में तालेबंदी भी करेंगे।

केशोपुर के ग्रामीणों ने की शिक्षक के अनुपस्तिथ रहने की शिकायत

ग्राम केशोपुर के ग्रामीणों ने बताया कि प्राथमिक शाला केशोपुर में पदस्थ शिक्षक पुनीराम कश्यप स्कूल सत्र में 1 या 2 माह सिर्फ स्कूल आता है। उसके बाद स्कूल नही आता। जिसकी जानकारी डौंडी के बीईओ को शाला समिति द्वारा कई बार दी गई हैं। किंतु अब तक कोई भी कार्यवाही बीईओ द्वारा नही की गई है। शाला समिति अध्यक्ष महादेव ने बताया कि शिक्षक पुनीराम कश्यप के स्थान पर अन्य दूसरे शिक्षक की मांग जिला शिक्षा अधिकारी से की गई हैं।

“ग्राम फागुनदाह प्राथमिक स्कूल के शिक्षक दुर्गाशंकर पाल को अभी रिलीव नही किया गया है और न ही उसे रिलीव किया जाएगा, केशोपुर प्राथमिक स्कूल के शिक्षक पुनीराम कश्यप का विगत 7 माह के वेतन रोका गया है और आगे की कार्यवाही के लिए प्रतिवेदन बना जिला शिक्षा अधिकारी को लिखा गया हैं और मिडिल स्कूल पूतरवाही में गणित शिक्षक की भर्ती के लिए शासन को पत्र लिखा गया है व शिक्षिका श्रीमती संध्या सिंह चंदेल पर लगे आरोप जांच में सही पाए गए हैं उसपर भी कार्यवाही करने जिला शिक्षा को प्रतिवेदन बना लिखा गया हैं।”
आर.आर.ठाकुर, बीईओ, डौंडी

Leave a Reply