Gondwana Express, Author at गोंडवाना एक्सप्रेस
gondwana express logo

लेखक: Gondwana Express

रायपुर : पल्स पोलियो अभियान 2020 में प्रदेशभर के करीब 36 लाख बच्चों को पिलाई जाएगी दवा

रायपुर : पल्स पोलियो अभियान 2020 में प्रदेशभर के करीब 36 लाख बच्चों को पिलाई जाएगी दवा

india, special, छत्तीसगढ़
रायपुर। राष्ट्रीय सघन पल्स पोलियो कार्यक्रम के तहत 19 जनवरी को शून्य से पांच वर्ष तक के बच्चों को पोलियो की दवा पिलाई जाएगी। इसके लिए प्रदेश भर में 14 हजार 396 बूथ बनाए गए हैं। 19 जनवरी को पोलियो ड्रॉप पीने से छूट गए बच्चों को पल्स पोलियो अभियान के लिए गठित मोबाइल टीमें 20 और 21 जनवरी को घर-घर जाकर दवा पिलाएंगी। तीन दिवसीय इस व्यापक अभियान के लिए 28 हजार 792 टीमें गठित की गई हैं।  अभियान के दौरान प्रदेश के करीब 36 लाख बच्चों को पोलियो की दवा पिलाने का लक्ष्य है। 19 जनवरी को निर्धारित बूथों में एवं 20-21 जनवरी को मोबाइल टीमों द्वारा पिलाई जाएगी पोलियो ड्रॉप पल्स पोलियो अभियान को सफल बनाने स्वास्थ्य विभाग द्वारा सभी जिलों के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों, सिविल सर्जन तथा सह अधीक्षक जिला अस्पताल और जिला टीकाकरण अधिकारियों को व्यापक दिशा-निर्देश दिए गए हैं। उच्च जोखिम वाले,
इस वर्ष गणतंत्र दिवस के दिन राजपथ पर छत्तीसगढ़ झांकी के साथ ककसार नृत्य का भी प्रदर्शन करेगा

इस वर्ष गणतंत्र दिवस के दिन राजपथ पर छत्तीसगढ़ झांकी के साथ ककसार नृत्य का भी प्रदर्शन करेगा

entertainment, india, छत्तीसगढ़
रायपुर। गणतंत्र दिवस पर राजपथ पर विभिन्न राज्यों व विभागों की ओर से निकलने वाली झांकियों में इस बार छत्तीसगढ़ की झांकी नेतृत्व करेगी। शनिवार को राष्ट्रीय रंगशाला कैम्प में जनसंपर्क विभाग के आयुक्त श्री तारन प्रकाश सिन्हा ने झांकी निर्माण का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने सांस्कृतिक दलों से भी मुलाकात की और उनका उत्साह वर्धन किया छत्तीसगढ़ के दूरस्थ आदिवासी अंचल नारायणपुर से आए आदिवासी कलाकारों द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी जा रही है। गौरतलब है कि नई दिल्ली के राजपथ पर इस बार छत्तीसगढ़ की झांकी भी निकलेगी,  राजपथ पर निकलने वाली विभिन्न राज्यों की झाँकियों के क्रम में में छत्तीसगढ़ राज्य की झाँकी का क्रम सबसे पहले होगा। छत्तीसगढ़ की झाँकी जिसमें प्रदेश की कला और आभूषण का प्रदर्शन किया जाएगा। झांकी का निर्माण राष्ट्रीय रंगशाला कैम्प नई दिल्ली में किया जा रहा,
रायपुर : वनांचल नारायणपुर में होगा ’रन फॉर अबूझमाड -रन फॉर पीस’  मैराथन 2020 का आगाज

रायपुर : वनांचल नारायणपुर में होगा ’रन फॉर अबूझमाड -रन फॉर पीस’ मैराथन 2020 का आगाज

india, sports, छत्तीसगढ़
रायपुर। जिला प्रशासन नारायणपुर और भिलाई इस्पात संयंत्र के संयुक्त तत्वाधान में वनांचल नारायणपुर में आठ फरवरी को ’रन फॉर अबूझमाड़-रन फॉर पीस’ मैराथन 2020 का आयोजन किया जाएगा। राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित होने वाली इस मैराथन का उद्ेश्य विश्व स्तर पर अबूझमाड़ की शांति का पैगाम देना और यहां के सौन्दर्य और संस्कृति से अवगत कराना है। इसके लिए जिला प्रशासन नारायणपुर द्वारा प्रदेश और देश के लोगों से अबूझमाड़ पीस मैराथन 2020 में शामिल होने की अपील की गयी है। यह जिला प्रशासन का दूसरा आयोजन है। मैराथन का आयोजन सवेरे साढ़े छह बजे हाई स्कूल मैदान जिला मुख्यालय नारायणपुर से प्रारंभ होगा। विजेता को मिलेगा आकर्षक नकद पुरस्कार  इस हॉफ मैराथन की दूरी 21 किलोमीटर की होगी। जीतने वाले प्रतिभागियों को आकर्षक पुरस्कार दिया जाएगा। प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागी को एक लाख 21 हजार रूपए, दूसरे स्थान प
रायपुर : गंभीर कुपोषित डेढ़ किलो का पूर्वांश, अब सुपोषण अभियान से अब पूरी तरह हुआ कुपोषण से मुक्त

रायपुर : गंभीर कुपोषित डेढ़ किलो का पूर्वांश, अब सुपोषण अभियान से अब पूरी तरह हुआ कुपोषण से मुक्त

india, special, छत्तीसगढ़
रायपुर. बच्चे का सबसे ज्यादा ध्यान मां रखती है और मां के बिना बच्चे का पोषण बिखर जाता है। दुर्ग जिले के भिलाई-3 के बच्चे पूर्वांश के साथ भी इस अनहोनी की आशंका थी कि वो मां के बगैर कुपोषण का शिकार हो जाए। जन्म लेते ही इस बच्चे के ऊपर से माँ का साया उठ गया। जन्म के समय बच्चे का वजन मात्र डेढ़ किलो था जो गंभीर रूप से कुपोषण की श्रेणी में आता है। माँ का लालन पालन बड़ी माँ के द्वारा किया जा रहा था लेकिन माँ का दूध नहीं मिल पाने एवं पोषण संबंधी उपयुक्त जानकारी नहीं हो पाने की वजह से बड़ी मां अपनी पूरी जतन के बावजूद बच्चे के पोषण को ठीक करने की दिशा में कामयाब नहीं हो पा रही थी। बच्चे का जन्म पिछले साल एक मार्च को हुआ था। सुपोषण अभियान आरंभ होने के पश्चात भिलाई परिक्षेत्र की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सीमा जंघेल को इस बच्चे की जानकारी मिली। उन्होंने घर जाकर मुलाकात की और लगातार संपर्क में रहीं और प
रायपुर : UNICEF (यूनिसेफ) ने छत्तीसगढ़ सरकार के कुपोषण मुक्ति के प्रयासों को सराहा

रायपुर : UNICEF (यूनिसेफ) ने छत्तीसगढ़ सरकार के कुपोषण मुक्ति के प्रयासों को सराहा

india, special, छत्तीसगढ़
रायपुर. छत्तीसगढ़ में कुपोषण मुक्ति के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा दृढ़ संकल्पित होकर किए जा रहे समन्वित अभिनव प्रयासों को लोगों की लगातार सराहना और सहयोग मिल रहा है। आज एक बार फिर अंतर्राष्ट्रीय संस्था यूनिसेफ ने छत्तीसगढ़ में कुपोषण मुक्ति के लिए छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों की सराहना की। यूनिसेफ इंडिया ने अपने ट्वीटर हैण्डल से मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान के शुभारंभ की पोस्ट साझा करते हुए लिखा कि ’’खून की कमी और कुपोषण रोकने के लिए मलेरिया की रोकथाम बहुत जरूरी कदम है। जिससे बस्तर के आदिवासी इलाकों में महिलाओं और बच्चों की जान बचाई जा सकती है। यह छत्तीसगढ़ सरकार का महत्वपूर्ण कदम है।’’ इससे पहले भी यूनिसेफ ने अपने ट्वीटर और फेसबुक एकाउंट पर दंतेवाड़ा जिले के प्राथमिक शाला बेंगलुरू की फोटो साझा कर स्कूलों में चल रहे किचन गार्डन बागवानी की सराहना
रायपुर : विधानसभा के विशेष सत्र के पहले भूपेश कैबिनेट की सीएम निवास में अहम बैठक, अनुसूचित जाति और जनजाति पर चर्चा

रायपुर : विधानसभा के विशेष सत्र के पहले भूपेश कैबिनेट की सीएम निवास में अहम बैठक, अनुसूचित जाति और जनजाति पर चर्चा

politics, छत्तीसगढ़
रायपुर। राज्य सरकार ने 16 जनवरी को विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया है. विधानसभा के विशेष सत्र के पहले भूपेश कैबिनेट की सीएम निवास में अहम बैठक सम्पन्न हुई. कैबिनेट बैठक में राज्यपाल के अभिभाषण को मंजूरी देने के साथ ही 126 वें संविधान संशोधन को अनुसमर्थन देने के प्रस्ताव को भी मंजूरी दी गई.126 वें संविधान संशोधन के तहत केन्द्र सरकार ने अनुसूचित जाति और जनजाति को आरक्षण देने की सीमा को दस साल बढ़ाने का निर्णय लिया है. इसके तहत संसद के अलावा 50 फीसदी राज्यों का अनुसमर्थन हासिल करना अनिवार्य है. बैठक के बाद मंत्री रविंद्र चौबे और मंत्री मोहम्मद अकबर ने कहा कि केवल इन्हीं दो प्रस्ताव को मंजूरी देने के लिए  कैबिनेट की बैठक बुलाई गई थी. इन दो प्रस्तावों के अलावा किसी भी मुद्दे पर कैबिनेट में चर्चा नहीं हुई.
छत्तीसगढ़ : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेश की जनता को मकर संक्रांति, पोंगल और लोहड़ी की दी शुभकामनाएं

छत्तीसगढ़ : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेश की जनता को मकर संक्रांति, पोंगल और लोहड़ी की दी शुभकामनाएं

india, special, छत्तीसगढ़
छत्तीसगढ़। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जनता को मकर संक्रांति, पोंगल और लोहड़ी पर्व की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दी है। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर सभी लोगों के लिए सुख-समृद्धि की कामना की है। मुख्यमंत्री ने आज यहां जारी शुभकामना संदेश में कहा है कि सूर्य को अन्न धन का दाता और समस्त ऊर्जा का आधार माना गया है। भारत में सूर्य के दक्षिणायन से उत्तरायण होकर मकर रेखा की ओर जाने का स्वागत उमंग और उत्साह से किया जाता है। देश के विभिन्न क्षेत्रों में इसे मकर संक्रांति, पोंगल और लोहड़ी पर्व के नाम से मनाते है। मकर संक्रांति का यह त्यौहार ऋतु परिवर्तन का संदेश लेकर आता है। श्री बघेल ने कहा है कि यह पर्व देश, प्रदेश सहित सभी लोगों के जीवन में भी सुखद परिवर्तन लेकर आए। सूर्य को अन्न धन का दाता और समस्त ऊर्जा का आधार माना गया है। भारत में सूर्य के दक्षिणायन से उत्तरायण होकर मकर रेखा की ओर जाने का स्
छत्तीसगढ़ राज्य युवा महोत्सव 2020 में दिखी युवाओ की प्रतिभा और बढ़ते कल की झलक

छत्तीसगढ़ राज्य युवा महोत्सव 2020 में दिखी युवाओ की प्रतिभा और बढ़ते कल की झलक

special, sports, छत्तीसगढ़
रायपुर. राज्य स्तरीय युवा महोत्सव के दूसरे दिन आज यहां राजधानी रायपुर के पंडित दीनदयाल उपाध्याय ऑडिटोरियम में राज्य के युवाओं ने अपनी अद्भुत प्रतिभा का प्रदर्शन किया। युवाओं ने हिन्दुस्तानी शास्त्रीय नृत्य शैली में कत्थक, ओडिसी, कुचिपुड़ी, मणिपुरी, भरतनाट्टयम का शानदार प्रदर्शन किया। पौराणिक कथाओं के उम्दा प्रदर्शन को देखकर उपस्थित दर्शक रोमांचित हुए। कलाकारों के शास्त्रीय नृत्यों, गजब के ताल एवं तकनीक तथा अभिनय भाव मुद्रा, वेशभूषा और संगीत के साथ कदमचालन सहित कला की सभी खूबियां देखी गई। शास्त्रीय नृत्य कत्थक में बेमेतरा के बंटी खत्री, रायपुर की किरण साहू , रायगढ़ की रजनी परमार और गरियाबंद की बबीता के अच्छे प्रदर्शन से दर्शक केन्द्रित रहे, वहीं ओडिसी नृत्य में बेमेतरा, बिलासपुर, दंतेवाड़ा जशपुर, कांकेर, कोरिया, रायगढ़, राजनांदगांव और सरगुजा के युवा कलाकारों ने पौराणिक धार्मिक गाथाओं पर आधार
रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज साईंस कॉलेज में करेंगे राज्य स्तरीय युवा महोत्सव 2020 का समापन

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज साईंस कॉलेज में करेंगे राज्य स्तरीय युवा महोत्सव 2020 का समापन

india, sports, छत्तीसगढ़
रायपुर. राजधानी रायपुर के साईंस कॉलेज परिसर में आयोजित राज्य स्तरीय युवा महोत्सव कार्यक्रम का समापन मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के द्वारा 14 जनवरी को दोपहर 2 बजे किया जाएगा। समापन समारोह की अध्यक्षता विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत करेंगे। समापन समारोह में पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव, गृह मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू, कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, वन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर, उद्योग मंत्री श्री कवासी लखमा, नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती अनिला भेंड़िया, राजस्व मंत्री श्री जयसिंह अग्रवाल, ग्रामोद्योग मंत्री गुरू रूद्र कुमार, उच्च शिक्षा मंत्री श्री उमेश पटेल, संस्कृति मंत्री श्री अमरजीत भगत, विधानसभा उपाध्यक्ष श्री मनोज सिंह मंडावी, लोकसभा सांसद श्रीमती ज्योत्सना महंत, राज्यसभा
रायपुर : राज्य स्तरीय युवा महोत्सव में मुख्यमंत्री बोले – ‘खेलबो-जीतबो-गढ़वो नवा छत्तीसगढ़’, गेड़ी चढ़े, रस्साकशी करी, NDTV के कार्यक्रम में भौंरा भी चलाया

रायपुर : राज्य स्तरीय युवा महोत्सव में मुख्यमंत्री बोले – ‘खेलबो-जीतबो-गढ़वो नवा छत्तीसगढ़’, गेड़ी चढ़े, रस्साकशी करी, NDTV के कार्यक्रम में भौंरा भी चलाया

entertainment, sports, video, छत्तीसगढ़
रायपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने युवा महोत्सव को संबोधित करते हुए कहा कि आज का दिन छत्तीसगढ़ के लिए विशेष महत्व का है, क्योंकि आज स्वामी विवेकानंद जी का जन्मदिन है। उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानंद जी का छत्तीसगढ़ के साथ गहरा संबंध रहा है । स्वामी जी ने अपने जीवन के महत्वपूर्ण 2 वर्ष छत्तीसगढ़ में बिताए थे । उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानंद ने बूढ़ापारा स्थित जिस डे भवन में 2 वर्षों तक वे ठहरे थे, उस भवन को स्वामी विवेकानंद स्मारक के रूप में विकसित किया जाएगा। इसके बदले में डे चेरिटेबल ट्रस्ट को मलेरिया क्षय रोग अस्पताल कालीबाड़ी में भूमि प्रदान करने संबंधी दस्तावेज ट्रस्ट को सौपी गई। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वामी विवेकानंद जी के विचारों, आदर्शो, और सिद्धान्तों तथा छत्तीसगढ़ से उनके संबंधों को पुनर्जीवित करने का काम स्वामी आत्मानंद जी ने किया। उन्होंने रायपुर में रामकृष्ण परमहंस आश्रम की स्