Chhattisgarh Video

कार्रवाई की मांग को लेकर IAS के समर्थन में उतरे जिलेभर के अफसर, जिपं सदस्य सैंडल लेकर दौड़ी थी मारने

छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले में जिला पंचायत सदस्य के सैंडलकांड ने माहौल पूरी तरह से गर्म कर दिया है। अब जिलेभर के अधिकारियों ने महिला जिला पंचायत सदस्य के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है और उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। इसको लेकर अधिकारियों ने शुक्रवार को कलेक्टर और एसपी से भी मुलाकात की है। गुरुवार को लैला ननकू भिखारी आईएएस अधिकारी और जिला पंचायत के सीईओ रोहित व्यास को सैंडल लेकर मारने दौड़ गईं थी। इस घटना के बाद से ही अधिकारियों में गुस्सा है।

इन अधिकारियों में डिप्टी कलेक्टर,तहसीलदार,जनपद सीईओ और नगर पालिका के अधिकारी शामिल हैं। ये अधिकारी मामले की निष्पक्ष जांच की मांग कर रहे हैं। सभी ने जिला पंचायत सीईओ रोहित व्यास के समर्थन में कलेक्टर और एसपी को ज्ञापन सौंपा। अधिकारियों ने साफ कहा है कि यदि कार्रवाई नहीं होती तो हम उग्र आंदोलन करेंगे। सोमवार से ये अधिकारी आंदोलन भी शुरू करने वाले हैं। इस घटना के बाद से IAS एसोसिएशन में भी गुस्सा है।

ये है मामला
गुरुवार को मुंगेली जिला पंचायत सीईओ रोहित व्यास के साथ महिला जिला पंचायत सदस्य लैला ननकू भिखारी का विवाद हो गया था। इस दौरान लैला IAS अफसर रोहित व्यास को सैंडल से मारने के लिए दौड़ पड़ी थी। जिसका वीडियो भी सोशल मीडिया में वायरल हुआ था। पूरे मामले पर दोनों पक्ष ने पुलिस में शिकायत कर दी है। अब इस मामले को लेकर अधिकारी वर्ग अपने अधिकारी के समर्थन में सामने आया है।

जातिगत टिप्पणी का आरोप लगाया
दरअसल, जिला पंचायत सदस्य लैला ननकू को क्षेत्र के विकास कार्य के लिए कुछ राशि स्वीकृत करवानी थी। लैला का दावा है कि अफसर जिला पंचायत सीईओ रोहित व्यास उसे अक्सर टाल दिया करते थे। प्रभारी मंत्री से मिलने को कह दिया करते थे।

गुरुवार को जब मिलने पहुंची थी, तो अफसर ने बहस की। कहा तुम इस जाति की हो इस वजह से तुम लोग नहीं सुधर सकते। इतना सुनकर लैला ने सैंडल उतारकर हाथ में ले लिया। अफसर ने जब दूर हटकर पुलिस को फोन किया। महिला ने इस पर कहा बुला ले पुलिस को देखती हूं।

Leave a Reply