सबके कल्याण की योजनाओं के साथ भाजपा ने ‘नवा छत्तीसगढ़’ का संकल्प जताया

रायपुर (एजेंसी) | भारतीय जनता पार्टी ने अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के हाथों मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की मौजूदगी में आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर ‘नवा छत्तीसगढ़ संकल्प पत्र- 2018 जारी कर किसानों, आदिवासियों समेत सभी वर्ग के सर्वतोमुखी कल्याण और उन्नति का संकल्प व्यक्त किया है।




पार्टी ने छत्तीसगढ़ को नक्सलवाद से मुक्त प्रदेश बनाने का वादा किया है। शनिवार को राजधानी के एक निजी होटल में भाजपा अध्यक्ष श्री शाह ने यह संकल्प पत्र जारी किया।

‘नवा छत्तीसगढ़’ के संकल्प के साथ ये है भाजपा के संकल्प पत्र के मुख्य बिंदु:

  • राष्ट्रीय अध्यक्ष शाह ने भाजपा का संकल्प पत्र लोकार्पित किया।
  • किसानों, अजा-जजा सहित सभी वर्गों के लिए कार्यक्रम।
  • महिलाओं-स्वसहायता समूहों को व्यापार के लिए ब्याजमुक्त ऋण।
  • युवकों को बेरोजगारी और पेंशनर्स को चिकित्सा भत्ता।
  • दलहन-तिलहन खरीदने, वनोपज का समर्थन मूल्य बढ़ाने का वादा।
  • अब छात्र-छात्राओं को साइकिल, मेधावी  छात्राओं को देंगे स्कूटी।
  • नोनी सुरक्षा राशि करेंगे दुगुनी और स्वास्थ्य सेवा करेंगे बेहतर।
  • हिंदी-छत्तीसगढ़ी भाषा के विकास के लिए खोलेंगे विश्वविद्यालय।
  • पत्रकार व फोटो पत्रकार कल्याण बोर्ड, फिल्म सिटी बनाएंगे।

कांग्रेस का किसानो के लिए घोषणा महज राजनीतिक लाभ लेने के लिए है: रमन सिंह

इस अवसर पर मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने अपने संक्षिप्त उद्बोधन में संकल्प पत्र  के बिन्दुओं पर चर्चा की।उन्होंने कांग्रेस द्वारा 25 सौ रुपए प्रति क्विंटल धान समर्थन मूल्य की घोषणा पर कटाक्ष कर कहा कि जब बढ़े हुए समर्थन मूल्य और बोनस के साथ राज्य सरकार किसानों को 2050 और 2070 रुपए प्रति क्विंटल धान का मूल्य दे रही है, तब कांग्रेस यह घोषणा महज राजनीतिक लाभ लेने के लिए कर रही है। कांग्रेस को यदि किसानों की सचमुच चिंता होती तो वह स्वामीनाथन कमेटी की रिपोर्ट पर ध्यान देती लेकिन स्वामीनाथन रिपोर्ट को अनदेखा कर कांग्रेस ने किसानों का शोषण  व राजनीतिक इस्तेमाल करने का शर्मनाक कृत्य किया है।

राज्य-निर्माता श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी के सपनों को साकार कर सकेंगे: अमित शाह 

भाजपा अध्यक्ष श्री शाह द्वारा जारी भाजपा के इस संकल्प पत्र में सन् 2003 और 15 वर्षों के अपने शासनकाल के सन् 2018 के आंकड़ों का तुलनात्मक ब्योरा पेश कर अपनी उपलब्धियां गिनाई गई हैं। भाजपा ने कहा है कि इन उपलब्धियों से प्रदेश के विकास में आई गति को हम और बढ़ाना चाहते हैं। सन् 2025 में छत्तीसगढ़ प्रदेश के रजत जयंती वर्ष तक नवा छत्तीसगढ़ बनाने का संकल्प व्यक्त कर पार्टी ने छत्तीसगढ़ को समृद्ध, खुशहाल, सशक्त, स्मार्ट और हरित बनाकर एक विकसित प्रदेश के निर्माण का स्वप्न संजोया है, और सबके सम्मिलित प्रयासों की जरूरत बताते हुए कहा गया है कि ऐसा करके हम सब राज्य-निर्माता श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी के सपनों को साकार कर सकेंगे।

भाजपा के जारी संकल्प पत्र में किसानों के लिए कई क्रांतिकारी संकल्पों की चर्चा की गई है। 60 वर्ष से अधिक आयु के लघु एवं सीमांत किसानों व भूमिहीन कृषि मजदूरों को एक हजार रुपए प्रतिमाह पेंशन देने का वादा किया गया है। अगले पांच वर्षों में किसानों को दो लाख नए पम्प कनेक्शन दिए जाएंगे वहीं प्रदेश में छोटे बांधों का निर्माण व स्टापडैम का गहरीकरण कर सिंचित क्षेत्र का रकबा 50 प्रतिशत करने का संकल्प व्यक्त किया गया है। छत्तीसगढ़ में जैविक खेती के विकास के तेज प्रयासों पर बल देकर दहलन-तिलहन की समर्थन मूल्य पर खरीदी का भी वादा किया गया है।  लघु वनोपजों का समर्थन मूल्य डेढ़ गुना बढ़ाने का भी वादा भाजपा ने किया है। वनोपज खरीदी-बिक्री के लिए सर्वसुविधायुक्त हाट-बाजारों की स्थापना भी की जाएगी।




भाजपा के संकल्प पत्र में  छत्तीसगढ़ को नक्सलवाद से मुक्त प्रदेश बनाने का वादा उल्लेखनीय है। इसके साथ ही पार्टी ने अजा-जजा बच्चों के लिए ‘गुरु घासीदास’ एवं ‘अमर शहीद गुंडाधुर’  छात्रवृत्ति योजना लाने की बात भी कही है। निराश्रित पेंशन राशि में वृद्धि के साथ ही सन 2022 तक सभी ग्रामीण एवं शहरी गरीब परिवारों के लिए पक्का आवास बनाने का संकल्प व्यक्त किया गया है। इसी तरह नोनी सुरक्षा में दी जाने वाली राशि दुगुनी कर दो लाख रुपए की जाएगी। सरस्वती साइकिल योजना के तहत अब पार्टी ने कक्षा नवमी में प्रवेश लेने वाले समस्त छात्र-छात्राओ को नि:शुल्क साइकिल देने के साथ ही अब 12वीं तक के सभी छात्र-छात्राओं को नि:शुल्क गणवेश और पाठ्य पुस्तकें देने का वादा भी किया है। सबसे महत्वपूर्ण संकल्प पार्टी ने यह व्यक्त किया है कि अब मेधावी  छात्राओं को यातायात में सुविधा देने हेतु नि:शुल्क स्कूटी दी जाएगी।

हिंदी और छत्तीसगढ़ी भाषा के विकास के लिए प्रदेश में नया विश्वविद्यालय स्थापित होगा

भाजपा के संकल्प पत्र में महिला सशक्तिकरण की योजनाओं पर भी जोर दिया गया है। महिलाओं को व्यापार हेतु दो लाख रुपए और स्व-सहायता समूहों को पांच लाख रुपए तक का ब्याज मुक्त ऋण देने का वादा करते हुए पार्टी ने युवाओं को रोजगार सुनिश्चित करने कौशल उन्नयन भत्ता (बेरोजगारी भत्ता) देने की बात भी कही है। अंबिकापुर और जगदलपुर में सुपर स्पेशलिटी अस्पताल बनाने के साथ ही सभी जिला अस्पतालों को मल्टी स्पेशलिटी बनाने का वादा इस संकल्प पत्र का महत्वपूर्ण बिंदु है। दो सौ करोड़ रुपए के ‘उद्यमिता मास्टर फंड’ की स्थापना भी की जाएगी। पार्टी ने यह संकल्प भी व्यक्त किया है कि हिंदी और छत्तीसगढ़ी भाषा के विकास के लिए प्रदेश में नया विश्वविद्यालय स्थापित होगा। सभी पेंशनर्स को एक हजार रुपए प्रतिमाह चिकित्सा भत्ता देने के साथ ही गरीब परिवारों के लिए पांच लाख रुपए एवं अन्य परिवारों के लिए एक लाख रुपए तक का स्वास्थ्य बीमा कराने का वादा भी संकल्प पत्र में कहा गया है।

पत्रकार व फोटो पत्रकार कल्याण बोर्ड, फिल्म सिटी

मीडिया क्षेत्र के लिए भी संकल्प व्यक्त कर भाजपा ने पत्रकार और फोटो पत्रकार कल्याण बोर्ड के गठन का वादा किया है। एडवोकेट प्रोटेक्शन एक्ट लागू करने का वादा भी पार्टी ने किया है। सभी ब्लॉक मुख्यालयों में शासकीय कर्मचारी कॉलोनी बनाने के साथ ही नगरीय क्षेत्रों में स्थायी एवं नजूल पट्टों के नियमितीकरण व नवीनीकरण की घोषणा भी की गई है। छोटे व्यापारियों के लिए पांच लाख रुपए तक के व्यापार बीमा का वादा इस संकल्प पत्र का विशेष बिंदु तो है ही, पुलिस की सेवा-शर्तों संबंधी शिकायतों के त्वरित समाधान हेतु एक विशेष व्यवस्था बनाने का वादा भी एक उल्लेखनीय बिंदु है। रायपुर, अटल नगर, भिलाई, दुर्ग और राजनांदगांव समूह का स्टेट कैपिटल रीजन के रूप में विकास करने की घोषणा भी संकल्प पत्र में की गई है। छत्तीसगढ़ में फिल्म सिटी निर्माण और विश्व पटल पर एक प्रसिद्ध पर्यटन स्थल के रूप में छत्तीसगढ़ के विकास का इरादा भी भाजपा ने संजोया है। इसी के साथ पूरे विश्व में बसे हुए छत्तीसगढ़वासियों को एक पटल पर लाने हेतु माइक्रो ब्लॉगिंग साइट भी बनाने का वादा संकल्प पत्र में किया गया है।



Leave a Reply